वैलनेस
स्टोर

एक चीज जो आपको इस मौसम में बिल्कुल नहीं खानी चाहिए, जानिए क्या है वह

Published on:6 August 2021, 14:00pm IST
हम कई बार अधिक खाना बनने पर उसे फ्रीज में स्टोर कर के रख लेते हैं और फिर उसे अगले एक-दो दिन तक गर्म करके प्रयोग करते रहते हैं। मगर बरसात के मौसम में ये आदत आपके लिए जोखिम भरी हो सकती है।
मोनिका अग्रवाल
  • 88 Likes
Aluminium foil me store kiya gaya khana apke liye nuksandayak ho sakta hai
एल्यूमीनियम फॉइल में स्टोर किया गया खाना आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

मानसून अपने साथ ढेर सारी समस्याएं लेकर आता है। क्या इन दिनों आपका पेट भी अकसर गड़बड़ रहता है? क्या आप भी अपच, खट्टे डकार और लूज मोशन जैसी समस्याओं का आए दिन सामना करती हैं? तो एक बार अपने खाने के रुटीन पर नजर डालिए। क्योंकि बरसात के दिनों (Rainy Season) में आपकी खाने की टेबल पर मौजूद बस यह एक चीज सारी समस्याओं की जड़ है। जानते हैं वह क्या है? बासी खाना (Stale food)। जी हां, रात का बचा हुआ (Left over foods) या सुबह का बना हुआ खाना देर रात तक खाना आपकी सेहत के लिए कई समस्याएं खड़ी कर सकता है। आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से।

बचा हुआ खाना और मानसून (Stale food in Monsoon)

क्या बारिश के मौसम में खाना ज्यादा बनने पर आप उसे अगले दिन भी खा लेती हैं? अगर आपका जवाब हां है, तो अगले दिन आपका पेट भी अवश्य खराब होता होगा। इसके लिए जिम्मेदार और कोई नहीं, बल्कि आप खुद ही हैं।

basi khana apki sehat kharab kar sakta hai
खाना कितना भी टेस्टी हो, उसे अगले मील के लिए बचाकर न रखें। चित्र : शटरस्टॉक

इस मौसम में बासी खाना हमारे शरीर को बहुत प्रभावित करता है। खास तौर पर हमारे पेट और पाचन तंत्र को। इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए कि केवल जितना खाया जा सके उतना ही खाना बनाएं। आज हम जानेंगे कि क्यों आपको बारिश के मौसम में बासी खाना नहीं खाना चाहिए। आइए पता करते हैं इसके कुछ हानिकारक प्रभाव।

यहां हैं बासी खाना खाने के नुकसान 

1 खाने की न्यूट्रीशनल वैल्यू हो जाती है खत्म 

कोलंबिया एशिया अस्पताल में आहार विशेषज्ञ, डॉ.अदिति शर्मा के मुताबिक आपको इस मौसम में 4 घंटे से अधिक समय तक पका हुआ खाना नहीं खाना चाहिए। इसके साथ ही अगर आप खाने के साथ सलाद लेती हैं, तो उसे भी केवल खाने से पहले ही काट कर रखें। पहले से काट कर रखा गया सलाद भी सेहत के लिए नुकसानदेह है। 

कई बार हम सलाद में नींबू या नमक जैसी चीजें भी एड कर देते हैं। जिससे वह अधिक समय तक रहने पर एसिडिक हो सकता है। स्वाद के साथ-साथ खाने और सलाद की सारी न्यूट्रीशनल वैल्यू भी खत्म हो जाती है।

2 फूड प्वाइजनिंग का हो सकता है खतरा 

मानसून में आपको फूड प्वाइजनिंग होने का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है। अगर आप बासी खाना खाती हैं, तो इससे आपके शरीर में बहुत सारे टॉक्सिंस जमा हो जाते हैं। जिससे आपका पाचन तंत्र बहुत अस्वस्थ हो जाता है। इसके लक्षण आपको बासी खाने के कुछ ही समय बाद देखने को मिल सकते हैं।

Basi khana food poisoning ka karan ban sakta hai
बरसात में फूड प्वाइजनिंग का खतरा बढ़ जाता है। चित्र: शटरस्स्टॉक

बासी खाना खाने के कारण आपके खाने में बैक्टेरिया की संख्या भी अधिक हो जाती है। इसलिए इस समय अधिक देर से बने हुए खाने को न खाएं। नहीं तो आप बाद में पेट खराब होने का कारण बाहर के खाने को बताएंगी।

3 डायरिया होने के चांस भी अधिक बढ़ जाते हैं 

मानसून के सीजन में गर्मी थोड़ी कम हो जाती है। इसलिए बहुत से लोग इस मौसम में बहुत कम पानी पीना शुरू कर देते हैं और खुद को हाइड्रेट नहीं रखते हैं। अगर आप बासी खाना खा लेती हैं, तो इससे आपका बीमार होने का रिस्क और अधिक बढ़ जाता है।

अगर आपकी इम्यूनिटी कमजोर है या आपके घर में बच्चे और बूढ़े हैं, तो डायरिया होने के अधिक चांस होते हैं। इस मौसम में आपके शरीर से काफी फ्लूइड लॉस भी होता है।

यह भी पढ़ें- मां बनना चाहती हैं, तो फर्टिलिटी मसाज बढ़ा सकती है आपकी प्रजनन क्षमता

4 बासी डेयरी प्रोडक्ट्स भी हो सकते हैं खतरनाक 

बहुत से घरों में महिलाएं दूध और दही का प्रयोग भी काफी दिनों तक या अगले दो दिन तक करती हैं, लेकिन आपको जान लेना चाहिए कि बासी डेयरी उत्पाद भी इस मौसम में सुरक्षित नहीं हैं। आप सर्दियों के दौरान दूध या डेयरी उत्पादों को कई दिन तक प्रयोग कर सकती हैं। मगर मानसून में इनका जल्दी खराब होने का रिस्क बढ़ जाता है। आपको पैकेट खरीदने से पहले भी एक बार एक्सपायरी डेट को चेक कर लेना चाहिए।

तो यह थे बासी खाना खाने के कुछ नुकसान, जो आपको मानसून में देखने को मिल सकते हैं। इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए कि खाना उतना ही बनाएं, जितनी जरूरत है। बचा हुआ खाना गर्म करके खाना आपकी सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है। 

मोनिका अग्रवाल मोनिका अग्रवाल

स्वतंत्र लेखिका-पत्रकार मोनिका अग्रवाल ब्यूटी, फिटनेस और स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर लगातार काम कर रहीं हैं। अपने खाली समय में बैडमिंटन खेलना और साहित्य पढ़ना पसंद करती हैं।