मैराथन की तैयारी कर रहीं हैं, तो आपको इन 5 चीजों का रखना चाहिए ध्यान

Published on: 22 November 2021, 09:30 am IST

ये दौड़ने की तैयारी का समय है। कुछ ही महीनों बाद मेराथन या अन्य दौड़ प्रतियोगिताएं शुरू होने वाली हैं। इनकी तैयारी आपको अभी से करनी होगी।

marathon me jane ki tips
मैराथन में भाग लेने से पहले बहुत ज़रूरी है की हम अच्छी तैयारी करें। चित्र : शटरस्टॉक

फिटनेस लवर्स मैराथन का बेसब्री से इंतजार करते हैं। हालांकि मैराथन में और भी लोग दौड़ने के लिए भाग लेते हैं। अकसर ऐसा देखा गया है कि कुछ लोग बिना किसी तैयारी के मैराथन में भाग ले लेते है। लेकिन इस बात का ध्यान रखने की बहुत आवश्यकता है कि मैराथन जैसे इवेंट में पूरी तैयारी के साथ आना चाहिए। वरना आपको कई शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। 

अकसर ऐसा देखा गया है कि कुछ लोग बिना किसी तैयारी के मैराथन में भाग ले लेते है।चित्र : शटरस्टॉक

क्यों जरूरी है मेराथन की समय से तैयारी करना 

बीते साल 2020 में मुंबई में हुई मैराथन में शामिल एक 64 वर्षीय शख्स को दिल का दौरा पड़ गया था। जिसके बाद शख्स की मौत हो गई। इसके अलावा अन्य दो लोगों को भी दौड़ते समय दिल का दौरा पड़ गया। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ऐसे में अगर आप भी मैराथन के लिए तैयार हैं, तो आपको कई चीजों का ध्यान रखना चाहिए।

आइए कुछ अहम बिंदुओं पर नजर डालते हैं

1 मेडिकल फिटनेस 

अगर आपकी उम्र 40 साल से ऊपर है, तो आपको इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि अचानक से दौड़ना आपकी सेहत के लिए मुश्किल भरा हो सकता है। कई बार ऐसा सुनने में आया है कि लोग दौड़ते-दौड़ते बेहोश हो जाते हैं। इसलिए मेडिकली फिट रहने पर ही मैराथन में दौड़ने का निर्णय लें। आप इसके लिए अपने डॉक्टर से सलाह भी लें। अगर आप दिल के या न्यूरो के रोगी हैं, तो आपको इस में भाग नहीं लेना चाहिए।

2 मानसिक मजबूती 

फिजिकल फिटनेस जितनी जरूरी है, उतना ही जरूरी है मानसिक स्वास्थ्य। मैराथन में भाग लेने के लिए आपको अपने फिजिकल फिटनेस के साथ-साथ मेंटल फिटनेस पर भी ध्यान देना पड़ेगा।

3 सही जूते

अगर आप मैराथन में हिस्सा ले रही है, तो आपको अपने फुटवियर पर बहुत ध्यान देना चाहिए। गलत रनिंग शूज न केवल आपकी स्पीड पर असर डालते है, बल्कि ये पैरों में चोट या छालों का भी कारण बन सकते हैं। हो सके तो अच्छे क्वालिटी के कुशन वाले जूते ही पहनें। ताकि आपको दौड़ते समय आराम रहे।

janiye blisters ke karan
अच्छे क्वालिटी के कुशन वाले जूते ही पहनें । चित्र: शटरस्टॉक

4 एकदम से न बढ़ाएं रफ्तार 

हमेशा हमें दौड़ने की शुरुआत धीरे-धीरे करनी चाहिए। अगर आपको तीन-चार महीने बाद दौड़ना है, तो अभी से धीरे-धीरे अपनी रफ्तार बढ़ाएं। हर रोज दौड़ने का अभ्यास करें और दौड़ने का दायरा भी धीरे-धीरे बढ़ाएं। 

जिससे हमारे शरीर में फ़्लूइड का बैलेंस बना रहे। मैराथन में भाग लेने से करीब एक हफ्ते पहले इलेक्ट्रोल, पानी, या जूस का ज्यादा सेवन करें। जिससे आपकी बॉडी मे फ़्लूइड की मात्रा कम न होने पाए।

5 अचानक न रुकें 

इस बात का ध्यान रहे कि दौड़ पूरी होने के बाद आप एकदम से न रुकें। दौड़ पूरी होने पर अपनी गति की तीव्रता को धीरे-धीरे कम करने का अभ्यास करें। इससे आपके शरीर के अंगों को सामान्य स्थिति में पहुंचने में सहायता मिलेगी।

ध्यान रहे यदि आप मैराथन में पहली बार शामिल होने वाली हैं, तो आप को कम से कम 3 महीने पहले से तैयारियां शुरू करनी पड़ेगी। इन तीन महीनों के दौरान कार्डियोवेस्कुलर ट्रेनिंग और स्ट्रेंथ ट्रेनिंग से पावर बढ़ाएं। साथ ही बॉडी में फ़्लैक्सिबिलिटी लाना भी जरूरी है। 

यह भी पढ़े : जंपिंग पसंद नहीं है? तो भी हमारे पास आपके लिए हैं बिना जंप वाली ये 5 वॉर्म अप एक्सरसाइज

अक्षांश कुलश्रेष्ठ अक्षांश कुलश्रेष्ठ

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें