शुगर के मरीजों के लिए लाजवाब है ये सब्जी, इन 5 तरीकों से करें विंटर डाइट में शामिल

डायबिटिक इस बात को लेकर परेशान रहते हैं कि क्या खाएं और क्या नहीं खाएं। इस जाड़े में आप जरूर ट्राई करें ब्लड शुगर घटाने वाली शलजम रेसिपी। हम यहां आपको शलजम की 5 हेल्दी रेसिपी बता रहे हैं।

turnip recipe
ग्लायसेमिक इंडेक्स कम होने के कारण यह प्री डायबिटिक और डायबिटिक दोनों के लिए फायदेमंद होती है। चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 5 December 2022, 09:30 am IST
  • 125

जाड़े के दिनों में कई अलग-अलग तरह की शाक-सब्जियां मिलती हैं। ये न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होती हैं, बल्कि इसके स्वास्थ्य फायदे भी बहुत अधिक होते हैं। इनमें से एक है शलजम। शलजम और शलजम की पत्तियां डायबिटीज के मरीजों के लिए खाई जा सकने वाली सब्जी होती है। ग्लायसेमिक इंडेक्स कम होने के कारण यह प्री डायबिटिक और डायबिटिक दोनों के लिए (turnip recipes for diabetics) फायदेमंद होती है।

एंटीडायबिटिक शलजम हाइपोग्लाइसेमिक क्षमता वाला होता है (Anti diabetic turnip)

जर्नल ऑफ़ ट्रेडिशनल एंड कॉम्प्लीमेंट्री मेडिसिन में प्रकाशित शोध आलेख के अनुसार, इरान के शोधकर्ताओं मोम्मद मेहदी हसन, मोहम्मद हसनपुर-फर्द की टीम ने शलजम पर गहन शोध किया। शोध के निष्कर्ष के अनुसार, प्रयोगात्मक रूप से भी शलजम औषधीय पौधों की एक किस्म है। इसमें एंटीडायबिटिक गुण होते हैं।
पहले के अध्ययनों ने भी यह संकेत दिया था कि शलजम की पत्ती का अर्क मधुमेह वाले जानवरों में हाइपोग्लाइसेमिक क्षमता वाला साबित हुआ। इरान के शोधकर्ताओं ने भी डायबिटिक चूहों पर दवा के साथ इसके प्रभावों का मूल्यांकन किया। परिणाम में दवा के साथ दिया गया शलजम हाइपोग्लाइसेमिक और रीनोप्रोटेक्टिव गतिविधि वाला पाया गया। शलजम की जड़ में भी हाइपोलिपिडेमिक क्षमता पाई गई।

इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है शलजम (Turnip for immunity)

शलजम में विटामिन, कैल्शियम, फोलेट, मैगनीशियम, फोस्फोरस, पोटैशियम, फाइबर और फाइटोकेमिकल्स भी पाए जाते हैं। विटामिन सी से भरपूर शलजम प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देते हैं। विटामिन के और विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स से भरपूर शलजम कार्डियोवस्कुलर रोगों से बचाव करने में भी मदद करते हैं।

मोटापा घटाने में मददगार (Turnip for Obesity) 

शलजम में 90 प्रतिशत तक पानी रहता है। इसमें मौजूद पानी और फाइबर शरीर से टोक्सिंस को बाहर निकालने में मदद करता है। पानी और फाइबर रहे के कारण शलजम ओबेसिटी घटाने में भी मदद करता है।

आलू का बेहतर विकल्प है शलजम (Turnip Vs Potato)

आपके पसंदीदा आलू का ग्लाइसेमिक इंडेक्स 80-110 के बीच होता है। यह हाई लेवल में आता है। इसमें ब्लड फ्लो में कार्बोहाइड्रेट जल्दी से आ जाते हैं। शलजम का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। कच्चे रूप में शलजम का ग्लाइसेमिक इंडेक्स 30 होता है। जब इसे पकाया जाता है, तो जी आई 85 तक पहुंच जाता है। इसलिए मधुमेह रोगियों के लिए आलू की बजाय शलजम बेहतर विकल्प होता है ।
यहां ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI) कार्बोहाइड्रेट युक्त खाद्य पदार्थों के लिए एक रेटिंग प्रणाली है। इसके माध्यम से यह पता चलता है कि खाए जाने के बाद प्रत्येक भोजन कितनी जल्दी ब्लड शुगर लेवल को (ग्लूकोज) प्रभावित करता है। जब वह भोजन अपने आप खाया जाता है। जीआई जब 10 से कम होता है, तो कम माना जाता है, वहीं 20 से ऊपर जीआई अधिक माना जाता है।

Winter diet mein add kare turnip
आलू से कम  ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI) होने के कारण शलजम अधिक फायदेमंद  है ।  चित्र:शटरस्टॉक

यहां हैं शलजम को हेल्दी रूप में खाने का तरीका (Turnip Healthy Recipes)

यदि हेल्दी तरीके से शलजम खाया जाए, तो डायबिटीज पेशेंट के लिए फायदेमंद होगा।

1 रायता के रूप में

शलजम को कद्दूकस कर लें।
इसमें राई पाउडर, नमक, काली मिर्च पाउडर, बारीक कटी प्याज, हरी मिर्च और धनिया पत्ती मिक्स कर लें।
इसमें मनचाही मात्रा में धी मिलाकर खाएं। चाहें तो कुता हुआ अदरक भी मिक्स कर सकती हैं।

2 प्याज टमाटर के साथ सब्जी (Turnip Sabji)

शलजम को छील लें।
इसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। हींग, राई का फोडन लगा लें।
प्याज, टमाटर और थोड़ी देर बाद शलजम को भून लें।

3 शलजम के पत्ते का साग (Shaljam saag)

शलजम के पत्तों को अच्छी तरह धो कर काट लें।
पानी निचुड़ जाने के बाद इसे नमक के साथ उबाल लें।
मिक्सी में पीस लें।
सरसों तेल, सरसों, हरी मिर्च, हींग का फोड़न डालकर पीसी हुई पत्तियों को डाल दें।
थोड़ी देर भूनने के बाद फ्लेम ऑफ़ कर दें। ठंडा होने पर नींबू का रस निचोड़ दें।
मक्के की रोटी के साथ खाएं।

4 सूप में प्रयोग (Turnip Soup) 

शलजम के पत्तों का प्रयोग गाजर, टमाटर के जूस में भी कर सकती हैं।
कुछ पत्तों को धो-काटकर गाजर, टमाटर, लहसुन, हल्दी, नमक और कुछ खरे मसाले के साथ कुकर में उबाल लें।

turnip soup recipe
शलजम सूप  रेसिपी  शुगर के मरीज के लिए फायदेमंद है । चित्र : शटरस्टॉक

इस मिश्रण को मिक्सी में पीस लें।
बचे हुए पानी को मिक्स कर सूप तैयार कर लें।
बटर और काला नमक, जीरा पाउडर, काली मिर्च पाउडर डाल कर पीयें।

5 शलजम सलाद (Turnip Salad)

शलजम को प्याज, टमाटर के साथ काटकर सलाद के रूप में भी खाया जा सकता है। काला नमक और काली मिर्च पाउडर इसके स्वाद को दूना कर सकता है।

यह भी पढ़ें :- अपने आहार में हेल्दी तरीके से शामिल करें कुल्थी दाल, ब्लड शुगर लेवल घटाने में हो सकती है मददगार

  • 125
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें