फॉलो
वैलनेस
स्टोर

वेट लॉस से लेकर तनाव कम करने तक, यहां हैं सब्‍जा सीड्स के सेवन के 6 फायदे

Updated on: 10 December 2020, 12:15pm IST
अगर आप वजन कम करने के लिए कई उपायों को आजमाकर थक चुकी हैं, तो अब सब्जा के बीज को आजमाने का समय है।
विदुषी शुक्‍ला
  • 74 Likes
सब्‍जा सीड्स को अपने आहार में शामिल कर आप ढेर सारे लाभ ले सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

सब्जा बीज एक ऐसा बीज है जो न्यूट्रिशन का पावर हाउस है और इम्युनिटी बूस्टिंग के गुणों से भरा है। चिया बीज की तरह दिखने वाले इस बीज को अंग्रेजी में तकमरिया सीड्स या बेसिल सीड्स (Basil seeds) भी कहते हैं। विशेष रूप से पेय पदार्थों और मिठाइयों में शामिल किए जाने वाले इन सब्जा के बीजों को आप अपनी वेट लॉस डाइट में भी शामिल कर सकते हैं।

प्रोटीन, फाइबर, विटामिन-ए, विटामिन-के, कार्बोहाइड्रेट, ओमेगा-3 फैटी एसिड, पाचक एंजाइम और कई मिनरल्स मौजूद होने की वजह से सब्जा बीज के अनगिनत लाभ हैं। इसकी तासीर ठंडी होती है इसलिए वात दोष से होने वाले रोगों के उपचार में ये बीज उपयोगी होते हैं।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

सब्जा बीजों से अधिकतम लाभ पाने के लिए इन्हें हमेशा पानी में भिगोकर ही उपयोग करें। सब्जा के बीजों में कैलोरी की मात्रा बहुत ही कम होती है। एक टेबल स्पून बेसिल सीड्स में लगभग दो ग्राम कार्बोहाइड्रेट, पांच ग्राम फैट्स और पांच ग्राम फाइबर पाया जाता है।

इसके अलावा इसमें भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, मिनरल्स, मैग्नीशियम, आयरन, फैटी एसिड्स, पोटैशियम, फॉलिक एसिड आदि पोषक तत्व भी पाए जाते हैं।

हम आपको बताते हैं कैसे आप इन गुणकारी बीजों का लाभ उठा सकती हैं।

1. वजन कम करने में मददगार हैं सब्‍जा सीड्स

वजन कम करने के लिए आपको मुख्यतः दो ही चीजों का ख्याल रखना होता है- डाइट में कार्बोहाइड्रेट कम हो और फाइबर ज्यादा हो। सब्जा के बीज आपकी ये दोनों ही जरूरतें पूरी करते हैं। ये बीज आपके पेट को लम्बे समय तक भरते हैं और कैलोरी में कम होते हैं।

अगर आप वेट लॉस करना चाहती हैं, तो सब्‍जा सीड्स को अपनी डाइट में शामिल करें। चित्र : शटरस्‍टॉक
अगर आप वेट लॉस करना चाहती हैं, तो सब्‍जा सीड्स को अपनी डाइट में शामिल करें। चित्र : शटरस्‍टॉक

वजन घटाने के लिए सुबह एक गिलास पानी मे 10 ग्राम सब्जा बीज उबालकर पियें।

2. पेट के लिए भी फायदेमंद हैं सब्‍जा सीड्स

सब्जा बीज के फायदे सिर्फ वजन घटाने तक ही सीमित नहीं हैं। इनका इस्तेमाल पेट के लिए भी फायदेमंद होता है। फाइबर में भरपूर ये बीज एसिडिटी को कम करने और पाचन को सुधारने में मदद करते हैं।

3. ब्लड शुगर को करते हैं नियंत्रित

बेसिल सीड्स के इस्तेमाल से शुगर में आराम मिलता है। यहां भी सब्जा बीजों का फाइबर से भरपूर होना ही कारण है। फाइबर के कारण खून में ग्लूकोज का स्तर नियंत्रित रहता है। यही कारण है ये ब्लड में शुगर को कम करके टाइप 2 डायबिटीज के इलाज में भी फायदा पहुंचाते हैं।

सब्‍जा सीड्स आपका ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल रखती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
सब्‍जा सीड्स आपका ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल रखती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. आपकी ड्रिंक्स को बनाता है ज्यादा पौष्टिक

अगर आप स्मूदी या जूस नियमित रूप से पीती हैं, तो उसमें सब्जा के बीज मिलाना एक अच्छा विकल्प है। यह आपकी ड्रिंक्स को और ज्यादा पौष्टिक बनाता है। विभिन्न प्रकार के ड्रिंक्स जैसे फालूदा, नींबू पानी और शर्बत में सब्जा सीड्स का उपयोग किया जा सकता है।

5. कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करते हैं

सब्जा के बीज एलडीएल यानी बैड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। जर्नल साइंस ऑफ फ़ूड एंड न्यूट्रिशन में प्रकाशित शोध के अनुसार बेसिल सीड्स में पाये जाने वाला कंपाउंड एथेरोस्‍क्‍लेरोसिस, ब्लड वेसल्स में प्लाक को हटाने का काम करता हैं। इससे हार्ट पर तनाव कम होता है जिससे हार्ट अटैक और स्‍ट्रोक की संभावना कम हो जाती है।

सब्‍जा सीड्स आपको तनाव से भी राहत दिलाते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
सब्‍जा सीड्स आपको तनाव से भी राहत दिलाते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

6. मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी है फायदेमंद

कई शोधों में पाया गया है कि सब्जा बीज के उपयोग से मानसिक तनाव भी कम होता है। दरअसल, इसके इस्तेमाल से शरीर में स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल के स्तर को कम करने में मदद मिलती है। इसी वजह से नियमित रूप से बेसिल सीड्स का सेवन डिप्रेशन को कम करने में मददगार होता है।

तो अब आप जानती हैं सब्जा के बीज के लाभ, तो इसे अपने रूटीन में शामिल करें और इन लाभों को पाएं।

यह भी पढ़ें – सर्दियों के मौसम में क्‍यों जरूरी है आपकी रसोई में अजवाइन का होना, हम बता रहे हैं इसके 5 कारण

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।