और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

ओजोन थेरेपी: जानिए यह कैसे कोविड -19 रोगियों को तेजी से ठीक होने में मदद कर सकती है

Published on:2 October 2021, 12:00pm IST
आपने ओजोन थेरेपी के बारे में ज्यादा नहीं सुना होगा, लेकिन यह कोविड-19 से लड़ने में कारगर है। जानिए इसके बारे में कुछ जरूरी बातें।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 103 Likes
Drugs ka overdose ho sakta hai jaanlewa!
ड्रग्स का ओवरडोज हो सकता हैं जानलेवा! चित्र: शटरस्टॉक

वर्तमान में कोविड -19 मामलों की संख्या में भारी कमी आई है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप लापरवाह हो जाएं। त्योहारों के मौसम के करीब आने के साथ, सावधानी बरतना और वायरस से सुरक्षित रहने के लिए सुरक्षा प्रोटोकॉल फॉलो करना जरूरी हैं। फिर भले ही आपको टीका लगा हो। क्योंकि कोई भी अगली लहर नहीं चाहता।, है ना? कोविड -19 से लड़ने के तरीके के बारे में बहुत सारे अध्ययन हुए हैं, और वैकल्पिक उपचार का समाधान भी बन रहा हैं। अभी और शोध किए जाने की जरूरत है, लेकिन वैज्ञानिकों ने इससे निपटने के लिए ओजोन थेरेपी का प्रस्ताव रखा हैं। 

ओजोन थेरेपी क्या है?

जैसा कि नाम से पता चलता है, इस थेरेपी के हिस्से के रूप में, मेडिकल-ग्रेड ओजोन (ऑक्सीजन और ओजोन का मिश्रण) को शरीर के अंदर नसों के माध्यम से डाला जाएगा। यह आपकी इम्युनिटी को बढ़ाती है, जो बदले में, कोविड -19 से लड़ने में मदद करता है।

ओजोन फोरम ऑफ इंडिया की अध्यक्ष मिली शाह बताती हैं, “2020 में हुए क्लीनिकल ट्रायल के अनुसार, ओजोन थेरेपी ने पांच दिनों के भीतर 77% की रेकवरी रेट दिखाई और आठवें दिन तक, ओजोन ट्रीटमेंट से सभी रोगी ठीक हो गए। संक्रमण को नियंत्रित करने में ओजोन थेरेपी का अधिक प्रभाव पड़ता है। 

Covid-19 se bachne ke liye mask zaroor lagaye
कोविड-19 से बचने के लिए मास्क जरूर लगाएं। चित्र: शटरस्टॉक

कोविड-19 के रोगी विभिन्न स्थितियों से पीड़ित होते हैं जैसे ब्लड क्लॉट, सिरदर्द, फेफड़ों में संक्रमण, शरीर में दर्द और सांस फूलने की स्थिति। हमने मुंबई और पुणे में 700 से अधिक रोगियों को ओजोन थेरेपी दी है।” 

कैसे काम करती है ओजोन थेरपी? 

हम सभी जानते हैं कि कोविड -19 के बाद के प्रभाव आपको कैसे परेशान कर सकते हैं। कुछ मरीज़ संक्रमण से निपटने के महीनों बाद भी स्वास्थ्य समस्याओं की शिकायत करते हैं। कमजोरी और थकान सबसे अधिक देखी जाती है। ओजोन थेरेपी से इन लक्षणों से निपटा जाता है, ताकि आप फिर से ताकत हासिल कर सकें और राहत पा सकें।

चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार, कोविड-19 से ठीक होने के बाद 10 सेशन्स तक ओजोन थेरपी लेनी चाहिए। यह रोगियों को उनकी इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करती है। साथ ही, उनके शरीर में एंटीऑक्सीडेंट की कमी को पूरा करता है।

Ozone therapy aapki immunity ko rakhta hai swasth
ओजोन थेरपी आपकी इम्युनिटी को रखता हैं स्वस्थ। चित्र: शटरस्टॉक

ओजोन थेरेपी के लाभ!

सिर्फ कोविड-19 ही नहीं, यह अल्सर, सर्जिकल घाव के संक्रमण, वायरल और बैक्टीरियल संक्रमणों के साथ-साथ त्वचा की स्थिति जैसे एक्जिमा, इन्फेक्शन, बेडसोर, अल्सर, कैंसर में सहायक उपचार के रूप में अच्छी तरह से काम करती है।

सबसे अच्छी बात यह है कि उपचार के बाद मरीज 5-8 दिनों में ठीक हो जाते हैं। यह कोविड -19 की संभावना को कम करती है और रोगियों को वायरल संक्रमण के बाद के प्रभावों से राहत देती है।

यह भी पढ़ें: वजन घटाने की बजाए बढ़ा सकते हैं आर्टिफिशियल स्वीटनर, यहां हैं चीनी के कुछ हेल्दी विकल्प

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।