शाकाहारी हैं, तो 40 की होने से पहले बढ़ा लें अपने डाइट में सोयाबीन की मात्रा, हम बता रहे हैं 4 कारण

विशेषज्ञों के मुताबिक सोयाबीन में भरपूर मात्रा में प्रोटिन और हेल्दी फेट्स पाया जाता है। इसमें फाइबर भी अधिक मात्रा होने के कारण यह पाचन क्रिया के साथ पेट की समस्याओं के लिए लाभदायक है।
ये 5 तरह के फूड्स आपकी स्किन को पहुंचा सकते हैं नुकसान। चित्र : शटरस्टॉक
ईशा गुप्ता Published on: 15 October 2022, 12:30 pm IST
ऐप खोलें

अक्सर आपके गौर किया होगा कि डाइटीशियन और जिम ट्रेनर प्रोटीन डाइट फॉलो करने पर ध्यान देते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि मसल्स हेल्थ को बनाए रखने के साथ हेल्दी वेट मेंटेन करने के लिए प्रोटिन बेहद लाभदायक है। जब बात प्रोटीन की हो, तो शाकाहारियों के लिए सोयाबीन से बेहतर ऑप्शन क्या होगा। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के मुताबिक एक कप सोयाबीन में करीब 31 ग्राम प्रोटीन होता है। इसके साथ ही सोयाबीन को अपनी डाइट का हिस्सा बनाने से आपका कोलेस्ट्राल लेवल भी कंट्रोल रहता है। आइए जानते हैं आपकी सेहत के लिए क्यों जरूरी है साेयाबीन (Soybean health benefits)।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ की रिसर्च के अनुसार सोयाबीन में प्रोटिन के अलावा भरपूर मात्रा में विटामिन और मिनरल्स भी पाए जाते हैं। इसमेंं विटामिन k1, फोलेट, मैंगनीज, फास्फोरस और थाइमाइन पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें कई प्रकार से बॉयोएक्टिव कंपाउड भी मौजूद होते हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि पोष तत्वों से भरपूर यह सोयाबीन आपको किन खतरनाक बीमारियों से बचा सकता है।

यहां हैं आपकी सेहत के लिए सोयाबीन के सेवन के 4 फायदे

वेटलॉस में मदद करे। चित्र: शटरस्टॉक

1. वेट मैनेज करने से मदद करें

सोयाबीन का सेवन करने से आपको हेल्दी वेट मेंटेन करने में मदद मिल सकती है। जर्नल ऑफ मॉलिक्यूल्स की रिसर्च के मुताबिक सोयाबीन वजन घटाने में मददगार हो सकती है। रिसर्च में यह पाया गया कि सोयाबीन में पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर के हिस्सो में वसा जमा होने से रोकते हैं। इसलिए वजन घटाने के लिए सोयाबीन को अपनी डाइट का हिस्सा बनाना फायदेमंद हो सकता है।

यह भी पढे – पांचों इंद्रियों को एक्टिव रखना है तनाव से बचने का उपाय, जानिए ऐसी ही 5 ब्रेन बूस्टिंग एक्टिविटीज

2. कैंसर का खतरा कम करें

सोयाबीन का सेवन करना आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है, लेकिन यह कैंसर की समस्या से लड़ने में भी कारगार है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार सोयाबीन और सोया प्रोडक्ट का सेवन करने से ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम हो सकता है। स्टडीज में यह भी पाया गया है कि इसका सेवन करने से पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा भी कम हो सकता है।

3. बोन हेल्थ स्ट्रांग बनाए

बढती उम्र में महिलाओं की बोन डेंसिटी कम होने लगती है, जिससे हड्डियां टूटने और फ्रैक्चर होने का खतरा हो सकता है। सोयाबीन और सोयाबीन के प्रोडक्ट्स का सेवन करने से इसके खतरे को कम किया जा सकता है। जो महिलाएं मेनोपोज से गुजर रही होती हैं, उनके लिए सोयाबीन का सेवन काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

मीठा और मधुमेह एक ही नदी के दो किनारे है। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. कम करता है टाइप 2 डायबिटीज का जोखिम

टाइप 2 डायबिटीज की समस्या में व्यक्ति के ब्लड शुगर लेवल में अंतर आने लगता है। हमारा शरीर जरूरत अनुसार इंसुलिन प्रोड्यूस नही कर पाता। पबमेड सेंट्रल की 2019 की रिपोर्ट के मुताबिक सोयाबीन में पाए जाने वाले पोषक तत्व डायबिटीज के खतरे को कम करने में मदद करते हैं। साथ ही टाइप 2 डाबिटीज होने की संभावनाओं को भी कम करता है।

यह भी पढ़े – आयुर्वेद के अनुसार ये 5 तरह के आहार बढ़ा सकते हैं आपकी स्किन के लिए समस्याएं

लेखक के बारे में
ईशा गुप्ता

यंग कंटेंट राइटर ईशा ब्यूटी, लाइफस्टाइल और फूड से जुड़े लेख लिखती हैं। ये काम करते हुए तनावमुक्त रहने का उनका अपना अंदाज है।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story