सोते समय भूलकर भी न खाएं ये फूड्स, एक्सपर्ट से जानिए इसकी वजह

Published on: 19 February 2022, 20:30 pm IST

क्या आपको भी बीच रात में गैस और अपच जैसी समस्याएं हुई हैं? जिनसे आपकी नींद उड़ गई हो? यदि हां... तो यह आपके खाने की वजह से हो सकता है।

raat ko avoid karein ye foods
रात को अवॉइड करें ये फूड्स। चित्र : शटरस्टॉक

अक्सर एक शानदार डिनर करने के बाद आपने देखा होगा कि नींद नहीं आती है। यदि नींद आ भी जाए तो अपच, गैस या एसिडिटी की वजह से खुल जाती है। मगर ऐसा क्यों होता है? इसके पीछे क्या कारण हो सकता है? यह पता लगाने के लिए पढ़ते रहें।

आजकल हर कोई पर्याप्त नींद लेने के लिए संघर्ष कर रहा है। ऐसे में आपके द्वारा खाये गए कुछ फूड्स नींद को और भी मुश्किल बना सकते हैं। कुछ खाद्य पदार्थ, यदि सोने के समय से पहले सेवन किए जाते हैं, तो वास्तव में आपको नींद लेने से रोक सकते हैं। इसलिए यह पता लगाना बहुत ज़रूरी है कि ऐसे कौन से फूड्स होते हैं।

इस बारे में अधिक जानने के लिए हमने मैक्स हॉस्पिटल, गुरुग्राम की क्लिनिकल न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स विभाग की हेड क्लिनिकल न्यूट्रिशनिस्ट – उपासना शर्मा से बात की।

डॉ उपासना बताती हैं कि ”आयुर्वेद की माने तो 7-8 बजे के बाद रात मे कुछ ऐसा नहीं खाना चाहिए जो कि हमारे शारीर से आसानी से ना पचाया जा सके। ऐसी कोई भी चीज जिसे हमे पचाने मे मुश्किल हो तथा देर से पचे, वो सब हमे रात को सोने से पहले नहीं खाना चाहिए।

तो रात के समय कौन से फूड्स नहीं खाने चाहिए

ज़्यादा कार्बोहाइड्रेट

डॉ. उपासना का मानना है कि ”सूर्यास्त के बाद हमारा मेटाबॉलिज्म स्वाभाविक रूप से धीमा हो जाता है जिससे कार्बोहाइड्रेट को पचाना कठिन हो जाता है। इसलिए रात में हल्का भोजन करने और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम करने की सलाह दी जाती है। इसलिए रात में चावल जैसी चीज़ें कम मात्रा में खाएं।”

Healthy carbs ka chayan kare
हेल्दी कार्ब्स का चयन करें। चित्र: शटरस्टॉक

फल न खाएं

द नेशनल स्लीप फाउंडेशन के अनुसार, सोने से पहले फल खाने से शरीर की पाचन प्रक्रियाओं के कारण नींद में बाधा आ सकती है। खट्टे फलों का रस, कच्चा प्याज, सफेद शराब और टमाटर सॉस जैसी चीजें एसिडिटि को बदतर बनाकर नींद में खलल डाल सकती हैं।

डॉ. उपासना बताती हैं कि रात में फल खाने से पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं और नींद खराब हो सकती है। आयुर्वेद के अनुसार रात में हमें सिर्फ लो कार्बोहाईड्रेट वाला खाना ही खाना चाहिए, क्योंकि यह आसानी से पच जाता है।

भारी भोजन और जंक फूड

ऐसा भोजन जो आपके पेट पर भारी लगता है, वास्तव में पचने में अधिक समय लेता है। वसायुक्त, पनीर और तले हुए खाद्य पदार्थ अपच का कारण बन सकते हैं और आपको रात में जगाए रख सकते हैं। इसलिए रात में चीज़बर्गर, फ्राइज़, तले हुए खाद्य पदार्थ और बड़े स्टेक जैसी चीज़ों से बचें।

डॉ. उपासना के अनुसार ”सोने से पहले जंक फूड एवं स्नैक्स जैसे पिज्जा, आइस क्रीम से ना केवल वजन बढ़ेगा बल्कि हार्ट बर्न जैसी समस्याएं भी हो सकती है। जंक फूड एवं अन्य स्नैक्स में सैचुरेटेड फैट होता है जिसे पचाने में काफी वक्त लगता है।”

high carbs food apki neend disturb kar sakta hai
हाई कार्ब फूड आपकी नींद डिस्टर्ब कर सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

कैफीन युक्त फूड्स

कई खाद्य पदार्थों में कैफीन होता है, भले ही आप इसकी अपेक्षा न करें। ज़्यादातर चाय और सोडा आमतौर पर कैफीनयुक्त होते हैं। इसके अलावा, कुछ आइसक्रीम और डेसर्ट में एस्प्रेसो, कॉफी या चॉकलेट होता है। चॉकलेट अन्य कैफीन युक्त खाद्य पदार्थ उत्तेजक के रूप में कार्य करते हैं।

डॉ शर्मा का मानना है कि ” कॉफ़ी और चॉकलेट में कैफीन की मात्रा ज्यादा पाई जाती हैं। और कैफीन इसका सीधा असर हमारे ब्रेन पर पड़ता है। कैफीन की मात्रा वाली किसी भी चीज को खाने या पीने से नींद पर असर पड़ता है।”

शराब का सेवन

अल्कोहल शायद आपको नींद लाने में मदद करता है, लेकिन यह बाद में रात के दौरान प्राकृतिक नींद के चक्र को बाधित करता है। यह आपकी नींद की मात्रा को कम कर सकता है।
शराब का सेवन शरीर की सभी मांसपेशियों को आराम देता है जो ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया और तेज खर्राटे को बढ़ा सकता है।

यह भी पढ़ें : बोरिंग ब्रेकफास्ट से भर गया है मन? नोट कीजिए अक्की रोटी यानी राइस रोटी की रेसिपी

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें