Meftal Spas : आईपीसी की चेतावनी के बाद से चर्चा में है यह पीरियड पेन किलर, जानिए क्या है यह पूरा मामला

पीरियड क्रैम्पस के दौरान अब तक महिलाएं सबसे ज्यादा मेफटाल स्पास नाम की दवा पर भरोसा करती थीं। यह सबसे ज्यादा प्रचलित पेन किलर है। पर इंडियन फार्माकोपिया कमिशन की चेतावनी के बाद से इसके लाभों और स्वास्थ्य जोखिमों पर बहस छिड़ गई है।
period pain killer ho sakta hai khatarnak
मेफ्टाल स्पास के सेवन से शरीर में कई गंभीर प्रतिक्रिया होने का खतरा बना रहता है। चित्र : अडोबी स्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 12 Dec 2023, 17:39 pm IST
  • 125

कभी-कभी पीरियड क्रैम्प इतना अधिक होने लगता है कि हमें दवा लेनी पड़ती है। क्या आपने कभी पीरियड क्रैम्प से राहत पाने के लिए मेफ्टाल स्पास गोलियां ली हैं? मेफ्टाल स्पास एक सामान्य पेन किलर है। यह पीरियड क्रैम्प से राहत पाने के लिए लिया जाता है। यदि आप भी अपने पीरियड क्रैम्प को मैनेज करने के लिए इस दवा पर निर्भर हैं, तो आपके लिए यहां एक सेफ्टी एलर्ट है। भारतीय फार्माकोपिया आयोग (Indian Pharmacopoeia Commission-IPC) ने हाल में एक एडवाइजरी जारी की है। इसमें कहा गया है कि मेफ्टाल स्पास के सेवन से शरीर में कई गंभीर प्रतिक्रिया होने का खतरा बना रहता है। इसके कई साइड इफेक्ट (meftal spas side effects) हो सकते हैं।

जानिए क्या है मेफ्टाल स्पास के बारे में चेतावनी (meftal spas alert)

आईपीसी (IPC) ने अपनी एडवाइजरी में कहा है कि इस गोली में मेफैनामिक एसिड (mefenamic acid) एक्टिव इंग्रीडीएंट के रूप में होता है। यह एलर्जी का कारण बन सकता है। यह खबर उन कई महिलाओं के लिए खतरे की घंटी है, जो पीरियड क्रैम्प से राहत पाने के लिए इस ओवर-द-काउंटर गोली का उपयोग करती हैं। मेफ्टाल स्पास के कई दुष्प्रभाव हैं, जिन्हें जानना जरूरी है।

क्या कहता है आईपीसी (Indian Pharmacopoeia Commission Statement)?

मेफ्टाल स्पास भारतीय घरों में आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली दवा है। यह पीरियड क्रैम्प के अलावा, मध्यम दर्द, सूजन, बुखार और दांत दर्द के लिए भी इस्तेमाल की जाती है। इन समस्याओं के लिए दवा का सेवन अक्सर बिना प्रिस्क्रिप्शन के किया जाता है। भारत सरकार ने हाल ही में एक चेतावनी जारी की है, जिसमें डॉक्टर और रोगियों को मेफ्टाल स्पास के किसी भी नकारात्मक प्रभाव से सावधान रहने के लिए सचेत किया गया है।

जानिए क्या हो सकते हैं मेफ्टाल स्पास लेने के स्वास्थ्य जोखिम (meftal spas side effects)

नॉन-स्टेरायडल एंटी-इंफ्लेमेटरी दवा (NSAID) मेफ्टाल स्पास में एक कम्पोनेंट मेफैनामिक एसिड होता है, जो गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया का कारण बन सकता है। इसे ड्रग रिएक्शन विद इओसिनोफिलिया और सिस्टमिक सिम्पटम सिंड्रोम (DRESS Syndrome) कहा जाता है। यह एक गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया है। भारतीय फार्माकोपिया आयोग (IPC) ने 30 नवंबर, 2023 को दवा के प्रति सुरक्षा चेतावनी जारी की थी।

हेल्थ एक्सपर्ट और रोगियों से इस संदिग्ध दवा के दुष्प्रभावों की संभावना पर बारीकी से नजर रखने का आग्रह किया गया है। उन्होंने रिपोर्टिंग फॉर्म भी जारी किए हैं, जिनकी मदद से उपभोक्ता मेफ्टाल स्पास सहित किसी भी दवा के दुष्प्रभाव को देखते हुए रिपोर्ट कर सकते हैं।

क्या है फार्माकोविजिलेंस प्रोग्राम (PVPI)

फार्माकोविजिलेंस प्रोग्राम ऑफ इंडिया (PVPI) सभी दवाओं के प्रतिकूल प्रभावों पर डेटा एकत्र करने के लिए आईपीसी और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के दायरे में संचालित होता है। यह सभी रोग के लिए दवाओं की सुरक्षा और प्रभाव सुनिश्चित करने के लिए रोगियों के हित में काम करता है।

chai ke sath dawa lena khatarnak ho sakta hai
यदि आपको दवा लेने के बाद किसी तरह की कोई भी प्रतिक्रिया दिखाई देती है, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। चित्र: शटरस्टॉक

क्या है इस पूरे मामले पर दवा निर्माता कंपनी का पक्ष

ब्लू क्रॉस लैबोरेट्रीज़ मेफ्टाल और मेफ्टाल-स्पास बनाती है। ये ऐसे ब्रांड हैं, जिन पर भारत में दर्द, बुखार और ऐंठन के इलाज के लिए डॉक्टर भरोसा करते हैं। इनमें सक्रिय घटक के रूप में मेफेनैमिक एसिड होता है। मेफ्टाल और मेफ्टाल-स्पास के रूप में मेफेनैमिक एसिड भारत के अलावा मेफ्टाल संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, जापान आदि देशों में चार दशकों से अधिक समय से उपयोग किया जाता रहा है।

ब्लू क्रॉस लैबोरेट्रीज़ की ओर से जारी प्रपत्र में कहा गया है कि आईपीसी अलर्ट में बताये गये एडीआर यानी ड्रेस सिंड्रोम (DRESS Syndrome) एक बहुत ही दुर्लभ रोग है। किसी भी दवा को निर्धारित करते समय डॉक्टर एडीआर के जोखिम को कम करने के लिए रोगी के इतिहास और अन्य व्यक्तिगत कारकों को ध्यान में रखते हैं।

आखिर क्या है ड्रेस सिंड्रोम (DRESS Syndrome)?

ड्रेस सिंड्रोम (Drug Reaction with Eosinophilia and Systemic Symptoms Syndrome) का मतलब इओसिनोफिलिया और सिस्टमिक सिम्पटम के साथ दवा की प्रतिक्रिया है। इसे कुछ दवाओं के प्रति गंभीर और संभावित जीवन-घातक होने जैसी प्रतिक्रिया के रूप में बताया जाता है। ड्रेस सिंड्रोम के क्लिनिकल सिम्पटम दवा शुरू करने के 2-8 सप्ताह बाद दिखाई देते हैं।

द जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंड एस्थेटिक डर्मेटोलॉजी में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, इसके कारण आम तौर पर स्किन रैशेज, बुखार, सूजन और इओसिनोफिल्स जैसे वाइट ब्लड सेल्स में वृद्धि द्वारा वर्गीकृत किया जाता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ड्रेस सिंड्रोम के लक्षण (Symptoms of Dress Syndrome)?

कभी-कभी दवा के प्रति असामान्य मल्टीसिस्टम प्रतिक्रिया के रूप में ड्रेस सिंड्रोम को बताया जाता है। यह इस तथ्य की ओर संकेत करता है कि बीमारी कई लक्षणों के साथ प्रकट हो सकती है। इसके लक्षण अलग भी दिख सकते हैं। वे आम तौर पर कुछ दिनों बाद दिखाई देते हैं। आमतौर पर दवा शुरू होने के दो से छह सप्ताह बाद। कुछ लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में अलग भी हो सकते हैं।

ड्रेस सिंड्रोम के सामान्य लक्षणों में शामिल हैं:-

इओसिनोफिलिया (Eosinophilia)

ड्रेस सिंड्रोम के कारण बहुत अधिक इओसिनोफिलिया की उपस्थिति हो सकती है। यह एक प्रकार के व्हाइट ब्लड सेल्स है, जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया में शामिल होती है।

बुखार (Fever)

ड्रेस सिंड्रोम से प्रभावित मरीज़ आमतौर पर तेज़ बुखार से प्रभावित होते हैं।

त्वचा पर चकत्ते (Skin Rashes)

ड्रेस सिंड्रोम के कारण स्किन पर दाने, खुजली और रेड रैशेज भी हो सकते हैं। यह आमतौर पर चेहरे पर शुरू होता है। यह पूरे शरीर में फैल जाता है।

एटिपिकल लिम्फोसाइटोसिस (Atypical lymphocytosis) लिम्फोसाइट्स एक प्रकार के व्हाइट ब्लड सेल्स हैं। यह आमतौर पर वायरल या बैक्टीरियल संक्रमण से शुरू होता है।

सूजी हुई लिम्फ नोड्स (Swollen lymph nodes)

ड्रेस सिंड्रोम के कारण लिम्फ नोड्स में सूजन भी हो सकती है। इसलिए इसे नजरअंदाज न करें।

allergy ke liye medicine len
मेफ्टाल स्पास ड्रेस सिंड्रोम के लक्षणों को ट्रिगर कर सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

आंतरिक अंगों की सूजन (Inflammation of internal organs)

ड्रेस सिंड्रोम कई लक्षणों को ट्रिगर कर सकता है। यह लीवर, फेफड़ों और अन्य की सूजन जैसी समस्याओं को जन्म दे सकता है।

यदि आपको दवा लेने के बाद किसी तरह की कोई भी प्रतिक्रिया दिखाई देती है, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। साथ ही, डॉक्टर की सलाह के बिना मेफ्टाल स्पा का सेवन करने से बचें।

इस पर क्या है विशेषज्ञों की राय (Expert View on Meftal spas) ?

मेफ्टाल स्पास पर जारी चेतावनी के बाद से ज्यादातर महिलाएं जानना चाहती हैं कि वे इस दवा का प्रयोग अब करें या न करें? हालांकि यह एक सस्ती और आसानी से उपलब्ध होने वाली दवा है। इसलिए इस बारे में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ मिताली ने एक वीडियो जारी कर अपनी राय रखी है।


वे कहती हैं कि कोई भी एक दवा सभी पर एक तरह के प्रभाव नहीं डालती। जो खतरे आईपीसी ने बताए हैं, उनसे इन्कार नहीं किया जा सकता। पर जब आप डॉक्टर से कंसल्ट करने के बाद उन्हें अपनी पूरा मेडिकल इतिहास बताकर दवा लेते हैं, तो यकीनन वे आपके केस के अनुसार इसे लेने या न लेने की सलाह दे सकते हैं। इसलिए घबराएं नहीं और डॉक्टर की सलाह पर ही इस दवा का सेवन करें।

यह भी पढ़ें :- Meat side effects : सेहत के लिए जोखिम कारक हो सकता है नॉनवेज का ज्यादा शौक, शोध दे रहे हैं चेतावनी

  • 125
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख