क्या आप भी नाश्ते में ब्रेड या बिस्कुट खा रहीं हैं? तो जानिए इनसे बचने के 5 कारण 

भले ही हेल्दी कॉम्प्लेक्स कार्ब्स, फाइबर से भरे हैं और शरीर को आवश्यक पोषण देते हैं, लेकिन आपको सुबह के नाश्ते में इन्हें खाने से बचना चाहिए। 

नाश्ते में कार्ब्स के नुकसान। चित्र: शटरस्टॉक
शालिनी पाण्डेय Updated on: 6 September 2022, 18:57 pm IST
  • 111

कई अध्ययनों से पता चला है कि सुबह जागने के ठीक बाद कार्बोहाइड्रेट खाने से डोपामाइन और कोर्टिसोल जैसे रसायन निकल सकते हैं। जो आपको सुस्त और आलसी बनाते हैं। सुबह-सुबह इनका सेवन वजन बढ़ाने में भी योगदान कर सकता है। हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के 2018 के एक अध्ययन के अनुसार अगर आप हेल्दी पोषण के साथ-साथ पूरे दिन एक्टिव रहना चाहती हैं, तो आपको कॉम्प्लेक्स कार्ब्स रिच फ़ूड को नाश्ते (complex carbs in breakfast disadvantages) में लेने से बचना चाहिए। हम बता रहे हैं इसके कारण। 

एक बिज़ी दिन के लिए तैयार रहने के लिए शरीर को पर्याप्त एनर्जी की जरूरत होती है और इसलिए ब्रेकफास्ट प्रोटीन, विटामिन और कई प्रकार के पोषक तत्वों जैसे फल, मेवा और जड़ी-बूटियों (herbs)से भरा होना चाहिए जो आपको पोषण देते हैं।

क्या हैं सबसे ज्यादा  प्रचलित कॉम्प्लेक्स कार्ब्स

कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट क्या होता है?

शुगर टिशूज़ की लंबी, जटिल श्रृंखलाओं से बने होते हैं, जो आमतौर पर शरीर में टूटने और उपयोग के लिए अधिक समय लेते हैं। यह अधिक सुसंगत ऊर्जा प्रदान करता है।

Foods to eat for skin
किसी भी तरह की सब्जी या फली । चित्र: शटरस्टॉक

कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट मटर, सेम, साबुत अनाज, चावल, छोले, शकरकंद और सब्जियों जैसे खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं। चित्र: शटरस्टॉक

यहां हैं वे कारण, जो ब्रेकफास्ट में कॉम्प्लेक्स कार्ब्स से बचने की सलाह देते हैं 

ब्रेकफास्ट दिन का पहला मील है और इसे हमें समझदारी से चुनना चाहिए। बरसों से चले आ रहे नाश्ते स्वादिष्ट तो लग सकते हैं, पर ये दिन भर नींद आने का भी कारण बन सकते हैं।

1 इंसुलिन सेंसिटिविटी को कम करता है 

सुबह-सुबह कार्ब्स का सेवन करने से इंसुलिन संवेदनशीलता काफी कम हो सकती है। जिससे पेट में चर्बी जमा हो जाती है।

2 लेप्टिन सेंसिटिविटी को कम करता है

कार्बोहाइड्रेट से भरा नाश्ता लेप्टिन के प्रति सेंसिटिविटी को कम कर सकता है, जिसकी वजह से आप असंतुष्ट होते हैं और फुल सेंसेस कम होती है।

3 भूख बढ़ाता है 

नाश्ते में कार्बोहाइड्रेट खाना घ्रेलिन प्रतिक्रिया में काफी वृद्धि कर सकता है, जो एक हंगर  हार्मोन है. यह मस्तिष्क को संकेत देता है कि खाने का समय हो गया है। घ्रेलिन पिट्यूटरी ग्रंथियों को हार्मोन जारी करने का संकेत देता है जो इंसुलिन रिलीज़ करने में ज़रूरी भूमिका निभाते हैं और हृदय स्वास्थ्य की रक्षा करते हैं।

4 ग्लाइसेमिक रिएक्शन को कम करता है

सुबह के नाश्ते में कार्बोहाइड्रेट से भरपूर भोजन करने से ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी कम हो जाता है, जो ब्लड शुगर की मात्रा में बदलाव ले आता है।

corona patient ke liye breakfast
स्प्राउट्स जैसे प्रोटीन युक्त नाश्ते के साथ दिन की शुरुआत करें । चित्र:शटरस्टॉक

5 आंत डिस्बिओसिस का कारण बनता है 

यह आंत माइक्रोबायोटा के असंतुलन से होता है। इसमें लाभकारी माइक्रोबियल इनपुट या सिग्नल का नुकसान और रोगजनक रोगाणुओं का विस्तार शामिल है। गट डिस्बिओसिस आमतौर पर तब होता है जब गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में बैक्टीरिया असंतुलित हो जाते हैं।

 अपने दिन की शुरुआत करने के सही तरीके

डायटिशियन मनप्रीत अपने हालिया इन्स्टाग्राम पोस्ट में इस बारे में बात करते हुए कहती हैं कि दिन की शुरुआत हेल्दी होनी चाहिए, इसलिए 

जागने के बाद तांबे के बर्तन से 400 मिलीलीटर पानी पिएं।

अपने दिन की शुरुआत स्वस्थ वसा (healthy fat) से करें – बादाम – 5, अखरोट – 2 भाग, 1 ब्रेज़िल नट। 

अपने सुबह के आहार में पोषक तत्वों से भरपूर पेय जैसे मोरिंगा पानी, गोंद कतीरा पानी या मेथी के बीज का पानी शामिल करें।

नाश्ते से पहले केला या पपीता जैसे फल खाएं।

लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करने के लिए प्रोटीन युक्त नाश्ता करें।

नाश्ते के लिए ये हो सकते हैं हेल्दी विकल्प 

2007 में आई एनसीबीआई की एक रिसर्च की मानें तो लो कार्ब प्रोटीन रिच वाले फ़ूड ऑप्शन आपको न सिर्फ दिन भर के लिए तृप्त महसूस कराते हैं क्बल्की आपके एनर्जी मीटर को भी हाई रखते हैं. तो चलिए जानें लो कार्ब वाले ऐसे ऑप्शन जो आपके ब्रेकफास्ट के लिए हैं बेस्ट : 

चिया बीज का हलवा

किण्वित (fermented) बाजरे का डोसा और नारियल की चटनी

तले हुए पनीर (shallow fry/ toasted)+ पुदीने की चटनी के साथ बेसन का चीला

मटर और मूंगफली के साथ वेजिटेबल ओट्स

ओट्स और मूंग दाल इडली (सरसों और करी पत्ता के तड़के  के साथ)

यह भी पढ़ें: क्या आपको भी पसंद है बेकिंग? इन 5 तरीकों से साथ स्वस्थ बेकिंग पर करें स्विच

  • 111
लेखक के बारे में
शालिनी पाण्डेय शालिनी पाण्डेय

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory