और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

अपने शरीर को चुस्त-दुरुस्त और तंदुरुस्त रखने के लिए इन 5 दालों और फलियों को करें आहार में शामिल

Published on:22 November 2021, 08:00am IST
कभी-कभी, स्वस्थ खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करना मुश्किल लग सकता है, लेकिन जब फलियों की बात आती हैं, तो ये टेस्टी भी होती हैं और पोषक तत्वों से भरपूर भी। तो चलिये जानते हैं इनके बारे में!
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 105 Likes
दालों और फलियों को करें आहार में शामिल। चित्र : शटरस्टॉक

बीन्स, दाल, छोले और सोयाबीन जैसे फलियां प्रोटीन, फोलेट, मैग्नीशियम और पोटेशियम का एक अच्छा स्रोत है। ये पोषक तत्व अच्छे हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं, रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करते हैं और ऊर्जा को बढ़ावा देते हैं। इसके अलावा, फलियों में एंटीऑक्सीडेंट भी होते हैं जो सूजन को कम करने के लिए जाने जाते हैं। बदले में, शारीरिक फिटनेस को बनाए रखने में मदद करते हैं।

ज़ेन मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल की डायटीशियन प्रिया पालन ने हेल्थशॉट्स को बताया, “सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि बीन्स और फलियों का सेवन सुरक्षित है। भले ही किसी को डायबिटीज, दिल की समस्या हों।”

फलियां सबसे अधिक पौष्टिक शाकाहारी खाद्य पदार्थों में से हैं। ये न केवल स्वस्थ हैं, बल्कि वास्तव में बहुमुखी और स्वादिष्ट हैं।

स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं दालें। चित्र : शटरस्टॉक

स्वास्थ्यप्रद मानी जाने वाली इन पांच फलियों को आज ही अपने आहर में शामिल करें:

1. चना

चना प्रोटीन, फाइबर और फोलेट का एक बड़ा स्रोत है। यह एक कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला भोजन है जो धीरे-धीरे अवशोषित होता है। यही वजह है कि यह रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद करता है। उच्च आहार घुलनशील फाइबर नियमित मल त्याग में मदद करता है।

यह कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है। इस प्रकार यह हृदय रोग के जोखिम को कम करता है। इसमें कोलीन होता है, एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व जिसे मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए कहा जाता है।

2. मसूर की दाल

मसूर दाल अत्यंत पौष्टिक होती है और समग्र स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करती है। यह फाइबर, विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सीडेंट से भरे होते हैं। ये आयरन का भी अच्छा स्रोत होते हैं। साथ ही, फाइबर नियमित मल त्याग और स्वस्थ आंत बैक्टीरिया के विकास का समर्थन करता है। यह आपके रक्त शर्करा के स्तर को संतुलित करने में भी मदद करती है और तृप्ति प्रदान करती है।

3. राजमा

पालन ​​कहती हैं, “यह रक्त में शर्करा के अवशोषण को धीमा कर देते हैं, जिससे रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद मिलती है। वे फाइबर से भरपूर होते हैं, जो बदले में, कोलन स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं और वजन को बनाए रखने में मदद करते हैं।”

Hari matar khane ke hote hai kayi swasthya labh
हरी मटर खाने के होते है कई स्वास्थ्य लाभ। चित्र : शटरस्टॉक

4. मटर

यह फाइबर और प्रोटीन का एक बड़ा स्रोत है, और इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने में मदद करते हैं। दरअसल, मटर में मौजूद फाइबर गट में स्वस्थ बैक्टीरिया को भर देता है, और स्वास्थ्य में सुधार करता है। इसके अलावा, इसका उपयोग सपलीमेंट के रूप में किया जा सकता है, खासकर उन लोगों के लिए जो शाकाहारी आहार का पालन कर रहे हैं।

5. सोयाबीन

पालन कहती हैं “यह एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोन्यूट्रिएंट्स में समृद्ध है। उच्च फाइबर सामग्री गट हेल्थ में सुधार करती है, जबकि विभिन्न बायोएक्टिव प्लांट यौगिक कैंसर, हृदय रोग, रक्तचाप और रक्त कोलेस्ट्रॉल के जोखिम को कम करते हैं।”

आप किसी भी रूप में फलियों को सूप, सलाद, स्ट्यू या अन्य में मिलाकर आसानी से खा सकती हैं।

यह भी पढ़ें : डिनर से पहले की छोटी भूख के लिए तैयार करें ये हेल्दी मशरूम सूप रेसिपी

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।