और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

रोजाना सिर्फ 1 घंटा दौड़ना बढ़ा सकता है आपकी उम्र, जानिए क्‍या कहता है शोध 

Updated on: 22 January 2021, 17:47pm IST
शारीरिक रूप से सक्रिय रहना आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद फायदेमंद है। पर क्‍या आप जानती हैं कि दौड़ना आपकी  उम्र भी बढ़ा सकता है।
विनीत
  • 88 Likes
क्‍या सर्जिकल मास्‍क को दोबारा प्रयोग किया जा सकता है? चित्र: शटरस्‍टॉक
क्या वास्तव रनिंग करने से से उम्र बढ़ती है? चित्र: शटरस्‍टॉक

सबसे पुराने मैराथन फिनिशर, फौजा सिंह, 101 साल के थे, जब उन्होंने 1 घंटे और 32 मिनट में 6.25 मील की दौड़ पूरी की। न केवल दौड़ने से आपको अवांछित वजन कम करने में मदद मिलती है, बल्कि आप एक बेहतर स्थिति में रहते हैं। साथ ही यह आपके जीवन में कुछ और साल भी जोड़ सकता है।

कुछ लोग ऐसे होते हैं जो ऐसा करना बहुत पसंद करते हैं, लेकिन फिर भी अगर आप उनमें से हैं, जो दौड़ना पसंद नहीं करते हैं, तो हम आपको बता दें कि दौड़ना आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होने के साथ ही, आपके जीवन में कुछ अतिरिक्त साल जोड़ने में मदद कर सकता है। जानना चाहती हैं कैसे? तो आगे पढ़ती रहिए।

दौड़ना आपके जीवन में कुछ साल जोड़ सकता है

6 साल पहले किए गए एक अध्ययन से पता चला है कि जो लोग दिन में केवल 5 मिनट दौड़ते हैं, उनके पास अभी भी एक लंबा जीवन था। साथ ही दौड़ने को एकमात्र व्यायाम भी पाया गया था, जो हृदय रोग और अन्य सभी कारणों से मृत्यु के जोखिम को कम करता है।

शोध में पाया गया है कि रनर्स में सभी मृत्यु के कारणों और हृदय संबंधित मृत्यु के कारणों की दर में 30% और 45% तक कम समायोजित जोखिम था। इसका अलावा 3 साल की जीवन प्रत्याशा का लाभ था।

रनिंग करना आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है। चित्र-शटरस्टॉक।

दिन में एक घंटा दौड़ना हमारे जीवन में 7 घंटे जोड़ने के बराबर है

हालांकि, अगर आप सोच रहे हैं कि अन्य प्रकार के व्यायाम, जैसे चलना या साइकिल चलाना, हमारे और हमारे जीवन प्रत्याशा पर समान प्रभाव डालते हैं हैं या नहीं, तो शोधकर्ताओं ने आपके इस सवाल का जवाब देने के लिए 3 साल तक एक  अध्ययन किया।

यह भी पढें: आपकी सेहत, सौंदर्य और रिश्‍तों के लिए अच्‍छा हो सकता है ड्राई जनवरी ट्रेंड, जानिए क्‍या है यह

रोजाना 1 घंटा दौड़ने से जीवन प्रत्याशा 7 घंटे बढ़ जाती है

कुल मिलाकर, नए शोध ने पिछले शोध के निष्कर्षों को सुदृढ़ किया। डेटा ने संकेत दिया कि गति या माइलेज की परवाह किए बिना दौड़ने से व्यक्ति की अकाल मृत्यु का जोखिम लगभग 40% कम हो जाता है।

इन नंबरों का उपयोग करते हुए, वैज्ञानिकों ने निर्धारित किया कि यदि अध्ययन में भाग लेने वाले सभी नॉन-रनर भी इस खेल को अपनाते हैं, तो कुल मिलाकर 16% कम मौतें और 25% कम घातक दिल के दौरे होंते।

शोधकर्ताओं ने एक बहुत ही दिलचस्प बात यह पाई कि दौड़ने से लोगों के जीवन के समय में वृद्धि होती है।

डेटा से पता चला है कि एक सामान्य धावक लगभग 40 साल तक दौड़ने में 6 महीने से भी कम समय दौड़ने में बिताएगा, लेकिन वह अपने जीवनकाल में 3.2 साल की वृद्धि की उम्मीद कर सकता है।

संक्षेप मे

शोध करने वाले वैज्ञानिकों के अनुसार प्रतिदिन एक घंटा दौड़ने से सांख्यिकीय रूप से जीवन प्रत्याशा 7 घंटे बढ़ जाती है। अध्ययन से यह भी पता चला है कि चलना और साइकिल चलाना लंबे जीवन से संबंधित हैं, लेकिन यह दौड़ने के समान नहीं है।

रनिंग को एक स्वस्थ जीवन शैली के साथ जोड़ा जाना चाहिए।

हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि इस शोध के निष्कर्ष साहचर्य हैं, इसका अर्थ है कि जो लोग दौड़ते हैं वे ऐसे लोग हैं जो अधिक समय तक जीवित रहते हैं, ऐसा नहीं है कि सीधे तौर पर दौड़ने से जीवन लंबा होता है। हालांकि, इससे बहुत मदद मिलती है।

रनिंग के साथ-साथ एक्सरसाइज करना भी जरूरी है। चित्र- शटर स्टॉक।

एक्‍सरसाइज है जरूरी

व्यायाम को गंभीरता से लिया जाना चाहिए, क्योंकि द लांसेट में प्रकाशित एक चिकित्सा अध्ययन के अनुसार, निष्क्रियता बहुत खतरनाक है, जिससे दुनिया भर में 10 में से 1 मौत हो जाती है।

यह भी पढें: हाथों की पकड़ मजबूत बनाने के लिए घर पर ही करें ये 5 फोरआर्म इंटेंस एक्सरसाइज

बेशक, अकेले सक्रिय होना वास्तव में लंबे और स्वस्थ जीवन के लिए पर्याप्त नहीं है, जो लोग अच्छी तरह से खाते हैं वे सबसे अधिक लाभ प्राप्त करते हैं।

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।