Carrot Juice Benefits : ब्रेस्ट और लंग्स कैंसर के खतरे को भी कम करता है गाजर का जूस, जानिए इसके और भी फायदे

सर्दियों में आने वाली मौसमी गाजर आपकी सेहत के लिए कमाल कर सकती है। हर रोज़ कच्ची गाजर खाना या इसका जूस पीना कई गंभीर बीमारियों के जोखिम को कम कर सकता है।
सभी चित्र देखे Jaante hain carrot ke juice ke fayde
जानते हैं गाजर के जूस के फायदे और इसे तैयार करने की रेसिपी भी। चित्र : अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Updated: 21 Nov 2023, 06:50 pm IST
  • 141
मेडिकली रिव्यूड

सर्दियों के आगाज़ के साथ खानपान में गाजर का भरपूर इस्तेमाल किया जाता है। विटामिन ए से भरपूर गाजर स्वास्थ्य को संतुलित रखने में मददगार साबित होती है। गाजर का हलवा और सब्जी के अलावा इससे तैयार होने वाला जूस शरीर के लिए बेहद स्वास्थ्यवर्धक होता है। अधिकतर लोग अपने दिन की शुरूआत के गाजर के जूस (Carrot juice) से ही करते हैं। पोषक तत्वों से भरपूर इस लो कैलोरी जूस को पीने से आप दिनभर तरोताज़ा महसूस करने लगते हैं। मेटाबॉलिज्म (metabolism) को बूस्ट करने के अलावा ये बॉडी को डिटॉक्सिफाइंग (Detoxifying) करने में भी मदद करता है। स्किन और बालों के लिए फायदेमंद गाज़र के रस को आप रोज़ाना पी सकते हैं। जानते हैं गाजर के जूस के फायदे (carrot juice benefits) और इसे तैयार करने की रेसिपी भी।

गाज़र का जूस करता है ब्लड को प्यूरिफाई

इस बारे में मणिपाल हास्पिटल गाज़ियाबाद में हेड ऑफ न्यूट्रीशन और डाइटेटिक्स डॉ अदिति शर्मा बताती हैं कि गाजर में विटामिन ए की मात्रा अधिक पाई जाती है जो आंखों संबधी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंटस इम्यून सिस्टम (Immune system) को मज़बूत बनाते हैं। सथ ही गट हेल्थ के लिए भी फायदेमंद होता है।

वे लोग जो कच्ची गाजर नहीं खाते हैं, उन्हें खासतौर से गाजर का जूस पीने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा अगर आप गाजर के जूस में चुकंदर को मिलाकर पीते हैं, तो ये कैंसर जैसी बीमारी के जोखिम को भी कम कर देता है और ब्लड को प्यूरिफाई (Blood purify) करने में भी कारगर है। गाजर के जूस मे काली मिर्च या काला नमक मिलाते हैं, तो ये डाइजेशन में भी मददगार साबित होता है।

Gajar juice ke fayde jaanein
गाजर आपकी आंखो के लिए है फायदेमंद। चित्र- शटरस्टॉक।

जानते हैं गाजर के फायदे (Benefits of Carrot)

1. आंखों के लिए फायदेमंद

पब मेड के अनुसार गाजर में विटामिन ए और बीटा कैरोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो आंखों की रोशनी को तेज़ करता है। इससे आंखों सबधी अन्य समस्याएं दूर होने लगती हैं। इसेके नियमित सेवन से नाइट ब्लाइंडनेस और मेक्युलर डीजनरेशन का जोखिम कम हो जाता है।

2. वेटलॉस में सहायक

नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ हेल्थ के अनुसार गाजर एक लो कैलोरी फूड है। फाइबर से भरपूर होने के कारण इसे खाने से लंबे वक्त तक भूख नही लगती है। जो कैलोरी इनटेक को घटाने में मदद करता है। गाजर एक डिटॉक्सिफाई एजेंट के रूप में काम करता है। जो फैट बर्न करने में फासदेमंद है।

3. कैंसर के जोखिम को करे कम

डॉ अदिति शर्मा के अनुसार गाजर में मौजूद कैरोटीनॉइड्स शरीर में कैंसर के प्रभाव को कम करने में मदद करते हैं। इसमें पाई जाने वाले एंटी कैंसरस प्रोपर्टीज महिलाओं में लंग्स और ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को कम कर देती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंटस शरीर के संक्रमणों के प्रभाव से बचाने में मदद करते हैं। नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ हेल्थ के अनुसार गाजर का रस कैंसर से लड़ने में बेहद प्रभावी साबित होता है। दरअसल, गाजर के रस से पॉलीएसिटिलीन, बीटा कैरोटीन और ल्यूटिन की प्राप्ति होती है। जो हयूमन कैंसर सेल्स के प्रभाव को कम कर देते हैं।

4. इम्यून सिस्टम बनाए मज़बूत

मौसम बदलने से बार बार होने वाले संक्रामक रोगों से बचने के लिए गाजर के जूस का सेवन फायदेमंद साबित होता है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन ए, सी और बी 6 शरीर को फ्री रेडिकल्स के प्रभाव से बचाता है। साथ ही इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है।

Gajar ka juice banane ki recipe
फाइबर से भरपूर होने के कारण इसे खाने से लंबे वक्त तक भूख नही लगती है। चित्र:शटरस्टॉक

जानें कैसे करें गाजर का जूस तैयार

इसे बनाने के लिए हमें चाहिए

गाजर 2 से 3
चुकंदर 1
संतरा 1
नमक स्वादानुसार

इसे बनाने के लिए सबसे पहले गाजर और चुकंदर को धोकर काट लें। उसके बाद संतरे की फांकों को सीडलेस करके अलग रख लें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

अब चुकंदर, गाजर और संतरे को एक साथ जूसर में डालकर प्रोसेस करें। तैयार जूस अगर गाढ़ा हो तो पतला करने के लिए आवश्यकतानुसार पानी भी एड कर सकते हैं।

इसके बाद जूस को जग में निकालकर उसमें नींबू का रस और नमक एड करके कुछ देर तक मिलाएं।

आप चाहें तो एक चुटकी काले नमक का भी प्रयोग कर सकते हैं। तैयार जूस को गिलास में निकालकर सर्व करें।

ये भी पढ़ें- बॉडी डिटॉक्सिफिकेशन में किसी भी डिटॉक्स वॉटर से ज्यादा फायदेमंद हैं ये 3 देसी इंग्रीडिएंट, जानिए कैसे

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख