लॉग इन

वेट लॉस जर्नी पर हैं और आम का स्वाद लेना चाहती हैं, तो डायटीशियन अर्चना बत्तरा से जानिए आम खाने का सही तरीका

यदि आप आम की बहुत बड़ी फैन हैं, और इसे बिना किसी साइड इफेक्ट के एंजॉय करना चाहती हैं, तो आपको आम खाने के सही तरीके मालूम होने चाहिए। जानें इन्हें डाइट में शामिल करने का सही तरीका।
यहां जानें आम की कुछ खास रेसिपीज। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 24 May 2024, 08:00 am IST
ऐप खोलें

समर सीजनल फ्रूट्स की बात करें, तो सबसे लोकप्रिय फल आम है। आम को काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। स्वाद में लाजवाब होने के साथ ही आम में कई अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। इसके बावजूद आम को खाते समय सावधान रहना बहुत जरूरी है। आम की अधिकता या इसे खाने का गलत तरीका वेट गेन का कारण बन सकता है। यदि आप आम की बहुत बड़ी फैन हैं, और इसे बिना किसी साइड इफेक्ट के एंजॉय करना चाहती हैं, तो आपको आम खाने के सही तरीके मालूम होने चाहिए।

आम खाने के सही तरीके जानने में अर्चना बत्रा आपकी मदद करेंगी। न्यूट्रीशनिस्ट अर्चना बत्रा 15 साल से अधिक समय से डायटिक्स और न्यूट्रिशन डिपार्टमेंट में प्रैक्टिस कर रही हैं। न्यूट्रीशनिस्ट में बिना वेट गेन किए आम खाने के कुछ हेल्दी तरीके बताएं हैं, तो चलिए जानते हैं, इसके बारे में विस्तार से (how to eat mango to lose weight)।

यहां जानें क्या है आम खाने का सही तरीका (How to eat Mango to control weight)

1. पोर्शन कंट्रोल है जरूरी (Portion control is the key)

यदि आप आम को खुलकर एंजॉय करना चाहती हैं, या आप वेट लॉस डाइट पर हैं और वेट गेन की वजह से आम खाने से डरती हैं, तो चिंता न करें कुछ बातों का ध्यान रखते हुए आप सुरक्षित रूप से आम का सेवन कर सकती हैं। सबसे जरूरी है पोर्शन कंट्रोल, यानी कि खाने की मात्रा का ध्यान रखना। हम सभी हमेशा से सुनते आए हैं, कि किसी भी चीज की अधिकता उचित नहीं होती, ठीक उसी प्रकार अधिक मात्रा में आम खाने से भी सेहत को नुकसान हो सकता है।

आम के पत्तों में मौजूद पोषक तत्व बालों को झड़ने से रोकते हैं।चित्र : अडोबी स्टॉक

सीमित मात्रा में आम खाने से शरीर में फैट और ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद मिलती है। साथ ही साथ इसकी आवश्यक पोषक तत्वों की गुणवत्ता शरीर को कई अन्य फायदे प्रदान करती है। साथ ही इसमें फाइबर की गुणवत्ता पाई जाती है, जो पाचन क्रिया के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं।

यदि आप अधिक मात्रा में फाइबर लेती हैं तो कई बार लूज मोशन और पेट दर्द जैसी समस्याएं आपको परेशान कर सकती हैं। वहीं आम का अत्यधिक सेवन वजन बढ़ाने का कारण बन सकता है। इसलिए प्रतिदिन एक आम खाने का प्रयास करें।

2. डेज़र्ट नहीं स्नैक्स है आम (Eat as snacks not dessert)

बहुत से लोग लंच या डिनर के साथ आम खाना पसंद करते हैं। हालांकि, यह तरीका बिल्कुल भी उचित नहीं है। इस प्रकार आम खाने से वेट गेन सहित अन्य परेशानियों का खतरा बढ़ जाता है। इस तरह आम खाने से शरीर शरीर में ग्लूकोज की अनावश्यक आपूर्ति हो सकती है, जिसकी वजह से बॉडी में एक्स्ट्रा फैट जमा होता है। बल्कि आम को हमेशा स्नैक्स के रूप में लेना चाहिए। इस प्रकार आम आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखता है, और शरीर में ऊर्जा शक्ति को बढ़ा देता है।

आप वॉकिंग, स्विमिंग, कार्डियो सेशन, वर्कआउट या एक्सरसाइज के लिए जाने से पहले प्री-वर्कआउट स्नैक के रूप में आम का सेवन कर सकती हैं। यह सुक्रोज का भी अच्छा स्रोत है, जो तेजी से रिलीज होने वाली चीनी है, और इसे वर्कआउट के बाद भी खाया जा सकता है।

आम में डाइटरी फाइबर भी पाया जाता है। इससे पाचनतंत्र को मज़बूती मिलती है और कब्ज व ब्लोटिंग की समस्या से राहत मिल जाती है। चित्र : शटरस्टॉक

3. आप इसे खाली पेट ले सकती हैं

न्यूट्रीशनिस्ट खाली पेट आम खाने की सलाह देती हैं। इस तरह आम खाने से शरीर में एनर्जी का संचरण बढ़ता है। सुबह हमारे शरीर को अल्कलाइन युक्त खाद्य पदार्थों की आवश्यकता होती है। ऐसे में खाली पेट आम खान से आपको किसी प्रकार का नुकसान नहीं होगा। वहीं आम में मौजूद फाइबर की गुणवत्ता पूरे दिन आपके पाचन क्रिया को अधिक प्रभावी रूप से सक्रिय रखती है।

4 जूस की बजाए पूरा आम खाएं

आम का रस निकालने से इसमें मौजूद फाइबर की गुणवत्ता काम हो जाती है। जिससे आम के समग्र पोषक तत्वों में गिरावट आती है। साथ ही साथ यह आपको लंबे समय तक संतुष्ट नहीं रखती। ऐसे में आपको अधिक क्रेविंग्स होती हैं और कैलरी इंटेक बढ़ जाता है। जिसकी वजह से वेट गेन का सामना करना पर सकता है।

यदि आप इसे सेटिस्फाइंग स्नैक्स के रूप में इसे लेना चाहती हैं, तो पूरा आम खाएं। स्टोर से खरीदे गए आम के रस या आम से बने अन्य किसी भी प्रकार के रेडी टू ईट फूड आइटम से बचना बेहद जरूरी है। क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में शुगर होते हैं। ये उत्पाद वजन बढ़ा सकते हैं, क्योंकि इनमें कम मात्रा में पोषण होते हैं और सरल कार्बोहाइड्रेट अधिक होते हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

यह भी पढ़ें : त्वचा को बाहरी संक्रमणाें से बचाते हैं एंटीऑक्सीडेंट्स, यहां हैं 5 एंटीऑक्सीडेंट्स रिच फूड्स

5 डायबिटीज के मरीज इस तरह लें आम

यदि आपको डायबिटीज है या आपका ब्लड शुगर लेवल हाई रहता है, और आप आम को इंजॉय करना चाहती हैं, तो ऐसे में आम के पल्प से बने आमरस में केसर, इलाइची और 1 से 2 चम्मच घी मिलाकर पिएं। यह आपके शरीर में ग्लाइसेमिक इंडेक्स को कम करता है, साथ ही साथ ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखता है।

जानिए आम खाने का सही समय. चित्र -शटरस्टॉक

गर्मी में आम खाने से पहले इन बातों का रखें विशेष ध्यान

1. खाने से पहले आम को कम से कम एक घंटे के लिए पानी में भिगोना बहुत जरूरी है। इससे आम में मौजूद स्वस्थ विटामिन और मिनरल्स का अवशोषण बढ़ जाता है। साथ ही आम के ऊपरी हिस्से में मौजूद केमिकल भी निकल जाते हैं।

2. आम खाने के तुरंत बाद पानी पीने से बचें। यदि आप आम खाकर तुरंत पानी पी लेती हैं, तो इससे पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। खासकर पेट दर्द, एसिडिटी और ब्लोटिंग जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आम खाने के लगभग 1 घंटे बाद ही पानी पीएं।

3. आम और कुछ खाद्य पदार्थों का कंबीनेशन हानिकारक साबित हो सकता है। ज्यादातर लोग दही और आम को डेजर्ट के रूप में लेना पसंद करते हैं, जो सेहत के लिए बेहद हानिकारक हो सकता है। करेला और किसी अन्य प्रकार के मसालेदार भोजन के साथ आम न खाएं, इससे पाचन संबंधी समस्याएं आपको परेशान कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें : चावल खाकर भी वजन घटाया जा सकता है, एक्सपर्ट बता रहीं हैं कैसे

अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख