खजूर, इलायची और घी भी बढ़ा सकते हैं फर्टिलिटी, बेबी प्लान कर रहे हैं तो जरूर खाएं ये 9 फूड्स

दोनों कपल्स को शुरुआत से ही फर्टिलिटी पर ध्यान देना चाहिए। डियर कपल्स बेबी प्लान कर रहे हैं तो हेल्दी फर्टिलिटी के लिए अपनी डाइट में शामिल करें ये 9 सुपरफूड्स, एक्सपर्ट बता रहे हैं इनकी अहमियत।
सभी चित्र देखे Fertility badhaane ke liye vitamin D ke fayde
प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में विटामिन डी की उच्च मात्रा लो बर्थ वेट और बच्चे में अस्थमा जैसी जोखिम कम करने में मदद करता है। । चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 25 Mar 2024, 11:00 am IST
  • 134

आज के समय में बहुत से कपल्स इनफर्टिलिटी को फेस कर रहे हैं। इस अनहेल्दी लाइफस्टाइल ने महिला एवं पुरुष दोनों के लिए फर्टिलिटी को काफी चैलेंजिंग बना दिया है, जिसकी वजह से कपल्स को कंसीव करने के लिए काफी ज्यादा स्ट्रगल करना पड़ता है। मेल हो या फीमेल कंसीव करने में दोनों की बराबर की भागीदारी होती है, और यदि कोई एक भी अपनी सेहत के प्रति लापरवाह है, तो प्रेगनेंसी प्लान करना मुश्किल हो जाता है। इसलिए दोनों कपल्स को शुरुआत से ही फर्टिलिटी पर ध्यान देना चाहिए।

यदि आप बेबी प्लान करना चाहती हैं, तो हमारे पास फर्टिलिटी बूस्ट करने का एक अच्छा विकल्प है। ऐसे कुछ खास फर्टिलिटी बूस्टिंग फूड्स हैं, जिसे दोनों कपल्स को अपने नियम में डाइट में शामिल करना चाहिए। इनके सेवन से बेबी प्लानिंग करते हुए आपको कंसीव करने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं आती।

आयुर्वेद एक्सपर्ट और हेल्थ कोच चैताली राठौर ने उन सभी कपल्स के लिए जो बच्चे की प्लानिंग कर रहे हैं या फ्यूचर में कंसीव करने में किसी प्रकार की परेशानियों का सामना नहीं करना चाहते हैं, उन्हें कुछ खास खाद्य पदार्थों का सेवन करने की सलाह दी है। साथ ही उन्होंने बताया है कि यह खाद्य पदार्थ आपकी फर्टिलिटी को किस तरह बढ़ा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इस बारे में अधिक विस्तार से (foods to increase fertility)।

fertility preservation breast cancer survivors ke liye bahut helpful sabit hua hai
कई ऐसी गतिविधियां हैं जिससे प्रजनन क्षमता को नुकसान पहुंचता है। चित्र: अडोबी स्टॉक

यहां जानें फर्टिलिटी इंप्रूव करने के लिए कुछ खास सुपरफूड्स के नाम (foods to increase fertility)

1. खजूर (dates)

खजूर कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह सभी उम्र के लोगों के लिए जरूरी है, और इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। वहीं यह इनफर्टिलिटी संबंधी समस्याओं में महिला एवं पुरुष दोनों के लिए बेहद कारगर साबित हो सकता है। यह एक स्वस्थ तंत्रिका टॉनिक (nervine tonic) देता है और पुरुष एवं महिला दोनों के शरीर को पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करता है। इसका नियमित सेवन पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन जैसी समस्याओं में कारगर होता है, वहीं महिलाओं की फर्टिलिटी को मजबूत करता है जिससे कि कंसीव करना आसान हो जाता है।

2. इलायची (cardamom)

इलायची एक अद्भुत मसाला है जो पित्त और वात दोष को संतुलित करती है, इसमें कई महत्वपूर्ण विटामिन जैसे राइबोफ्लेविन और नियासिन, एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो अच्छे स्वास्थ्य, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन और इनफर्टिलिटी जैसी समस्याओं में कारगर होते हैं। यदि आप कंसीव करने का सोच रही हैं, तो इलायची को मसाले के तौर पर इस्तेमाल करने के साथ ही आप इसकी चाय को अपनी नियमित डाइट का हिस्सा बना सकती हैं। साथ ही साथ इसे नियमित रूप से चबाया जा सकता है, जिससे कि यह माउथ फ्रेशनर के तौर पर काम करती है और सांसों की बदबू को भी दूर करती है।

3. घी (ghee)

आयुर्वेद की माने तो गाय का घी मनुष्य के लिए एक पवित्र, शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य लाभ देने वाला पदार्थ है। गाय का घी उन कपल्स के लिए वरदान साबित हो सकता है जो इनफर्टिलिटी का शिकार हैं। गाय के घी को स्वस्थ तरीके से अपने डाइट में शामिल कर आप अपनी फर्टिलिटी को इंप्रूव कर सकती हैं। साथ ही साथ इससे आपको कंसीव करने में बेहद आसानी होगी।

ghar par kaise banaen ghee
आप भी तैयार कर सकती हैं घर पर देसी घी। चित्र : शटरस्टॉक

इसका सेवन केवल महिलाओं को ही नहीं बल्कि पुरुषों को भी करना है। घी में मौजूद महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल्स फर्टिलिटी के साथ ही सेहत संबंधी कई अन्य समस्याओं में भी बेहद कारगर होते हैं।

4. लौंग (Clove)

लौंग उन मसालों में से एक है जो आयुर्वेदिक फर्टिलिटी फॉर्मूलेशन में चिकित्सीय तरीकों से उपयोग किया जाता है। आयुर्वेद में फर्टिलिटी संबंधी समस्याओं को ट्रीट करने के लिए लौंग को एक बेहद प्रभावशाली सुपरफूड माना जाता है। उच्चतम स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए इस मसाले या जड़ी बूटी को पाक तरीके में शामिल किया जाता है। यदि आप कंसीव करने का सोच रही हैं तो इसे अपनी और अपने पार्टनर की डाइट का हिस्सा जरूर बताएं।

5. गन्ना (Sugarcane)

गन्ने को आयुर्वेद में इक्षु कहा जाता है, इसमें कामोत्तेजक, शारीरिक शक्ति और स्पर्म की गुणवत्ता में सुधार करने के गुण होते हैं। आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल फर्टिलिटी संबंधी समस्याओं को ट्रीट करने के लिए किया जाता है। वहीं यह सेक्शुअल पॉवर को बूस्ट करता है, जिससे कि कपल्स एक हेल्दी और प्लेजरेबल सेक्स लाइफ एंजॉय कर पाते हैं।

sugarcane ka glycaemic index kam hota hai.
गन्ने में फ्रुक्टोस नमक चीनी पायी जाती है । चित्रःशटरस्टॉक

6. काली किशमिश (Black raisins)

काली किशमिश को त्रिदोष संतुलन के लिए सबसे अच्छा फल कहा जाता है। इसमें कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों के गुणवत्ता पाई जाती है, जो इन्हें बेहद खास बनाती हैं। यह एक स्वस्थ शरीर का निर्माण करती है, साथ ही साथ सेक्शुअल पॉवर को भी बूस्ट करती है। इतना ही नहीं इसका प्रभाव मेल और फीमेल फर्टिलिटी पर भी देखने को मिलता है, इसलिए जो कपल्स इनफर्टिलिटी की समस्या से परेशान हैं उन्हें अपनी डाइट में काली किशमिश को जरूर शामिल करना चाहिए। आप इन्हें भिगोकर ले सकती हैं, साथ ही इनके पानी को पीने से भी फायदे मिलेंगे।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

यह भी पढ़ें: पतले होने के लिए खुद को भूखा रख रही हैं, तो जान लीजिए किसी भी तरह की स्टारवेशन डाइट के जोखिम

7. जायफल (Nutmeg)

जायफल एक मजबूत जड़ी बूटी है जो खाद्य पदार्थों में मसाले के तौर पर इस्तेमाल की जाती है। यह खाने में फ्लेवर ऐड करती है। एक स्वस्थ प्रजनन क्षमता के लिए जलफल का इस्तेमाल पुरुष और महिलाओं दोनों द्वारा किया जा सकता है। इसमें उच्च शक्ति होती है जो स्पर्म क्वालिटी और क्वांटिटी दोनों में सुधार करती है, और महिलाओं मैं समग्र फर्टिलिटी स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है।

8. गुलाब (Rose)

गुलाब प्रभावी और खास जड़ी-बूटियों में से एक है, आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल अलग-अलग रूप से अलग-अलग स्वास्थ्य समस्याओं को ट्रीट करने के लिए किया जाता है। यह पुरुष और महिला दोनों के प्रजनन क्षमता में सुधार करती है। यह शरीर में ऑक्सीटोसिन के रिलीज को बढ़ा देती है, जो एक लव प्रेम हार्मोन है। यह तनाव से राहत देता है, मन में शांति पैदा करता है और शारीरिक और मानसिक रूप से रिश्तों के लिए स्वस्थ बंधन बनाने में मदद करता है।

rose jam
गुलाब से बनी हुई जैम और अपने पार्टनर को करें खुश। चित्र- अडोबी स्टॉक

9. अनार (Pomegranate)

मीठा अनार स्पर्म की क्वालिटी में सुधार करता है, क्योंकि आयुर्वेद कहता है कि सुक्राला का मतलब है कि यह स्पर्म की गुणवत्ता बढ़ाता है और महिलाओं के लिए, यह एक स्वस्थ हार्मोनल चक्र को बढ़ावा देता है। महिलाओं में यदि हार्मोन संतुलित रहते हैं, तो उनकी फर्टिलिटी को बनाए रखना अधिक आसान हो जाता है। वहीं पुरुषों में स्पर्म की गुणवत्ता कंसीव करने के दौरान बेहद महत्व रखती है। आप गुलाब की पंखुड़ियां को सुखाकर पाउडर बनाकर अपनी डाइट में ऐड कर सकती हैं, वहीं गुलाब की ताजी पंखुड़ियां की चाय या इनका रस भी बेहद कारगर रहेगा।

यह भी पढ़ें: World TB Day : टीबी को कंट्रोल करने के लिए जरूरी है डाइट पर ध्यान देना, एक्सपर्ट बता रहे हैं क्या खाएं और क्या नहीं

  • 134
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख