आपकी सेहत के लिए कमाल कर सकते हैं मटर के ये छोटे दाने, यहां जानें इसकी 2 लाजवाब रेसिपी

इस सर्दी हरे मटर की सब्जी से हटकर इन 2 तरह की रेसिपी के साथ उठायें इसके महत्वपूर्ण पोषक तत्वों के लाभ।
matar ghughni recipe
चटपटे हरे मटर स्‍नैक्‍स सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं. चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Updated: 16 Dec 2022, 02:12 pm IST
  • 129

सीजनल सब्जियों में मटर की लोकप्रियता काफी ज्यादा है। यह बच्चों से लेकर बड़ो का मनपसंदीदा होता है। वहीं सर्दियों में लोग इसे अलग अलग तरीके से अपनी डाइट में शामिल करते हैं। हालांकि, बाजार में मटर साल भर उपलब्ध होता है परन्तु इसके फ्रोजेन होने और इसमें प्रिजर्वेटिव मिले होने के कारण इसके पोषक तत्वों की गुणवत्ता कही न कही कम हो जाती है। ऐसे में इसके फायदे का लुफ्त उठाने के लिए इस सर्दी ताजे मटर को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। आवश्यक पोषक तत्वों से भरूर मटर के छोटे दाने ब्लड प्रेशर से लेकर डायबिटीज और दिल की सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होते हैं। इसकी सबसे खास बात यह है की इस हरी सब्जी को बच्चे भी काफी चाव से खाते हैं।

तो इन सभी चीजों को ध्यान में रखते हुए और मटर के इस सीजन में आज हम आपके लिए लेकर आए हैं मटर की दो आसान और लाजबाब रेसिपी। आपने मटर को सब्जी एवं करी बनाने में जरूर इस्तेमाल किया होगा परन्तु आज हम मटर से बनाएंगे कुछ नया। तो चलिए जानते हैं किस तरह तैयार करनी है मटर से बनी यह 2 हेल्दी रेसिपी (green peas recipe)।

यहां जाने शाम के नाश्ते के लिए किस तरह तैयार करना है चटपटा मटर

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए (4 लोगो के लिए)

ताजे हरे मटर – 300 ग्राम
घी – 3 चम्मच
हरी मिर्च – 2 (बारीक कटी हुई)
पुदीना की पत्तियां – 20 से 25 (बारीक कटी हुई)
आमचूर पाउडर – 1 चम्मच
रोस्टेड जीरा पाउडर – 1 चम्मच
अदरक का पेस्ट – 1 चम्मच
लहसुन की कलियां – 8 से 10 (छोटे टुकड़ों में कटी हुई)
काली मिर्च (दरदरी पिसी हुई)
नमक (स्वादानुसार)
चीनी – 1/4 चम्मच
नींबू का रस – 2 चम्मच

Hari matar khane ke hote hai kayi swasthya labh
हरी मटर खाने के होते है कई स्वास्थ्य लाभ। चित्र : शटरस्टॉक

इस तरह तैयार करें

सबसे पहले पैन को माध्यम आंच पर गर्म होने के लिए चढ़ा दें। फिर इसमें घी डालें।

घी गर्म हो जाने पर अदरक का पेस्ट, हरी मिर्च और लहसुन की कलियां डालकर 1 मिनट तक अच्छी तरह भुने।

फिर पैन में ताजे हरे मटर को डाल दें और 3 से 4 मिनट तक भुने।

अब काली मिर्च, स्वादानुसार नमक और चीनी डाल दें और इसे 2 मिनट तक भुने।

फिर गैस की आंच धीमी कर दें और इसमें आमचूर पाउडर, रोस्टेड जीरा पाउडर डालें और सभी को साथ में 1 मिनट तक भुने।

अब गैस बंद कर दें, नींबू का रस और पुदीना की पत्तियां डालकर अच्छी तरह मिला लें। फिर ऊपर से पुदीना की पत्तियों से गार्निश करें और गर्मागर्म सर्व करें।

स्वाद और पोषक तत्वों से भरपूर यह स्नैक्स आपके शाम को हेल्दी और एनर्जेटिक बना देगा।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

यहां है हरे मटर के रायते की लाजवाब रेसिपी

इसे तैयार करने के लिए आपको चाहिए (4 लोगो के लिए)

ताजे हरे मटर – 250 ग्राम
दही – 2 कप
धनिया की पत्तियां – 4 चम्मच (बारीक़ कटी हुई)
कला नमक – स्वादानुसार
हरी मिर्च – 2 (बारीक़ कटी हुई)
काली मिर्च (दरदरी पीसी हुई)
रोस्टेड जीरा पाउडर
जीरा
घी

janiye matar ki heldy recipe
जानिए मटर की हेल्दी रेसिपी। चित्र : शटरस्टॉक

इस तरह तैयार करें

सबसे पहले हरे मटर को उबाल लें और इसे ठंडा होने के लिए रख दें।

अब दही में ठंडे किये हुए हरे मटर, धनिया की पत्तियां, रोस्टेड जीरा पाउडर और नमक डालकर सभी को अच्छी तरह मिलाएं।

अब एक पैन में जरा सी घी डाल कर उसे गर्म करें। अब घी में जीरा, हरी मिर्च, काली मिर्च पाउडर डालें और 15 सेकंड बाद इसे दही के मिश्रण में डाल दें।

इसे पुलाव रोटी बिरयानी और अलग अलग प्रकार के व्यंजनों के साथ सर्व कर सकती हैं।

यहां जाने क्यों खास है मटर

नेशनल लिब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक देता के अनुसार हरे मटर में विटामिन डी, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन बी 6, राइबोफ्लेविन, इत्यादि की भरपूर मात्रा मौजूद होती है। वहीं यह एंटी ऑक्सीडेंट की तरह काम करता है और शरीर के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होता है (green peas benefits)। न्यूट्रिशन डेटा के अनुसार हरे मटर में कई महत्वपूर्ण मिनरल्स और विटामिंस पाए जाते हैं। वहीं यह आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम, कैल्शियम, सोडियम, कॉपर, सेलेनियम, फ्लोराइड और जिंक का भी एक बेहतरीन स्रोत है।

daily diet me hari matar
पाचन को मजबूत बनाने के लिए प्रभावी माना जाता है। चित्र: शटरस्टॉक

सेहत के लिए कमाल के हैं मटर के छोटे दाने

पब मेड सेंट्रल द्वारा मटर को लेकर प्रकाशित डेटा के अनुसार मटर में ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है ऐसे में यह ब्लड शुगर लेवल को संतुलित रखने में मददगार हो सकता है। इसके साथ ही इसमें फाइबर और प्रोटीन मौजूद होता है, जो डायबिटीज के मरीजों के लिए जरुरी है। साथ ही मटर मौजूद फाइबर पाचन संबंधी समस्या में कारगर होता है। शरीर में फाइबर की पर्याप्त मात्रा आंतों में अच्छे बैक्टीरिया की संख्या को बढ़ा देती हैं जिस वजह से पेट साफ़ और स्वस्थ रहता है।

हरे मटर आंखों की रोशनी को लंबे समय तक बनाए रखते हैं। वहीं इसमें कैरोटेनॉइड्स और ल्यूटिन मौजूद होते हैं, यह बढ़ती उम्र के साथ होने वाले मस्क्यूलर डिग्रेडेशन और कमजोर दृष्टि की संभावना को कम कर देते हैं। साथ ही हरे मटर में मौजूद पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम दिल से जुडी समस्यायों में काफी प्रभावशाली होते हैं। वहीं एंटीऑक्सीडेंट हृदय को जोखिमों से बचाता है और इसे हेल्दी रहने में मदद करता है।

यह भी पढ़ें : केवल स्वाद ही नहीं सेहत के लिए भी फायदेमंद है इमली, यहां जाने इससे जुड़े कुछ महत्वपूर्ण फैक्ट

  • 129
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख