हेल्दी हेयर, स्किन और इम्युनिटी के लिए हर रोज खाएं आंवले का मुरब्बा, ये रही आसान रेसिपी

सर्दियों में जब मौसम बदलता है तो आपको अपने आहार में भी बदलाव कर लेना चाहिए। शुक्र है कि प्रकृति के खजाने में कुछ ऐसे सूपरफूड्स हैं जो आपको इस मौसम की जटिलताओं से बचाते हैं।
हेल्दी हेयर, स्किन और इम्युनिटी के लिए जानिए आंवला मुरब्बा की रेसिपी। चित्र : शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Updated on: 15 November 2021, 11:30 am IST
ऐप खोलें

सर्दियां आ गयी हैं! ऐसे में आपकी सेहत को थोड़ी एक्स्ट्रा केयर की ज़रूरत होती है। अपने खानपान में कुछ बदलाव करने से आपको कई मौसमी समस्याओं से राहत मिल सकती है। सर्दियों में खांसी-जुकाम, बुखार बेहद आम है। मगर आप चिंता न करें क्योंकि इन सभी बीमारियों से बचने के लिए हमारे पास एक ऐसी रेसिपी है, जो हेल्दी है और टेस्टी भी! जानना चाहते हैं क्या? आपका पसंदीदा आंवले का मुरब्बा।

जी हां… आंवले का मुरब्बा (Amla Murabba) स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। कई एक्स्पर्ट्स भी सर्दियों में इसे खाने की सलाह देते हैं।

तो चलिये जानते हैं इसकी हेल्दी और टेस्टी रेसिपी –

आंवले का मुरब्बा बनाने के लिए आपको चाहिए

आंवला – 7 (250 ग्राम) (बड़े आकार के)
गुड़ – 1.25 कप (300 ग्राम) (कद्दूकस किया हुआ)
नींबू – 1

आंवला मुरब्बा बनाने की विधि

सबसे पहले आंवले को धोकर सुखा लीजिये।

अब एक बर्तन में 2 कप पानी उबालने के लिए रख दीजिये। पानी को ढक दें ताकि यह जल्दी उबल जाए। पानी में उबाल आने पर इसमें आंवला डालें। इसे ढककर 8 मिनट तक पकने दीजिए, आंच मध्यम रखें।

आंच बंद कर दें, आंवले उबलने के बाद नरम हो जाएंगे। फिर आंवले को जल्दी ठंडा करने के लिए एक प्लेट में रख लीजिये। जैसे ही आंवले ठंडे हो जाएं, उनमें कांटे से छेद कर लें। सभी को इसी तरह से एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये।

फिर गुड़ को आंवले के ऊपर रखकर, ढक्कन बंद करके, धूप में या कमरे में गुड़ के पिघलने और चाशनी बनने तक 2 दिन तक के लिए रख दीजिये।

2 दिन बाद गुड़ पिघल जाएगा, इसे गाढ़ा करने के लिए आंवले को कढ़ाई में डाल कर पकने दीजिये। थोड़ी देर बाद गैस बंद कर दीजिये। गुड़ की चाशनी को 5 मिनट गाढ़ा होने तक पका लीजिए।

फिए गैस बंद कर दें, मुरब्बा बनकर तैयार है, इसे ठंडा होने दें। जैसे ही मुरब्बा ठंडा हो जाए। इसमें 1 नीबू का रस डालकर अच्छी तरह मिला लें।

आपका आंवले का मुरब्बा खाने के लिए तैयार है!!

आंवले का मुरब्बा मधुमेह के रोगी गिल्ट फ्री होकर खा सकते हैं। चित्र : शटरस्टॉक

सर्दियों में स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है आंवले का मुरब्बा

1. पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद

फाइबर में उच्च होने के कारण, डॉक्टर पाचन और गैस्ट्रिक समस्याओं के लिए आंवले का मुरब्बा खाने की सलाह देते हैं। अपने पेट को स्वस्थ रखना बहुत जरूरी है, क्योंकि ज्यादातर बीमारियां पेट खराब होने के कारण होती हैं।

2. पोषक तत्वों से भरपूर

आंवला क्रोमियम, जस्ता, तांबा, लोहा और अन्य जैसे खनिजों में समृद्ध है। आयुर्वेदिक विशेषज्ञ इन खनिजों को शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण मानते हैं। हार्वर्ड हेल्थ पब्लिकेशन के अनुसार आंवला हृदय रोग के जोखिम को भी कम कर सकता है।

3. दर्द से राहत दिलाए

आंवला जोड़ों की सूजन के लिए एक अच्छा उपाय है। यह घुटने या जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है क्योंकि यह विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत है। इसे कच्चा या मुरब्बा के रूप में दिन में दो बार, विशेष रूप से सुबह के समय लेना चाहिए।

जानिए मधुमेह के रोगियों के लिए आंवला का मुरब्बा है फायदेमंद। चित्र:शटरस्टॉक

4 बालों को बनाता है घना और मजबूत

कई लोग अपने बालों में आंवले का तेल या रस लगते हैं। मगर आंवले का मुरब्बा खाने से भी आपके बाल घने, मुलायम और मजबूत बन सकते हैं। आंवले में आइरन की मात्रा अधिक होती है, जिससे यह बालों के लिए भी फायदेमंद है।

5 स्किन के लिए भी है फायदेमंद

आंवले का मुरब्बा आपके चेहरे में प्राकृतिक चमक ला सकता है। ऐसा इसलिए, क्योंकि इसमें विटामिन C की अच्छी मात्रा होती है, जो त्वचा की गंदगी को हटा सकती है।

6 इम्युनिटी बढ़ाता है

आंवले में विटामिन C मौजूद होता है, जो इम्युनिटी बढ़ाने के लिए जाना जाता है। एंटीऑक्सिडेंट का भंडार होने के अलावा, आंवला सूक्ष्म पोषक तत्वों से समृद्ध होता है जो इम्युनिटी बूस्टर हैं।

यह भी पढ़ें : मेरी मम्मी कहती हैं कि डायबिटीज के रोगियों के लिए सुपरफूड है हरी मेथी

लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story