World Milk Day: डायबिटीज़ के मरीजों को किस प्रकार पोषण प्रदान करता है दूध, जानते हैं एक्सपर्ट से

दूध बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर अपने आप में एक संतुलित आहार है। डायबिटीज़ के मरीजों को ये बेहतरीन न्यूट्रिशन वेल्यू प्रदान करता है।
diabetes me milk lena chahiye ya nahi?
जानते हैं वर्ल्ड मिल्क डे के मौके पर कि दूध किस प्रकार डायबिटीज़ के मरीजों के लिए फायदेमंद सिद्ध हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक
ज्योति सोही Updated: 18 Oct 2023, 15:27 pm IST
  • 141

प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर दूध हमारी डाईट का महत्वपूर्ण हिस्सा है। लोग इसे शेक्स, आइसक्रीम, स्मूदी समेत कई प्रकार से मील में एड करते हैं। वहीं जब बात डायबिटीज़ से ग्रस्त लोगों की आती है, तो उनकी मील को लेकर हम काफी सतर्क हो जाते हैं। डायबिटीज़ से जुड़ी जटिलताओं से बचने के लिए उन्हें पूर्ण पोषण प्रदान करने का प्रयास करते हैं। हरी सब्जियों और अनाज व दालों के साथ डेयरी प्रोडक्टस के लेकर हमारे मन में शंका बनी रहती है। जानते हैं वर्ल्ड मिल्क डे (World Milk day) के मौके पर कि दूध किस प्रकार डायबिटीज़ के मरीजों के लिए फायदेमंद सिद्ध हो सकता है।

वर्ल्ड मिल्क डे 2023 की थीम (Theme of World Milk Day 2023)

दूध की गुणवत्ता के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 1 जून को वर्ल्ड मिल्क डे के तौर पर मनाया जाता है। इस बार की थीम डेयरी क्षेत्र में स्थिरता यानि सस्टेनएबिलिटी इन द डेयरी सेक्टर है। ये एक ग्लोबल फूड है। साल 2001 में यूनाइटेड नेशन यूएन के खाद्य और कृषि संगठन ने पहली बार 1 जून को वर्ल्ड मिल्क डे के रूप में घोषित किया गया। इसका मकसद लोगों को इसके फायदों के बारे में जानकारी देना है।

World milk day kyu manaya jaata hai
दूध की गुणवत्ता के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 1 जून को वर्ल्ड मिल्क डे के तौर पर मनाया जाता है। चित्र शटरस्टॉक

दूध का पोषण मूल्य

यूएसडीए के मुताबिक दूध में विटामिन ए, बी, डी और के पाया जाता है। पोषकता से भरपूर एक कप दूध का सेवन करने से शरीर में 8 ग्राम प्रोटीन की कमी पूरी होती है। इसमें 67 फीसदी कैल्शियम, 35 फीसदी मैग्नीशियम और 44 फीसदी फोसफेट पाया जाता है।

क्या दूध का सेवन डायबिटीज़ के मरीजों के लिए सही है

इस बारे में हेल्थशॉटस से बातचीत के दौरान डॉ मोहन डायबिटीज़ स्पैशलिस्ट सेंटर में कंसलटेंट डायबेटोलॉजिस्ट डॉ लवलीना ने दूध से संबधित कई प्रकार की जानकारी साझी की। उन्होंने कहा कि दूध बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर अपने आप में एक संतुलित आहार है। डायबिटीज़ के मरीजों को ये बेहतरीन न्यूट्रिशन वेल्यू प्रदान करता है। हांलाकि इसके सेवन से मधुमेह रोगियों के शरीर में ग्लूकोज का स्तर बढ़ जाता है।

वहीं मिल्क का पोषण मूल्य उस नकारात्मक प्रभाव को ओवरकम करने में कारगर साबित होता है। उदाहरण के तौर पर मधुमेह से ग्रस्त लोगों में ऑस्टियोपोरोसिस का जोखिम बढ़ने की संभावना रहती हैं। दूध का सेवन करने से शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी होती है। इससे ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा अपने आप कम हो जाता है।

मधुमेह रोगी को एक दिन में कितनी मात्रा में दूध का सेवन करना चाहिए

डायबिटीज के शिकार लोगों को लो फैट, लो कैलोरी व स्किम्ड गाय के दूध का सेवन करने की सलाह दी जाती है। उनके लिए एक दिन में लगभग 2 से 3 कप दूध का का सेवन करना उचित है। इससे शरीर में कार्ब्स और कैलोरीज़ नियंत्रण में रहती है। वहीं कई अध्ययन दूध और टाइप 2 मधुमेह के बीच एक खास संबंध बताते हैं।  दूध टाइप 2 मधुमेह की रोकथाम में सहायक है। वहीं कुछ अन्य रिसर्च के मुताबिक डेयरी प्रोडक्टस के अत्यधिक सेवन को टाइप 2 मधुमेह के कम जोखिम से जोड़ा गया है।

diabetes and milk
क्या दूध का सेवन डायबिटीज़ के मरीजों के लिए है फायदेमंद। चित्र : अडोबीस्टॉक

एक्सपर्ट के मुताबिक इन बातों का रखें ख्याल

एक्सपर्ट के मुताबिक नाश्ते में अनाज के साथ मिल्क प्रोटीन का सेवन पोस्ट.प्रांडियल ग्लाइसेमिक को कम करता है। इसके अलावा डेयरी प्रोडक्टस में पाया जाने वाला प्रोटीन ग्लूकोज़ रेगूलेशन में मदद करता है।

टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज़ में दूध में मौजूद कार्ब्स ब्लड में पहुंचकर शूगर का रूप ले लेते हैं। ऐसे में दूध का अत्यधिक सेवन ब्लड शुगर में बढ़ोतरी करने लगता है।

दूध से तैयार दही और पनीर में ग्लाइसेमिक कार्बोहाइड्रेट काउंट होता है जो ब्लड में शुगर बढ़ने का कारण बन सकते हैं।

ये भी पढ़ें- Period and UTI : पीरियड के दौरान बढ़ जाती है यूरीनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन की समस्या, एक्सपर्ट बता रही हैं कारण और बचाव के उपाय

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख