ओमिक्रोन से जल्दी रिकवरी के लिए डाइट में शामिल करें सोयाबीन और दूध

जब हमारे शरीर में प्रोटीन ( Protein ) की कमी होती है तो हमारा इम्यून सिस्टम ( Immune System ) कमजोर पड़ने लगता है और कोरोना से जंग जीतने के लिए इम्युनिटी का मजबूत होना बहुत जरूरी है। इसमें सोयाबीन (Soyabean) और दूध (Milk) आपकी मदद कर सकते हैं।
soyabean se kaise banayein milk
सोया मिल्क का सेवन करने से हार्मोन में बढ़ने वाले असंतुलन को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। चित्र : शटरस्टॉक
अक्षांश कुलश्रेष्ठ Published: 13 Jan 2022, 09:30 am IST
  • 114

देश में ओमिक्रोन (Omicron) के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है। जानकारों का मानना है कि मामले फरवरी में पीक (Covid-19 third wave peak) पर पहुंच सकते हैं। इस बार लोगों को अपनी चपेट में लेने वाला संक्रमण का वेरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) है। शुरू से ही इस वैरिएंट को लेकर खतरा बताया जा रहा था। क्योंकि यह काफी तेजी से फैलने वाला वैरिएंट है। अगर आप भी इस वायरस की चपेट में आ गए हैं, तो आपको कुछ सुपरफूड्स ( Superfoods for Omicron)  इससे जल्दी उबरने में सहायता कर सकते हैं। 

प्रोटीन युक्त भोजन है शरीर के लिए बहुत आवश्यक (Protein For Body) 

जीवन के हर मोड़ पर हमारे शरीर को प्रोटीन की आवश्यकता होती है। दरअसल हमारे शरीर में  मौजूद हर कोशिका (Body Cell) में प्रोटीन (Protein) पाया जाता है। प्रोटीन का एक बेसिक स्ट्रक्चर अमीनो एसिड (Amino acid) की चेन होती है। प्रोटीन बच्चों, किशोरों और गर्भवती महिलाओं में वृद्धि और विकास के लिए भी महत्वपूर्ण है। ओमिक्रोन से रिकवरी ( protein For Omicron Recovery )  के लिए भी प्रोटीन होना जरूरी है, जिसकी कमी को हम पूरा कर सकते हैं।

shareer ke liye protein hai zaoori
शरीर के लिए प्रोटीन का सेवन है ज़रूरी। चित्र : शटरस्टॉक

हमें अपने आहार में कुछ सुपरफूड्स की मदद से प्रोटीन की मात्रा लेनी बहुत आवश्यक होती है। ताकि हमारे शरीर की कोशिकाएं अपनी मरम्मत ( Cell development) कर सकें और नई कोशिकाओं को डेवलप कर सकें। 

कोविड -19 और प्रोटीन (Covid And Protein) 

शरीर में प्रवेश करने के बाद संक्रमण जब म्यूटेट होता है, तो कोशिकाओं से चिपकने लगता है। ऐसे में जब कोशिकाएं प्रोटीन की कमी से कमजोर हो जाती हैं, तो वायरस उन्हें पूरी तरह से कब्जा लेता है। जिससे रिकवरी काफी जटिल हो जाती है। प्रोटीन की कमी से इम्यून सिस्टम कमजोर होने लगता है। हमारी कोशिकाएं बिना प्रोटीन के खुद का निर्माण नहीं कर सकती है।

रोजाना शरीर को कितने प्रोटीन की होती है जरूरत (How Much Protein Do we need) 

यह हर व्यक्ति के लिए सामान्य नहीं है। डॉक्टरों द्वारा शरीर के वजन के अनुसार प्रोटीन लिए जाने की सिफारिश की जाती है। मैक्रोन्यूट्रिएंट्स के लिए डाइटरी रेफरेंस इंटेक रिपोर्ट की मानें तो, एक गतिहीन वयस्क को शरीर के वजन के प्रति किलोग्राम 0.8 ग्राम प्रोटीन या 0.36 ग्राम प्रति पाउंड का सेवन करना जरूरी है। 

इसका मतलब है कि औसत गतिहीन पुरुष को प्रतिदिन लगभग 56 ग्राम प्रोटीन खाना चाहिए, और औसत महिला को लगभग 46 ग्राम खाना चाहिए।

ओमिक्रोन से रिकवरी के लिए सोयाबीन और दूध

ज्यादातर मांसाहारी फूड (Meat Protein) में प्रोटीन होता है। लेकिन शाकाहारी लोगों के लिए सोयाबीन ( soyabean) और दूध (Milk) से बेहतरीन विकल्प कोई और नहीं हो सकता। यह ऐसा सुपरफूड है जो जल्द से जल्द शरीर में प्रोटीन की कमी पूरा करने की अहम भूमिका निभा सकता है। 

soyabean mein paaya jaata hai paryaapt maatra mein phaibar aur proteen
सोयाबीन में पाया जाता है पर्याप्त मात्रा में फाइबर और प्रोटीन, चित्र- शटरस्टॉक.

एनसीबीआई ( NCBI) के अनुसार सोयाबीन की प्रोटीन सामग्री सूखे वजन का 36-56%  होती है, सोयाबीन में मुख्य प्रकार के प्रोटीन ग्लाइसिनिन (glycinine) और कॉग्लिसिनिन (conglycinin) हैं, जो कुल प्रोटीन सामग्री का लगभग 80% बनाते हैं। इसके अलावा USDA बताता है कि 172 ग्राम उबले हुए सोयाबीन में लगभग 29 ग्राम प्रोटीन होता है।

वहीं अगर दूध की बात की जाए, तो 100 ग्राम दूध में 3.4 ग्राम प्रोटीन होती है। यह आइसोलेट प्रोटीन का अच्छा जरिया है जो हमारे शरीर के लिए सभी आवश्यक अमीनो एसिड प्रदान करता है। यह ब्रांच्ड-चेन अमीनो एसिड का भी एक अच्छा स्रोत है, जैसे कि ल्यूसीन, जो मांसपेशियों की वृद्धि और रिकवरी के लिए महत्वपूर्ण हैं।

ध्यान देने की जरूरत 

प्रोटीन का ज्यादा सेवन हमारे शरीर के लिए अच्छा नहीं है। हमें अपना वजन देखना चाहिए और उसके अनुसार ही प्रोटीन की मात्रा को अपनाना चाहिए। दरअसल हमारा शरीर प्रोटीन को स्टोर नहीं करता है, जब एक बार शरीर को प्रोटीन का कोटा पूरा मिल जाता है तो वह ज्यादा प्रोटीन को याद तो एनर्जी में कन्वर्ट कर देता है या तो फ्लैट में। 

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

जिसके बाद हमें कई शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। प्रोटीन आपको संक्रमण से उबरने में मदद कर सकता है, लेकिन ज्यादा जल्दी रिकवर होने के लिए ज्यादा प्रोटीन का सेवन आपके लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं।

यह भी पढ़े : वेट लॉस ही नहीं करती, आपकी इम्युनिटी भी बढ़ाती है मकर संक्रांति वाली खिचड़ी, यहां जानिए इसके पोषक तत्व

  • 114
लेखक के बारे में

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में ...और पढ़ें

अगला लेख