और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

अधिक एस्पिरिन का सेवन पड़ सकता है स्वास्थ्य पर भारी, जानिए इसके साइड इफेक्टस

Published on:21 November 2021, 16:00pm IST
एस्पिरिन को एक सुरक्षित और हार्ट अटैक में फर्स्ट एड दवा माना जाता है। लेकिन क्या आपको पता हैं यह आपकी सेहत को प्रभावित कर सकती है? जानिए इसके संभावित साइड इफेक्ट।
अदिति तिवारी
  • 135 Likes
अधिक एस्पिरिन का सेवन पड़ सकता है स्वास्थ्य पर भारी, जानिए इसके साइड इफेक्टस। चित्र : शटरस्टॉक

आमतौर पर स्ट्रोक या हार्ट अटैक की स्थिति में एस्पिरिन का सेवन करने का सुझाव दिया जाता हैं। इन स्वास्थ्य मुश्किलों में एस्पिरिन को फर्स्ट एड माना जाता है। हार्ट अटैक या स्ट्रोक एक गंभीर स्थिति होती है और एक भी गलत कदम मनुष्य के जीवन को दाव पर लगा सकता है। ऐसे में क्या बिना डॉक्टर की सलाह के एस्पिरिन का सेवन करना उचित है? क्या आपको पता है कि कुछ लोगों के लिए एस्पिरिन के गंभीर साइड इफेक्ट हो सकते हैं? इन्हीं जरूरी बातों को हम आपके सामने ला रहें हैं।

क्या हार्ट अटैक के समय एस्पिरिन लेना सुरक्षित है?

इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी विशेषज्ञ डॉ. अतुल माथुर सलाह देते हैं कि दिल का दौरा पड़ने पर एस्पिरिन की गोली ली जा सकती है। यह मानना है कि इस परिस्थिति से गुजरने वाले लोग डॉक्टर की सलाह से एस्पिरिन की निर्धारित खुराक का सेवन कर सकते हैं। यह दूसरे अटैक को रोकने में मदद करता है।

यदि आपके घर में किसी को हार्ट अटैक हुआ है, तो बिना देर किए मरीज को एस्पिरिन की एक गोली पानी में घोलकर पिला दें। यह आपको हस्पताल तक जाने का समय दे सकता है। उसके बाद डॉक्टर परिस्थिति की गंभीरता को परखकर अपना इलाज करेंगे।

heart attack mein aspirin
एस्पिरिन का सेवन पड़ सकता है स्वास्थ्य पर भारी। चित्र : शटरस्टॉक

कैसे काम करती है एस्पिरिन?

हार्वर्ड हेल्थ के अध्ययन के अनुसार एस्पिरिन को कार्डियोवैस्क्युलर डिजीज के समय दिया जा सकता है। यह हार्ट अटैक के जोखिमों को कम करने में मदद करती है। एस्पिरिन आपके खून को पतला करने में मदद करती है। जिसकी वजह से वह आसानी से आपके हृदय से गुजर सकता है। हार्ट में मौजूद ब्लॉकेज के बावजूद यह खून के प्रवाह को जारी रखता है।

पर क्या इसके कुछ साइड इफैक्ट भी हो सकते हैं?

एस्पिरिन के आम दुष्प्रभावों में शामिल हैं:

रैशेज
गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल अल्सरेशन
पेट में दर्द, पेट की ख़राबी
सीने और पेट में जलन
अनियमित नींद
सरदर्द
ऐंठन
जी मिचलाना
खून बहना

डॉक्टर की सलाह के बिना एस्पिरिन का सेवन न करें

चूंकि एस्पिरिन आपके खून को पतला कर देती है, आपको तात्कालिक परिस्थियों के अलावा इसका सेवन करने से बचना चाहिए। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार आपको बिना डॉक्टर की सलाह के एस्पिरिन का सेवन नहीं करना चाहिए। यदि आप एस्पिरिन के प्रति एलर्जिक हैं, लगातार शराब का सेवन करते हैं, किसी चिकित्सा से गुजर रहें है या 70 वर्ष से अधिक आयु के हैं, तो एस्पिरिन का सेवन करने से बचें।

ऐसी नाजुक परिस्थियों में आप बिना डॉक्टर की सलाह के आप एस्पिरिन न खाएं।

यह भी पढ़ें : धूम्रपान न करने वालों में भी बढ़ रहे हैं लंग कैंसर के मामले! विशेषज्ञ बता रहे हैं क्यों

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !