Omicron Diet : कोविड – 19 से बचने और जल्दी रिकवर होने के लिए इन फूड्स को बनाएं अपनी डाइट का हिस्सा

Updated on: 10 January 2022, 18:39 pm IST

बीमारियों से ठीक होने के लिए आहार सबसे महत्वपूर्ण है। इसलिए ओमिक्रोन से बचने के लिए इन फूड्स को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं।

covid - 19 se recover hone ke liye khaaen ye foods
कोविड -19 रिकवरी के लिए खाएं ये फूड्स। चित्र : शटरस्टॉक

नए साल 2022 के साथ, हमें नई शुरुआत की उम्मीद थी, कि अब हम महामारी से मुक्त हो सकेंगे और एक सामान्य जीवन जी सकेंगे। मगर कोविड – 19 महामारी (Covid – 19 Pandemic) है कि जाने का नाम ही नहीं ले रही है। भारत तीसरी लहर (Third Wave) में प्रवेश कर चुका है क्योंकि फिर से कोरोनोवायरस के मामलों में वृद्धि हुई है और बहुत लोग नए वेरिएंट, ओमिक्रॉन (Omicron) से संक्रमित हो रहे हैं।

हालांकि विशेषज्ञ ऐसा मान रहे हैं कि यह लहर ज़्यादा जानलेवा नहीं है। मगर फिर भी सरकार द्वारा दिए गए मानदंडों पर टिके रहना ज़रूरी है। हालांकि, फिर भी अगर कोई कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमित हो रहा है, तो उसे आहार पर विशेष ध्यान देना चाहिए क्योंकि ठीक होने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

तो चलिये जानते हैं उन फूड के बारे में जो आपके ओमिक्रॉन से लड़ने में मदद करेंगे और इससे संक्रमित होने से भी बचाएंगे।

1. प्लांट बेस्ड फूड्स को डाइट में शामिल करें

प्लांट बेस्ड फूड्स पोषक तत्वों में उच्च होते हैं। यह एक स्वस्थ गट माइक्रोबायोम (Gut Microbiome) और प्रतिरक्षा प्रणाली t(Immune System) में योगदान करते हैं।

plant based diet aapke liye faydemand hai
एक स्वस्थ गट माइक्रोबायोम में योगदान करती हैं प्लांट बेस्ड डाइट। चित्र : शटरस्टॉक

ZOE COVID अध्ययन के वैज्ञानिकों ने पाया कि जिन लोगों ने प्लांट बेस्ड फूड्स (Plant Based Foods) खाए, उनके गंभीर रूप से बीमार होने या कोविड की वजह से अस्पताल में भर्ती होने की संभावना 40 प्रतिशत कम थी, और वायरस के संक्रमित होने की संभावना 10 प्रतिशत से भी कम थी।

तो हरी पत्तेदार सब्जियां विटामिन A, B6 और B12 से भरपूर होती हैं, जबकि फल विटामिन C से भरपूर होते हैं। सीड्स और मेवे भी प्रोटीन, स्वस्थ वसा, विटामिन E और आयरन के शानदार स्रोत हैं।

2. पर्याप्त प्रोटीन और कैलोरीज लें

यदि आप कोविड हुआ है, तो आपके शरीर को वायरस से लड़ने के लिए पर्याप्त ऊर्जा की आवश्यकता होती है। तो अंडे, मछली, टोफू और दालें जैसे प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ आपके भोजन का आधार होना चाहिए, साथ ही सब्जियों और कुछ साबुत अनाज (Whole Grains) भी लें।

ऐसे ज़रूरी नहीं है कि आपको बहुत अधिक भूख लगे। मगर आपको अपनी ऊर्जा के स्तर को बनाए रखने के लिए पर्याप्त कैलोरी (Calorie) और पर्याप्त प्रोटीन खाने की पूरी कोशिश करनी चाहिए। यदि आपको भूख कम लग रही है, तो पौष्टिक खाद्य पदार्थ लें, जैसे कि नट बटर (Nut Butter) के साथ केला, मुट्ठी भर नट्स या सीड्स।

3. विटामिन D बहुत महत्वपूर्ण है

तेलंगाना में मई 2021 में निजाम इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्स (NIMS) और गांधी अस्पताल के डॉक्टरों द्वारा स्थानीय कोविड पॉज़िटिव रोगियों पर एक अध्ययन किया गया था। यह अध्ययन ‘नेचर’ जर्नल (Nature Journal) में प्रकाशित किया गया था। अध्ययन ने संकेत दिया कि आहार में विटामिन डी को शामिल करने से बेहतर परिणाम होंगे और व्यक्ति जल्दी रिकवर होगा।

vitamin d corona ke jokhim ko kam kar sakta hai
विटामिन-D कोरोना के जोखिम को कम कर सकता है. चित्र : शटरस्टॉक

इस स्टडी को देखकर हम साफ तौर पर कह सकते हैं कि विटामिन डी से भरपूर खाद्य पदार्थ कोविड-19 वेरिएंट से उबरने में अहम साबित हो सकते हैं। इसलिए आहार में मशरूम, अंडे की जर्दी, दही और दूध जैसे खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए। साथ ही एक घंटे धूप में बैठना भी जरूरी है।

4. विटामिन C भी है ज़रूरी

कोविड – 19 से रिकवर होने के लिए सबसे ज़्यादा जो ज़रूरी है वो है मजबूत इम्युनिटी सिस्टम। ऐसे में विटामिन C हमारी मदद कर सकता है क्योंकि यह हमारी इम्युनिटी बेहतर करने के लिए जाना जाता है।

यह एक पानी में घुलनशील विटामिन है जो एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है जो हमारे प्रतिरक्षा कार्य को बढ़ाता है। इसलिए अपने आहार में खट्टे फल, गहरे रंग की पत्तेदार सब्जियां, अमरूद, कीवीफ्रूट, ब्रोकोली, स्ट्रॉबेरी और पपीता शामिल करें।

5. अपनी डाइट में हल्के मसाले और जड़ी बूटियां भी लें

कोरोनावायरस के सबसे आम लक्षणों में से एक स्वाद या गंध की आपकी भावना में बदलाव है, जिससे खाना बनाना और खाना मुश्किल हो सकता है। कुछ लोगों ने पाया है कि खाने का आनंद लेने में कुछ जड़ी-बूटियां और मसाले मददगार साबित हो सकते हैं।

लहसुन, अदरक और लॉन्ग, हल्दी, दालचीनी – यह सभी स्वाद और पोषण से भरपूर हैं। यह न सिर्फ आपके खाने के अनुभव को बेहतर बना सकते हैं बल्कि इम्युनिटी बढ़ाने में भी मदद करेंगे।

लहसुन, हल्दी और अदरक को सूजन-रोधी के रूप में जाना जाता है, और अदरक भी खांसी – जुकाम, बुखार का इलाज कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें : सर्दियों की बरसात में हेल्दी स्नैक्स है भुट्टा, यहां जानिए इसके फायदे

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें