डायबिटीज के रोगियों के लिए फायदेमंद है मूली, हम बता रहे हैं इसके सेवन का सही तरीका

Published on: 3 January 2022, 08:00 am IST

अगर आप मूली का सही तरीके से सेवन करती हैं, तो यह आपको पाचन संबंधी समस्याओं के साथ ही डायबिटीज को भी कंट्रोल कर सकती है।

mooli ke fayde
जानिए कैसे किया जा सकता है मूली का सेवन। चित्र : शटरस्टॉक

सर्दियों में कई अलग – अलग तरह की सब्जियां आती हैं और इनका स्वाद भी बेहद अनोखा होता है। ऐसे में मूली (Radish) हर किसी की पसंदीदा होती है। मूली एक कम कैलोरी (Low Calories) वाली सब्जी है। जिसे बहुत से लोग अपने स्वस्थ आहार में शामिल करते हैं। सर्दियों में गर्मा गर्म मूली के पराठे किसे नहीं पसंद हैं? साथ ही कुछ लोग इसे सलाद के रूप में भी खाना पसंद करते हैं।

मूली खाने के कई फायदे हैं परंतु यदि आपक डायबिटिक हैं तो आपको हर सब्ज़ी बहुत सोच समझकर खानी चाहिए। क्योंकि एक गलत आहार आपके ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) में उतार – चढ़ाव का कारण बन सकता है। तो आइए समझते हैं, मूली डायबिटीज (Diabetes) के लोगों के लिए फायदेमंद है या नहीं?

तो चलिये सबसे पहले जानते हैं मूली का पोषण मूल्य

आधा कप कटी हुई कच्ची मूली में 12 कैलोरी, 4 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 2 ग्राम फाइबर, 1 ग्राम प्रोटीन और लगभग शून्य में वसा होती है। मूली विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत है, इसलिए आधा कप मूली खाने की सलाह दी जाती है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि विटामिन सी (Vitamin C) का दैनिक सेवन 15% तक हो।

mooli ke fayde
स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है मूली। चित्र : शटरस्टॉक

यह विटामिन B6, विटामिन के, पोटेशियम, फोलेट, नियासिन, कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, जस्ता, तांबा, सोडियम आदि का भी एक अच्छा स्रोत है। इसके निम्न ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Glycemic Index) स्तर के कारण, इसे मधुमेह के लिए सबसे अच्छी सब्जियों में से एक है।

मूली खाने के कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं जैसे –

उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करती है और हृदय संबंधी जोखिमों को कम करती है
यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI) के खतरे को दूर करती है
यह वजन घटाने के लिए भी फायदेमंद है
मूली लिवर और पेट के लिए एक शक्तिशाली डिटॉक्सिफायर (Detoxifier) के रूप में कार्य करती है

एनसीबीआई (NCBI) भी करता है मधुमेह में मूली खाने की सिफारिश

मूली में ग्लूकोसाइनोलेट्स (Glucosinolates) और आइसोथियोसाइनेट्स (Isothiocyanates) जैसे यौगिक होते हैं, जो रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

इससे शरीर में एडिपोनेक्टिन (Adiponectin) का प्राकृतिक उत्पादन भी बढ़ सकता है, जो इंसुलिन प्रतिरोध (Insulin Resistance) को रोकने में मदद करता है।

मूली की जड़ों की उच्च फाइबर (High Fiber) सामग्री पाचन में सहायता करती है और रक्त में शर्करा को धीरे-धीरे और समान रूप से छोड़ती है, जिससे अचानक रक्त शर्करा में उतार-चढ़ाव की संभावना कम हो जाती है।

diabetes mein mooli ke fayde
मूली का रस आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। चित्र-शटरस्टॉक।

यदि आपको डायबिटीज है तो आप मूली का सेवन कैसे कर सकती हैं

1. मूली का जूस (Radish Juice)

जूसर में आधा कप कटी हुई मूली डाल कर ब्लेंड कर लें। किसी भी गूदे या बीज को छानने के लिए रस को एक कटोरे में निकाल लें। आप चाहें तो काली मिर्च और नींबू मिला सकती हैं।

2. मूली का सलाद (Radish Salad)

एक बाउल में आधा कप कटी हुई मूली और आधा कप कटा हुआ खीरा डालें। नींबू का रस, जैतून का तेल, नमक और काली मिर्च को एक साथ फेंटें और फिर सलाद के ऊपर डालें। यह स्वादिष्ट सलाद आप खाने के साथ खा सकती हैं।

3. मूली का सूप (Radish Soup)

एक कप पानी उबालें और इसमें आधा कप कटी हुई मूली डालें। मूली को नरम होने तक पकाएं। 5 मिनट के बाद इन्हें मिक्सर में पीस लें। तरल को छान लें और आधा कप पानी डालकर एक बार फिर 15 मिनट तक उबालें। ऊपर से धनिया और मूली के पत्ते डालकर गरमा गरम सूप परोसें।

मूली का सेवन करने का सही समय क्या है?

आधा कप मूली को आप सलाद या स्नैक के तौर पर दिन में कभी भी खा सकते हैं। मूली की तासीर ठंडी होती है, इसलिए रात के समय इसका सेवन करने से बचें। इसके अलावा मूली का सेवन करने से पहले आप डॉक्टर की सलाह भी ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें : न्यू ईयर पर बनाएं सुपर हेल्दी और टेस्टी ओट्स केक, जानिए इसकी रेसिपी

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें