मैंने हर रोज रात को दूध में मिलाकर पिया एक चम्मच घी और मुझे वापस मिला अपना खोया हुआ स्टेमिना

Published on: 27 January 2022, 09:30 am IST

एक गिलास दूध में घी डालकर पीना आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। यह कई वर्षों पुराना आयुर्वेदिक नुस्खा है।

doodh mein ghee dalkar peene ke fayde
रात को दूध के साथ घी डालकर पीने के फायदे। चित्र : शटरस्टॉक

कई दिनों से मुझे वर्क फ्रॉम की वजह से थकान (Fatigue) महसूस हो रही थी। मैं वर्कआउट भी करती, मगर उसके लिए भी एनर्जी जुटा पाना मुश्किल हो रहा था। एक जगह बैठकर काम करने की वजह से न तो भूख सही से लग रही थी और न ही कुछ पच रहा था। मेरे ज्वाइंट्स में भी दर्द (Joint Pain) होने लगा था। मैंने कभी नहीं सोचा था कि अपनी उम्र के दूसरे दशक में ही मुझे इन समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। कोई ऐसी दवा समझ नहीं आ रही थी, जो इन सबसे मुझे निजात दिला सके। फिर मुझे आयुर्वेद (Ayurveda) का एक नुस्खा मिला, वह भी पड़ाेस वाले दादा जी से। वह था गर्म दूध में घी मिलाकर पीना (Drinking milk with ghee benefits)।

वर्क फ्रॉम होम की समस्याएं और आयुर्वेद का नुस्खा

हम सभी पिछले दो साल से एक ही रुटीन में कैद हो गए हैं। जिसने हमें कोरोनावायरस से तो बचाया, पर और बहुत सारी परेशानियां दीं। अपने लाइफस्टाइल से परेशान होकर मैंने सब कुछ ट्राई किया। पर कुछ बदलाव नज़र नहीं आ रहा था।

फिर मैंने एक रोज़ सुबह अपने पड़ोस वाले दादाजी को बागवानी करते हुए देखा। वे हमेशा ही बड़े फिट नज़र आते हैं। इसलिए मैंने उनसे पूछा कि हमेशा इतने फिट कैसे दिखते हैं – उन्होंने बताया कि वे बचपन से दूध में घी (milk with ghee) डालकर पीते हैं।

janiye doodh aur ghee ke fayde
एक चम्मच देशी घी खाना आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होता है। चित्र: शटरस्टॉक

मैंने भी सोचा कि इतना आसान नुस्खा है क्यों न ट्राई किया जाए! आप यकीन नहीं मानेंगे ये वाकई कारगर साबित हुआ। अब मुझे वर्कआउट करने के बाद भी थकान महसूस नहीं होती है और भूख भी लगती है।

आयुर्वेद भी देता है इसकी सलाह

दूध में घी डालकर पीना बरसों पुराना आयुर्वेदिक नुस्खा है। इतना ही नहीं, एनसीबीआई भी घी के फायदों के बारे में बताता है। घी और दूध के अपने फायदे हैं, मगर यह दोनों साथ मिलकर कई समस्या का रामबाण उपाय हैं।

एक गिलास गुनगुने दूध में एक चम्मच घी डालकर पीना आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। जानिए कैसे –

1. पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद

एक गिलास दूध के साथ एक चम्मच घी आपको पेट की हर समस्या में पहले फायदा पहुंचाएगा। अध्ययनों से पता चलता है कि एक गिलास दूध और हल्दी के साथ घी पीने से सिस्टम से हानिकारक विषाक्त पदार्थ निकल जाते हैं। इससे पाचन तंत्र में सुधार होता है। यह और भी ज़्यादा फायदा पहुंचाएगा यदि आप गर्म दूध और हल्दी के साथ घी डालकर पिएं।

2. मेटाबॉलिज्म को बढ़ावा देता है

रात को सोते समय घी वाला दूध पीने से आपके शरीर के चयापचय (Metabolism) में सुधार होता है। यह सहनशक्ति को बढ़ाने और वजन कम करने में आपकी मदद करते हुए आपके मूड में काफी सुधार करेगा। यह कब्ज में मदद करता है और आपकी इम्युनिटी (Immunity) को बढ़ावा देता है।

3. घुटनों और हड्डियों के लिए फायदेमंद

सोने से ठीक पहले देसी गाय का घी दूध के साथ लेने से जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है। घी जोड़ों के लिए एक प्रसिद्ध लुब्रीकेंट है और उनके आसपास मौजूद सूजन को कम करने में मदद करता है।

ghee aur doodh ke fayde
घुटनों और जोड़ों के लिए फायदेमंद है घी और दूध। चित्र:शटरस्टॉक

वहीं दूध में कैल्शियम होता है जो प्राकृतिक रूप से हड्डियों को मजबूत करता है। घी में मौजूद विटामिन K2 हड्डियों को दूध से कैल्शियम सोखने में मदद करता है और इसीलिए आयुर्वेद में दूध घी का मिश्रण फायदेमंद माना गया है।

4. शारीरिक तनाव को कम करे

बहुत अधिक तनाव लेना अच्छी बात नहीं है, और आप जो खाना खाते हैं वह आपके तनाव के स्तर को बढ़ा या घटा सकता है। ऐसा कहा जाता है कि रात में एक कप गर्म दूध पीने से तंत्रिकाओं में खिचाव कम हो जाता है और व्यक्ति को नींद अच्छी आती है। यही कारण है कि यह पेय उन लोगों के लिए विशेष रूप से उपयोगी पाया जाता है जिन्हें अनिद्रा की समस्या होती है।

5. स्किन के लिए नैचुरल मॉइस्चराइजर

घी और दूध दोनों ही प्राकृतिक मॉइस्चराइजर हैं और त्वचा को बेहतर बनाने के लिए जाने जाते हैं। रोज रात को दूध के साथ घी पीने से यह सुस्त और बेजान त्वचा को पुनर्जीवित कर सकता है। तो देसी घी को दूध के साथ अपनी दिनचर्या में शामिल करने की कोशिश करें और अपने चेहरे में प्राकृतिक चमक देखें।

अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखना जरूरी है। आयुर्वेद का उद्देश्य आपके स्वास्थ्य में सुधार करना है, और हर रात दूध के साथ घी पीने से आप कुछ ही समय में आयुर्वेदिक लाभ प्राप्त कर सकेंगी।

यह भी पढ़ें : Republic Day 2022: इस गणतंत्र दिवस लें स्वस्थ रहने का संकल्प, घर पर बनाएं स्वादिष्ट और हेल्दी तिरंगा पास्ता

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें