आपकी रीढ़ और कूल्हे की हड्डी को नुकसान पहुंचा सकता है 30 की उम्र के बाद हाई हील्स पहनना, जानिए इसके जोखिम

30 की उम्र के बाद शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाती है और हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। ऐसे में यदि आप रेगुलर हाई हील्स पहनती हैं, तो यह आपकी बोन हेल्थ के लिए खतरनाक हो सकता है।
heels pehenne ke side effects
हर रोज घंटों पहने रहती हैं हाई हील्स तो जानिए इसके स्वास्थ्य जोखिम। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Updated: 27 Apr 2023, 18:56 pm IST
  • 129

हाई हील्स आपको एक अलग स्टाइल दे सकती हैं। ऑफिस या कॉलेज जाने वाली ज्यादातर लड़कियां हाई हील्स पहनना ही पसंद करती हैं। पर 20 या 30 का दशक में हाई हील्स जहां आपको हानिरहित लग सकती हैं, वहीं 40 तक पहुंचते ये आपकी बोन हेल्थ केा गंभीर नुकसान पहुंचा सकती हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, ये आपके शरीर के निचले हिस्से को गंभीर चोट पहुंचाती हैं। तो अगर आप भी रेगुलर हाई हील पहनती हैं, तो आपको इसके जोखिम (High heels side effect) भी जान लेने चाहिए।

ट्रेंड के साथ आदत भी बन गई हैं हाई हील्स

कुछ लड़कियां हाई हील्स में इतनी ज्यादा कंफर्टेबल हो चुकी हैं, कि वे घंटों इन्हें पहने रख सकती हैं। इन्हें पहन कर डांस करने से लेकर अन्य शारीरिक गतिविधियों को करने से भी नहीं कतराती। परंतु क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की है, कि ऐसा करना आपके पैरों को कितना नुकसान पहुंचा सकता है।

हाई हील्स केवल आपके पैरों को ही नहीं, बल्कि आपकी रीढ़ और कूल्हे की हड्डी को भी प्रभावित करती है। खासकर 30 की उम्र के बाद हाई हील्स पहनना अधिक नुकसानदेह हो सकता है। हाई हील्स के ट्रेंड को देखते हुए आज हेल्थ शॉट्स आपके लिए लेकर आया है इससे जुड़ी कुछ जरूरी जानकारी। चलिए जानते हैं आखिर लंबे समय तक हील्स पहने रहने से क्या नुकसान होते हैं।

heels
यह आपकी बोन हेल्थ के लिए खतरनाक हो सकता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

जानें हाई हील्स पहनने से शरीर को होने वाले नुकसान (harmful effects of high heels)

1. पीठ के निचले हिस्से में दर्द रहना

चाइल फॉलो करने के चक्कर में अपनी सेहत को नजरअंदाज करना बिल्कुल भी उचित नहीं है। स्टाइलिश देखना है, तो अपने कंफर्ट जोन का भी ध्यान रखना उतना ही जरूरी है। हाई हिल्स आपके पैरों को पूरी तरह से सपोर्ट नहीं देती, ऐसे में पैरों पर एक सामान्य वजन न होने के कारण पैर में असहनीय दर्द का अनुभव होता है। वहीं नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार इस स्थिति में कमर और कूल्हे के आसपास का हिस्सा सबसे ज्यादा प्रभावित होता है।

हिल्स पहन कर बैलेंस बनाए रखने के लिए अपने कमर के निचले हिस्से को कर्व करके रखना होता है। जिसकी वजह से उस हिस्से के जॉइंट पर असर पड़ता है और वहां की मांसपेशियां अकड़ जाती हैं।

2. पिंडलियों (calves) में दर्द हो जाता है

पिंडलियों में दर्द का अनुभव हाई हील्स पहनने के एक साइड इफेक्ट के रूप में देखने को मिलता है। इस स्थिति में पिंडलियों की नसें उभर जाती हैं, जो कि बेहद दर्दनाक हो सकती हैं।

3. टखनों में होता है दर्द का अनुभव

फैशनेबल और स्टाइल हाई हील्स की बनावट आपके पैर के आकार के अनुसार तो बनाई जाती है परंतु सभी के टखनों का आकार और आर्च एक जैसा नहीं होता, इसलिए हाई हील्स सभी को अच्छी तरह से फिट नहीं आती। साथ ही टखनों पर एक सामान्य वजन बनाए रखना मुश्किल हो जाता है।

लंबे समय तक हाई हील्स पहनने के बाद जब आप इन्हें उतारती हैं, तो आपके पैर में असहनीय दर्द का अनुभव हो सकता है। पैर की उंगलियों से लेकर आर्च और एड़ियों में भी काफी दर्द होता है।

Crack heels
जानिए हाई हील्स से होने वाले नुक्सान। चित्र : शटरस्टॉक

4. ब्लड वेसल्स हो सकते हैं संकुचित

आमतौर पर हाई हील्स की बनावट कुछ इस प्रकार की जाती है, कि आपके पैर पतले और लंबे नजर आते हैं। इनकी बनावट के कारण पैर के आगे का हिस्सा छोटी सी जगह में फिट होने की कोशिश करता है और लंबे समय तक इसी तरह से रहने के कारण पैरों पर नकारात्मक असर पड़ता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार यदि पैर लंबे समय तक हाई हील्स या फिर किसी भी अन्य वजह से संकुचित रहते हैं, तो ब्लड फ्लो डिस्टर्ब हो सकता है। वहीं कई लोगों में ब्लड वेसल्स के टूटने और फटने का खतरा भी बना रहता है।

यह भी पढ़ें : Rishyagandha benefits : डायबिटीज में अश्वगंधा से भी ज्यादा फायदेमंद है ऋष्यगंधा, जानिए इस आयुर्वेदिक हर्ब के फायदे

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

5. लिगामेंट हो जाता है कमजोर

लगातार लंबे समय तक हाई हील्स पहने रहने से लिगामेंट्स पर नकारात्मक असर पड़ता है। यह धीरे-धीरे कमजोर हो जाते हैं, जिसकी वजह से पैरों में चोट लगने पर लिगामेंट आसानी से टूट सकता है। फैशन के इस दुनिया में अपने कंफर्ट को प्राथमिकता देना सबसे ज्यादा जरूरी है।

6. घुटने हो जाते हैं प्रभावित

जब आप हाई हील्स पहनती हैं, तो घुटनों के जॉइंट पर सबसे ज्यादा भार पड़ता है और घुटने हल्के कर्व रहते हैं। इस स्थिति में कई बार जॉइंट पेन बढ़ जाता है और आपको असहनीय दर्द का अनुभव होता है। वहीं नियमित रूप से लंबे समय तक हाई हील्स पहने रहने से ओस्टियोआर्थराइटिस का खतरा बना रहता है।

यह भी पढ़ें : डेंगू या वायरल बुखार से कमजोर हो गया है शरीर, तो ये 4 योगासन फिर से बढ़ाएंगे इम्युनिटी

  • 129
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख