और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

एक लोकप्रिय गीत किसी संक्रामक बीमारी की तरह फैलता है, वैज्ञानिकों ने ढूंढी संक्रमण और गीतों में समानता

Published on:24 September 2021, 15:30pm IST
वैज्ञानिकों का मानना है कि कोविड-19 जैसी महामारी का वायरस हो या किसी हिट गीत का प्रसार, दोनों को ही सामाजिक संबंधों की जरूरत होती है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 112 Likes
music aur covid - 19
जानिए कैसे एक हिट गाना किसी संक्रामक बीमारी के समान है। चित्र : शटरस्टॉक

पूरी दुनिया कोविड-19 महामारी से जूझती रही है। पिछले लगभग 18 महीनों में हमने कोविड-19 की पहली और दूसरी लहर भी देख ली है और उसके मामलों में कमी भी हमने देखी है। पर क्या कभी आपने अपने पसंदीदा गीत के हिट होने को कोविड-19 से जोड़कर देखा है? हैरान न हो, वैज्ञानिक असल में कमाल होते हैं। इस बार एक विस्तृत अध्ययन में उन्होंने एक संक्रामक बीमारी के फैलने और किसी गीत के हिट होने में अद्भुत साम्यता खोज निकाली है।

क्या कहता है अध्ययन

मैकमास्टर यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने एक संक्रामक बीमारी के फैलने और एक नए गाने के रिलीज होने के बीच कई समानताएं पाई हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि महामारी मॉडल का उपयोग करके यह पता लगाया जा सकता है कि हिट गीतों की लोकप्रियता क्या है, जिसे अक्सर संक्रामक या वायरल के रुप में वर्णित किया जाता है।

music aur diseases
एक संक्रामक बीमारी के फैलने और एक नए गाने के रिलीज होने के बीच कई समानताएं पाई हैं। चित्र : शटरस्टॉक।

इस शोध के प्रमुख लेखक डोरा रोसाती ने बताया कि “जब कोई बीमारी एक बड़ी आबादी में फैल जाती है, तो आप संक्रमण के मामले में तेज वृद्धि देखते हैं। अंतत: यह अपने चरम बिंदु पर तब पहुंच जाता है, जब यह अतिसंवेदनशील आबादी के माध्यम से अपना रास्ता बनाता है। उसके बाद इसमें गिरावट शुरु हो जाती है।”

“हम अपने डेटा में डाउनलोडेड गाने के साथ भी वही पैटर्न देखते हैं। किसी भी गीत को जब अधिक से अधिक लोग सुनते हैं और उसे सुनने की इच्छा रखते हैं तो वह तेजी से फैलता है। फिर समय के साथ इसमें गिरावट आ जाती है।”

रोसाती का कहना है कि यदि आप किसी गाने को “ संक्रामक” मानते हैं, तो वहां से सादृश्य जारी रहता हैै। अगर आप किसी गाने को सुनकर अतिसंवेदनशील हो जाते हैं, मतलब आप इसे बार – बार सुनते हैं या फिर इसे डाउनलोड करना चाहते हैं, तो इसका मतलब है कि आप उस गाने से संक्रमित हो चुके हैं। अब आप उस गाने को सक्रिय होकर सुनेंगे।

साथ ही किसी न किसी तरीके से इस गाने को अपने जानने वालों से भी साझा करेंगे। इसमें अपने दोस्तों को गीत की खासियत बताना भी शामिल है।

रोसाती ने कहा ” जब आप ऐसा करते हैं, तो आप अन्य लोगों को भी इस गाने से संक्रमित करते हैं। फिर आप अगले गीत पर चले जाते हैं। यह भी हो सकता है कि आप इस गाने से थक जाएं और किसी दूसरे को सुनना शुरू कर दें। अर्थात अब आप उस गाने के संक्रमण से उबरने लगे हैं।

कैसे किया गया अध्ययन

शोधकर्ताओं ने सात साल की अवधि में नोकिया सेल फोन के माध्यम से 33 विभिन्न देशों से 1.4 अरब व्यक्तिगत गीत डाउनलोड वाले डेटाबेस से डेटा प्राप्त किया, जिसमें नृत्य, धातु, पॉप, रेगे, देश और पश्चिमी और इलेक्ट्रॉनिका जैसी शैलियों शामिल थीं, एक शैली तकनीकी और गुनगुनाने से प्राप्त संगीत की भी थी। उन्होंने अपने विश्लेषण को ग्रेट ब्रिटेन में होने वाले गीत डाउनलोड पर केंद्रित किया।

hit song aur infection
एक हिट गाना किसी बीमारी जितना ही संक्रामक होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

रोसाती ने गणित और सांख्यिकी विभाग के प्रोफेसर डेविड अर्न की देखरेख में यह शोध किया। उनके सहयोगियों बेन बोल्कर, गणित और सांख्यिकी और जीव विज्ञान विभाग में प्रोफेसर और स्कूल में एक सहयोगी प्रोफेसर मैथ्यू वूलहाउस ने भी इस पर काम किया।

जनसंख्या के माध्यम से नए गाने तेजी से फैलते हैं

शोधकर्ताओं के अनुसार, जब कोई संक्रामक रोग पहली बार किसी आबादी में प्रवेश करता है, तो यह सामाजिक संपर्क के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। रोगज़नक़ अंततः एक चरम पर पहुंच जाता है और फिर कम हो जाता है क्योंकि कम लोग अतिसंवेदनशील होते हैं या संक्रामक व्यक्ति ठीक हो जाते हैं।

वैज्ञानिक रोसाती ने कहा कि ” इस अध्ययन की सबसे महत्वपूर्ण खोज यह है कि हमने दिखाया है कि गीत लोकप्रियता का अध्ययन के लिए बीमारी का गणितीय मॉडल काम आ सकता है। यह उन सभी प्रकार की चीजों के लिए द्वार खोलता है, जिससे हम गीत लोकप्रियता के बारे में जानने में सक्षम हो सकते हैं।

गीत की लोकप्रियता और महामारी की गणना

उदाहरण के लिए अभी हम उन मॉडलों का उपयोग महामारी के बारे में चीजों को सीखने के लिए कर सकते हैं। जैसे महामारी कितने समय तक चलेगी, कितने लोग संक्रमित हो सकते हैं, एक साथ संक्रमित होने वाले लोगों की सबसे बड़ी संख्या क्या हो सकती है। यदि हम इसे गीत के संदर्भ में लागू करते हैं तो हम समान चीजें सीख सकते हैं जैसे कि कुल कितने लोग एक गीत डाउनलोड कर सकते हैं, गीत कितने समय तक लोकप्रिय रहेगा और उस गीत की चरम लोकप्रियता क्या होगी।

music aur health
गीत और बीमारी दोनों को है सामाजिक संबंधों की जरूरत। चित्र: शटरस्‍टॉक

गीत और बीमारी दोनों को है सामाजिक संबंधों की जरूरत

उन्होंने संक्रामक प्रक्रियाओं का निर्धारण किया जो एक गणितीय मॉडल संक्रामक रोगों के लिए प्रकट करता है। जो गीत की लोकप्रियता को चलाने में भी काम कर सकता है। इसका अर्थ है, संगीत और संक्रामक रोग दोनों आबादी के माध्यम से फैलने के लिए सामाजिक संबंधों पर निर्भर करते हैं।

अर्न ने कहा, “चाहे वह कई लोगों को संक्रमित करने वाली बीमारी हो या कोई गाना लोकप्रिय हो रहा हो, किसी तरह के सामाजिक संपर्क की जरूरत है।”

“एक संक्रामक बीमारी के लिए, यह आम तौर पर एक संक्रमित व्यक्ति के पास शारीरिक संपर्क या हवा में सांस लेना है। एक गीत के लिए, संपर्क में शारीरिक निकटता शामिल हो सकती है, लेकिन यह सोशल मीडिया के माध्यम से आभासी संपर्क भी हो सकता है। किसी भी मामले में, सामाजिक संचरण नेटवर्क पर निर्भर करता है।”

उदाहरण के लिए, मॉडलिंग का सुझाव है कि इलेक्ट्रोनिका के प्रशंसक पॉप जैसी अन्य शैलियों की तुलना में अधिक सक्रिय रूप से या अधिक प्रभावी ढंग से गाने साझा करते हैं। इलेक्ट्रॉनिका प्रशंसकों का सामाजिक नेटवर्क अन्य प्रशंसक समुदायों की तुलना में अधिक मजबूती से जुड़ा हो सकता है या वे अपने पसंदीदा गीतों और बैंड के बारे में अधिक भावुक हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें : 40 किलो वज़न घटा कर लिज़ेल डिसूजा बन गई हैं वेट लॉस आइकॉन, यहां है उनकी पूरी वेट लॉस यात्रा

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।