और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या वाकई अखरोट जोड़ों के दर्द से निजात दिला सकता है? आइए पता करते हैं

Published on:2 November 2021, 09:30am IST
सर्दियां आते ही जोड़ों के दर्द की समस्या शुरू हो जाती है। मजबूरन दर्द निवारक दवाओं का सेवन करना पड़ता है। पर क्या अखरोट इस दर्द से निजात दिलाने में आपके एजिंंग पेरेंट्स की मदद कर सकता हैं!
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 97 Likes
Akhrot ko banaye healthy diet ka hissa
अखरोट को बनाएं अपनी हेल्दी डाइट का हिस्सा। चित्र:शटरस्टॉक

जोड़ों का दर्द,(joint pain) एक ऐसी समस्या है जो बढ़ती उम्र के लोगों में आम हो गई है। इस दर्द से राहत पाने के लिए लोग कई प्रकार के तेल का इस्तेमाल करते हैं साथ ही कई घरेलू नुस्खे (home remedies)  भी अपनाते हैं। ऐसा ही एक सर्वाधिम प्रचलित नुस्खा है आहार में अखरोट (Walnut) शामिल करना। अकसर कहा जाता है कि अखरोट का सेवन जोड़ों के दर्द के लिए रामबाण इलाज होता है। पर क्या यह बात वाकई सच है? अगर हां, तो आइए जानते  हैं यह कैसे काम करता है। 

सबसे पहले जानते हैं जोड़ों के दर्द का कारण 

शरीर के जोड़ ऐसी जगह मानी जाती हैं, जहां दो या दो से ज्यादा हड्डियां (Bones)  एक-दूसरे से जुड़ती हैं जैसे कि कूल्हा या फिर घुटना। जोड़ों में नरम हड्डी गद्दे की तरह होती हैं जो दबाव में उनकी रक्षा करती हैं और गतिविधि को सरल बनाती हैं।

लेकिन जब किसी जोड़ में हड्डियों के बीच मौजूद कोमल पदार्थ नष्ट होने लगता है, तो हड्डियां एक दूसरे से रगड़ खाने लगती हैं। जिसकी वजह से दर्द, सूजन और ऐंठन होने लगती है। यही घुटनों में दर्द का कारण बनता है।

हड्डी की मजबूती और अखरोट का संबंध! 

अखरोट (Walnut)  में कई घटक और प्रॉपर्टीज होती हैं, जो आपकी हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाने का काम करती हैं। अखरोट में अल्फा-लिनोलेनिक ऐसिड (alpha-linolenic acid) पाया जाता है, जिससे हड्डियां मजबूत रहती हैं। 

इसके अलावा अखरोट में ओमेगा-3 ऐसिड (omega-3 acids) की मात्रा भी होती है, यह सूजन को दूर करता है।  ऐसे में अखरोट हड्डियों को ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) होने से रोकता है। बढ़ती उम्र के साथ जब शरीर की हड्डियां कमजोर होने लगती हैं, तो अखरोट हड्डियों को पोषक तत्व पहुंचाता है, जिससे दर्द में राहत मिलती है।

akhrot khane se jodo ke dard se aaram milta hai
अखरोट खाने से जोड़ों के दर्द से आराम मिलता है। चित्र- शटरस्टॉक।

क्या कहता है अध्ययन ?

राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (National Institute of Health)  द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार 13 अध्ययन में एक विश्लेषण से पता चला है कि अखरोट खाने से सूजन में कमी आती है।

अखरोट विशेष रूप से ओमेगा -3 फैटी एसिड में उच्च होते हैं, जो गठिया के लक्षणों को कम करने के लिए दिखाया गया है । एक अध्ययन में, संधिशोथ के 90 रोगियों ने ओमेगा -3 फैटी एसिड या जैतून के तेल की खुराक ली, जिससे उन्हें फायदा पहुंचा।

कैसे करें अखरोट का सेवन ?

हड्डियों की मजबूती के लिए आप अखरोट का दो प्रकार से सेवन कर सकती हैं-

1. भीगा हुआ अखरोट

अगर आप अपने जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको रोजाना सुबह खाली पेट भीगे हुए एक अखरोट की गिरी को अच्छे से चबा चबाकर खाना होगा। ऐसा करने से कुछ ही दिन में आपको इसके लाभ नजर आने लगेंगे ।

2. गर्म दूध के साथ खाएं अखरोट

 दूध ( Milk ) में प्रोटीन की मात्रा काफी अच्छी होती है। जिससे अखरोट ( Wall Nut )  दूध के साथ काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। घुटनों के दर्द से निजात पाने के लिए अखरोट का दूध के साथ सेवन करें। सुबह खाली पेट दूध के साथ अखरोट रोजाना खाने से आपको लाभ महसूस होने लगेगा। 

जरूरत से ज्यादा अखरोट का सेवन है हानिकारक!

यकीनन अखरोट के कई फायदे होते हैं, लेकिन इनका ज्यादा सेवन करने से अखरोट के साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिल सकते हैं। पाचन तंत्र में समस्या, एलर्जी, वजन बढ़ने की समस्या और अल्सर की परेशानी अखरोट के ज्यादा सेवन के परिणाम हो सकते हैं। 

Alag-alag tariko se akhrot ka sewan
अलग-अलग तरीकों से अखरोट का सेवन कर सकते हैं। चित्र : शटरस्टॉक

इसलिए, ध्यान रखें कि एक दिन में एक या दो अखरोट से ज्यादा का सेवन न करें। कुछ लोगों को अखरोट से पेट में जलन या गर्मी बढ़ने की समस्या भी होने लगती है। अगर आप अपने एजिंग पेरेंट्स को अखरोट दे रहीं हैं, तो एक बार डॉक्टर से परामर्श अवश्य कर लें।

तो लेडीज, बढ़ती उम्र की परेशानियों से बचने के लिए अपनी हेल्दी डाइट (healthy diet) में अखरोट को भी विशेष स्थान दें। 

यह भी पढ़ें: विशेषज्ञों के अनुसार डार्क चॉकलेट कम कर सकती है हृदय संबंधी बीमारियों का जोखिम, जानिए कैसे

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।