Fasting recipes : इन 3 हेल्दी स्नैक्स रेसिपीज के साथ करें जन्माष्टमी उपवास

उपवास के साथ यह भी ध्यान रखें कि आप इस दौरान जो खा रहीं हैं, वह पौष्टिक है या नहीं। कभी-कभी हम उपवास में इतनी ज्यादा कैलोरीज ले लेते हैं जिससे दिन भर थकान और आलस छाया रहता है।

banana rasayana hai healthy option
हेल्दी स्नैक्स रेसिपीज के साथ करें जन्माष्टमी उपवास। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Published on: 19 August 2022, 10:22 am IST
  • 146

जन्माष्टमी का दिन लड्डू गोपाल के जन्मदिन के तौर पर मनाया जाता है। इस पावन अवसर पर लोग बड़ी श्रद्धा के साथ भगवान श्रीकृष्ण की आराधना में उपवास रखते हैं। इसके साथ सेहत का ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है। क्योंकि आपकी छोटी सी लापरवाही स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है। उपवास के दौरान स्वच्छ और शुद्ध भोजन का सेवन किया जाता है। इसके साथ ही यह भी ध्यान रखें कि आप जो खा रहीं हैं, वह पौष्टिक भी हो। जिससे आपको दिन भर ऊर्जा मिलती रहे। आपकी इन्हीं जरूरतों को पूरा करने के लिए हम आज ले आए हैं, ऐसी 3 हेल्दी स्नैक्स रेसिपी (Healthy fasting recipes), जिन्हें आप उपवास में ले सकती हैं।

उपवास और अनहेल्दी खानपान

लोग तरह तरह के खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करते हैं, परंतु पेट खाली होने कर कारण, खाद्य पदार्थ गैस और एसिडिटी का कारण बन सकते हैं। इसलिए हम लेकर आए हैं आपके लिए शुद्ध घी से बनी तीन रेसिपी, जो आपके व्रत को हेल्दी बनाएंगी।

रेसिपी में प्रयोग किए गए सभी खाद्य पदार्थ पोषक तत्वों का एक अच्छा स्रोत हैं। इन सभी में पर्याप्त मात्रा में फाइबर मौजूद है, जो कि इंफेक्शन इत्यादि की समस्या में कारगर हो सकती है। तो चलिए जानते हैं क्या है वह स्वस्दिष्ट रेसिपीज और उनके फायदे।

kela healthy carbs ka acha strot hai
केला हेल्दी कार्ब्स का अच्‍छा स्रोत है। चित्र- शटरस्टॉक।

1. बनाना रसायना (banana rasayana)

केला आसानी से हर मौसम में उपलब्ध होता है, और त्योहारों में इसकी मांग काफी ज्यादा बढ़ जाती है क्योंकि उपवास के दौरान ज्यादातर लोग इसका सेवन करते हैं। बनाना रसायना का सेवन आपको लंबे समय तक भरा रखता है। इसे खाने के बाद बार-बार भूख लगने की समस्या भी नहीं होती। केला और नारियल के गुणों से बनी यह रेसिपी त्योहार के दौरान आपको इंस्टेंट एनर्जी देने के लिए काफी ज्यादा कारगर मानी जाती हैं।

यहां जानें किस तरह तैयार करना है बनाना रसायना

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए गुड़, पका हुआ केला, काजू, कोकोनट मिल्क और रोस्टेड तिल।

इस तरह तैयार करें

सबसे पहले एक बाउल में 1 से 2 केले को अच्छी तरह मैश कर लें और बाकियों को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें।

इसके साथ ही काजू को छोटे-छोटे टुकड़ों में चॉप कर लें।

वहीं मैश किये हुए केले में स्वादानुसार गुड़ डाल कर अच्छी तरह मिला लें।

अब बाउल में कोकोनट मिल्क डालें और चौप किया हुआ रोस्टेड काजू डालकर अच्छी तरह मिला लें।

आपका बनाना रसायना बनकर तैयार है। अंत मे भुनी हुई तील डालकर सर्व करें।

makhana fry testy hai.
हेल्दी है मखाना फ्राई। चित्र शटरस्टॉक।

2. मखाना फ्राई (Makhana fry)

फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट, गुड़गांव की हेड क्लिनिकल न्यूट्रिशनिस्ट दीप्ति खाटूजा के अनुसार मखाना स्वादिष्ट होने के साथ शरीर के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व का एक अच्छा स्रोत होता है।

यह आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखता है और इसके सेवन से उपवास में बार-बार भूख लगने जैसी समस्या नहीं होती। पब मेड सेंटर द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार मखाना प्रोटीन, एंटीऑक्सीडेंट, कैल्शियम जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का एक अच्छा स्रोत होता है। यह आपके पाचन क्रिया को संतुलित रखता है।

चलिए जानते हैं मखाना फ्राई बनाने की आसान विधि

इसे बनाने के लिए आपको क्या चाहिए

मखाना, सेंधा नमक, घी, ड्राई फ्रूट्स (काजू, बादाम, पिस्ता, किशमिश), हरी मिर्च।

इसे बनाने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें

सबसे पहले मध्यम आंच पर कड़ाही चढ़ाएं। कड़ाही गर्म हो जाने पर इसमें घी डालें और फिर छोटे-छोटे टुकड़ों में चौप की हुई हरि मिर्च को घी में डाल दें।

अब कड़ाही में मखाना डाल दें। इसे लगातार चलाती रहें, अन्यथा मखाने के जलने की संभावना बनी रहती है। जब मकान क्रिस्पी और हल्का लाल हो जाए तो गैस को बंद कर दें।

वहीं दूसरी ओर ड्राई फ्रूट्स जैसे की काजू, बादाम, पिस्ता को पैन में डालकर रोस्ट कर लें।

भुना हुआ मखाना और रोस्टेड ड्राई फ्रूट्स को एक साथ मिला लें। यदि आप इसके स्वाद को हल्का मीठा बनाना चाहती है, तो थोड़ी सी किशमिश मिला सकती हैं।

अब इसमें स्वादानुसार सेंधा नमक मिलाएं, और त्योहार में चाय के साथ इसका आनंद लें।

sabudana khichadi sabse popular fasting recipe hai
साबूदाना खिचड़ी सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला उपवास व्यंजन है। चित्र: शटरस्टॉक

3. साबूदाना खिचड़ी (Sabudana khichadi)

साबूदाना उपवास में खा सकते हैं। यह उपवास के दौरान शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है। इसके साथ ही ग्लूटेन फ्री और नॉन एलर्जीक होता है। ऐसे में यदि आप इसे खाली पेट खा रही हैं, तो यह किसी प्रकार की एलर्जी का कारण नहीं बनता। वहीं फ़ूड डाटा सेंट्रल द्वारा प्रकाशित एक डेटा के अनुसार साबूदाना में फाइबर, प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम और पोटेशियम की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है।

यहां जानें किस तरह तैयार करनी है साबूदाना खिचड़ी

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए

साबूदाना खिचड़ी को तैयार करने के लिए आवश्यकतानुसार साबूदाना, मूंगफली, घी, कड़ी पत्ता, सेंधा नमक, कोकोनट और हरी मिर्च। यदि आप उपवास में आलू खाती है, तो आलू लें, अन्यथा इसे स्किप कर सकती हैं।

अब इन स्टेप्स को फॉलो करें

सबसे पहले साबूदाना को कुछ देर पानी मे डालकर फूलने के लिए छोड़ दें। दूसरी ओर पैन को मध्यम आंच पर चढ़ाएं, इसमें मूंगफली डालकर अच्छी तरह रोस्ट कर लें।

अब उसी पैन में घी डालें, अब इसमें कड़ी पत्ता, हरि मिर्च डालकर 20 सेकंड तक भूने।

यदि आप इसमें आलू मिलाना चाहती हैं तो उबले हुए आलू को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। उसे पैन में डालें और 3 से 4 मिनट तक भुने।

अब पैन में साबूदाना, कद्दूकस किया हुआ कोकोनट और स्वादानुसार सेंधा नमक डालकर अच्छी तरह मिलाएं।

आप की खिचड़ी बनकर तैयार है। यदि आप इसे हल्का गीला रखना चाहती हैं, तो थोड़ा सा पानी डालकर 1 से 2 मिनट तक मिलती रहें।

यह भी पढ़ें :  लंबे समय तक रहना है जवां और फिट, तो याद कर लें ये 5 महामंत्र

  • 146
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी- नई दिल्ली में जर्नलिज़्म की छात्रा अंजलि फूड, ब्लॉगिंग, ट्रैवल और आध्यात्मिक किताबों में रुचि रखती हैं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory