लॉग इन

आपकी फिटनेस की दुश्मन हैं टेस्टी लगने वाली ये 5 चीजें, एक्सपर्ट बता रहे हैं इनके हेल्दी ऑप्शन

यदि आपको भी जंक खाने की आदत है तो आपको कुछ हेल्दी ऑप्शन्स पर शिफ्ट हो जाना चाहिए जिससे आपका मन और पेट दोनों भर जाए। साथ ही, सेहत को भी कोई नुकसान न पहुंचे।
सॉल्ट युक्त आहार का सेवन वास्तव में भविष्य में टाइप 2 डायबिटीज के विकास का कारण बन सकता है। चित्र : शटरस्टॉक
ऐप खोलें

हेल्दी खाना चाहे कितनी भी टेस्टी क्यों न हो, लेकिन हम हमेशा जंक फूड खाने की तलाश में रहते हैं। ये होता ही इतना टेस्टी है कि हम खुद को रोक ही नहीं पाते हैं। कभी पीरियड्स में मूड स्विंग (mood swing in periods) होने की वजह से चॉक्लेट खाने का मन करता है, तो कभी देर रात मूवी देखते हुये चिप्स याद आ जाते हैं और कभी खाने के लिए कुछ नहीं होता तो टू मिनट नूडल्स (2 minute noodles) पेट भर देते हैं।

मगर इन सब की वजह से हम अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते हैं। जंक खाने की आदत या सिर्फ टेस्ट की वजह से हमारी सेहत कितनी प्रभावित होती है, इसका हमें अंदाज़ा भी नहीं है। यदि आपको भी जंक खाने की आदत है तो आपको कुछ हेल्दी ऑप्शन्स (healthy snacks) पर शिफ्ट हो जाना चाहिए जिससे आपका मन और पेट दोनों भर जाए। साथ ही, सेहत को भी कोई नुकसान न पहुंचे।

इसलिए आपके स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुये इंस्टाग्राम पर डॉ. मनन वोहरा – जो कि एक ओरथोपेडिक और स्पोर्ट्स मेडिसिन हैं – नें जंक फूड के कुछ हेल्थ अलटेरनेटिव साझा किए हैं।

चलिये एक्सपर्ट से जानते हैं आपके फेवरिट जंक फूड के कुछ हेल्दी रिपलेसमेंट के बारे में –

1 रेगुलर चॉकलेट के बजाए ट्राई करें डार्क चॉकलेट

यदि आपको रात में सुहार क्रेविंग्स होती हैं और उसमे आप चॉक्लेट खाना पसंद करती हैं, तो यह आपकी फिटनेस जर्नी को नुकसान पहुंचा सकता है। क्योंकि हम सभी जानते हैं कि चॉक्लेट खाना सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है और इससे ओरल हेल्थ भी प्रभावित होती है।

इसलिए डॉ. मनन के अनुसार रेगुलर या मिल्क चॉक्लेट के बजाय डार्क चॉक्लेट का सेवन करें। इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं जो ब्लड प्रैशर में फायदेमंद साबित हो सकते हैं। कम से कम 70% चॉक्लेट कंटैंट वाली डार्क चॉक्लेट का सेवन करना सबसे सही है।

यहां देखें डॉ. वोहरा का पोस्ट –

2 आलू के चिप्स के बजाय नाचनी चिप्स

मूवी या सीरीज देखते – देखते हम कब चिप्स का पूरा पैकेट खत्म कर देते हैं पता भी नहीं चलता है। ऐसे में आलू के चिप्स सिर्फ कैलोरीज़ और मोटापा बढ़ाने के अलावा कुछ नहीं करते हैं। इसमें सिंपल कार्ब्स होते हैं जो वेट गेन में योगदान करते हैं।

इसलिए, डॉ. मनन का सुझाव है कि आप आलू के बजाय नाचनी चिप्स ट्राई करें क्योंकि यह हेल्दी होते हैं। यह रागी से बने हुये क्रंची चिप्स कैलोरीज़ में भी कम होते हैं और वज़न भी नहीं बढ़ाते। यदि आपको नाचनी चिप्स नहीं पसंद हैं तो कम से कम अपने आलू के चिप्स को बेक या रोस्ट करके खाएं डीप फ्राइड नहीं।

3 कोल्ड के बजाय पिएं फ्रूट जूस

कोल्ड ड्रिंक पीने का शौक है तो जान लें कि यह आपके गले को नुकसान पहुंचा सकती है। कोल्ड ड्रिंक लिवर को प्रभावित करती है और लॉन्ग टर्म में इसे डैमेज भी कर सकती है। डॉ. मनन का मानना है कि कोल्ड ड्रिंक से बेहतर फ्रूट जूस हैं, जो आपको हेल्दी रख सकते हैं। साथ ही, ऊर्जा और पोषण मूल्यों से भरपूर होते हैं।

डिब्बा बंद चीजों के इस्तेमाल से बचें। चित्र – शटर स्टॉक

वे अपने कैप्शन में यह भी लिखते हैं कि फ्रूट जूस से बेहतर सबूत फल होते हैं, क्योंकि इसमें ज़्यादा पोषण पाया जाता है। मगर, फिर भी कोल्ड ड्रिंक से बेहतर तो फ्रूट जूस ही हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

4 डबल रोटी के बजाए, स्टफ्ड रोटी

रात में जब भूख लगती है तो ब्रेड के साथ सैंडविच बड़ी जल्दी बन जाता है, लेकिन काफ अनहेल्दी है। इसलिए, डबल रोटी के बजाय स्टफ्ड रोटी ट्राई करें जैसे – मेथी, बथुआ, पालक वगैरह की। यह काफी टेस्टी और हेल्दी होती हैं।

5 मिठाइयों के बजाए डेट्स, रेजिन या खुबानी

खाने के बाद मीठा खाना पसंद है, पर इसमे मौजूद कैलोरी आपका वज़न बढ़ा सकती है। इसलिए, खाने के बाद कुछ मीठा खाने का मन करे तो किशमिश ट्राई करें। आप खजूर या खुबानी भी खा सकती हैं। यह सर्दियों में आपको गर्म रखेंगी और शुगर क्रेविंग को भी दूर करेंगी।

यह भी पढ़ें : हेल्दी ब्रेकफास्ट को लेकर कंफ्यूज हैं, तो डाइटिशियन रिकमंडेड ग्रेनोला रेसिपी करें ट्राई

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं। ...और पढ़ें

अगला लेख