फॉलो
वैलनेस
स्टोर

मसालेदानी में तेज पत्ता है, तो नहीं होंगी ये 6 समस्‍याएं, यहां हैं इस औषधीय मसाले के फायदे

Updated on: 3 February 2021, 13:56pm IST
आपकी मम्‍मी की रसोई के कुछ मसाले शायद आप इस्‍तेमाल नहीं कर पातीं। इन्‍हीं में से एक है तेज पत्‍ता। इसके फायदे और इस्‍तेमाल का तरीका हम आपको बता रहे हैं।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 83 Likes
मसालेदानी में तेज पत्ता है, तो नहीं होंगी ये 6 समस्‍याएं. चित्र: शटरस्टॉक

बहुत कम लोगों को पता होगा कि तेजपत्ता केवल एक मसाला या खुशबू बढ़ाने वाला पत्ता ही नहीं, ये औषधीय गुणों का भंडार है। जैतूनी रंग के इस पत्‍ते में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्‍सीडेंट पाए जाते हैं। यही वजह है कि इसका तेल कई सौंदर्य उत्‍पादों और औषधियों में भी इस्‍तेमाल किया जाता है।

आपकी मम्‍मी की मसालेदानी में कुछ ऐसे मसाले भी हैं, जिनका आपने सिर्फ नाम सुना है। ऐसा ही एक मसाला है तेज पत्‍ता। संवभवत: पुलाव की प्‍लेट में से आप सबसे पहले तेज पत्‍ता ही अलग करती होंगी। पर इसके गुण जानने के बाद आप भी इसे अपने स्‍पाइस बॉक्‍स में जगह देंगी।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

क्‍या है तेज पत्‍ता

यह जैतूनी रंग का सूखा हुआ पत्‍ता होता है। इसकी गंध लौंग और दालचीनी का सम्मिलित रूप लिये होती है। यह पाचन में सहायक, मस्तिष्क को तेज करने वाला अमाशय के लिए स्वास्थ्यवर्धक होता है।

यहां जानिए तेज पत्‍ता के औषधीय लाभ

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी (National Centre for Biotechnology, NCBI) के मुताबिक तेज पत्ते में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं। तेज पत्ता एंटीऑक्सिडेंट और कुछ खनिज यौगिकों से भरपूर होता हैं। यह भोजन के स्वाद को बढ़ाता है और इसकी चाय का उपयोग पेट के दर्द, फेफड़ों, बलगम और गले में खराश को दूर करने के लिए किया जाता है।

तेज पत्ता औषधीय गुणों का भंडार है। चित्र: शटरस्टॉक
तेज पत्ता औषधीय गुणों का भंडार है। चित्र: शटरस्टॉक

तेज पत्तियों का उपयोग गठिया और तंत्रिकाशूल के उपचार के लिए किया जाता है। सिरदर्द का इलाज करने के लिए, इस दर्द से राहत पाने के लिए इसकी पत्तियों को नथुने में या सिर के नीचे लगाया जा सकता है।

परंपरागत रूप से, यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं जैसे बिगड़ा पाचन, पेट फूलना, पेट की सूजन के लिए उपयोग किया जाता है और मूत्रवर्धक के रूप में भी इसका उपयोग किया जाता है।

यहां जानिए तेज पत्‍ता के कुछ और फायदे

1 मुंह की बदबू को दूर करता है

तेज पत्ता मुंह के बैक्टीरिया को ख़त्म करता है। जिससे श्वास में बदबू की समस्या नहीं होती। रोज़ सुबह इस पत्ते को पानी में उबालकर पीने से ऐसी समस्याएं दूर हो जाती हैं। तेज पत्ते में मौजूद मिनरल्स मसूड़ों को मज़बूत बनाते हैं। यह दांतों के लिए भी फायदेमंद होता है।

2 फंगल इन्फेक्शन से बचाता है

तेज पत्ता एंटीफंगल गुणों से समृद्ध होता है। यह विशेष रूप से यीस्ट संक्रमण को रोकने का काम कर सकता है। इसलिए त्वचा संबंधी फंगल संक्रमण के लिए तेज पत्ते से बना एसेंशियल ऑयल इस्तेमाल किया जा सकता है।

3 किडनी की समस्याओं से लड़ता है

पेशाब की नली और किडनी में मौजूद पथरी के इलाज में तेज पत्ते के अर्क का इस्तेमाल किया जाता है। तेज पत्ते को कुछ देर पानी में उबाल लें और फिर इसे ठंडा करके रोज़ सुबह खाली पेट पीने से किडनी सुचारू रूप से काम करती है।

4 वज़न कम करता है तेज़ पत्ता

तेज पत्ता उन जड़ी-बूटियों में से एक है जो भूख को नियंत्रित कर सकता हैं और इसका सेवन करने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। इसका सेवन करने से आपका कैलोरी काउंट कम हो जाता है, जिससे आप जल्दी वज़न घटा पाती हैं।

वज़न घटाने में भी मदद करता है तेज पत्ता । चित्र: शटरस्टॉक

वज़न घटाने में भी मदद करता है तेज पत्ता । चित्र: शटरस्टॉक

5 पेट की समस्याओं से निजात दिलाता है

चाय में तेज पत्ता डालकर पीने से कब्ज़ और एसिडिटी की समस्या दूर हो जाती है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्‍सीडेंट चयापचय क्रियाओं को सुधारते हैं। यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं से भी लड़ने में मददगार है।

6 त्वचा के लिए लाभदायक

तेज पत्ता त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है। इसलिए, इसके एसेंशियल ऑयल को क्रीम, इत्र और साबुन बनाने में इस्तेमाल किया जाता है। यह त्वचा को गहराई से साफ करता है, क्योंकि इसमें एस्‍ट्रीजेंट मौजूद होते हैं। तेज पत्ते का इस्तेमाल स्किन रैशेज को दूर करने में भी किया जाता है।

यह भी पढ़े :पोषक तत्वों का पावरहाउस हैं हलीम के बीज, यहां हैं आपकी सेहत के लिए इस सुपरफूड के 6 फायदे

0 कमेंट्स

कमेंट पोस्ट करें

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।