जानिए क्या है केराटाइटिस की समस्या, जो आंखों की रोशनी भी छीन सकती है

आंखों में फैंसी लैंस पहनना, आंखों की सफाई पर ध्यान न देना और अन्य बैक्टीरिया केराटाइटिस के कारण हो सकते हैं। पर इस समस्या पर तत्काल ध्यान देना जरूरी है।
Contact lens se aankhon me infection ho sakte hain.
कॉन्‍टैक्‍ट लेंस के साथ आपको एक्‍स्‍ट्रा सावधानी बरतने की जरूरत है। चित्र: शटरस्‍टाॅॅॅक
संध्या सिंह Published: 26 Feb 2023, 17:00 pm IST
  • 134

आप भी लेंस पहनते हैं, तो कुछ चीजों का ध्यान जरूर रखते होंगे कि लेंस को उसके डिब्बे में रखना है, लेंस वाले सोल्यून में ही लेंस को रखना है, लेंस लगाकर आंखों को मसलना नहीं है या फिर लेंस लगाकर सोना नहीं है और भी बहुत कुछ।

अभी हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें अमेरिका में रहने वाले 21 साल के माइक क्रुमहोल्ज़ आंखों में लेंस लगाकर सो गए। जिससे उनकी आंखों की रोशनी चली गई। डॉक्टर इसे केराटाइटिस (Acanthamoeba keratitis) की समस्या बता रहे हैं। आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला और क्या है केराटाइटिस (Acanthamoeba keratitis) जो आंखों की रोशनी भी छीन सकता है।

अमेरिका में लेंस पहनकर सोया लड़का

अमेरिका निवासी माइक पिछले 7 सालों से लेंस पहन रहे थे। पहली बार वे लेंस उतारना भूल गए। जिसके बाद उन्हें इस परेशानी का सामना करना पड़ा था। माइक जब उठे, तो उन्होंने देखा कि उनकी एक आंख लाल हो गई है और उसमें कुछ इंफेक्शन भी है। माइक डॉक्टर के पास गए, तो डॉक्टर ने बताया कि उनकी आंख का एक हिस्सा मांस खाने वाला परजीवी खा गया है। ये खबर माइक के होश उड़ाने के लिए काफी थी।

डॉक्टर ने माइक क्रुमहोल्ज़ की दाहिनी आंख में अकैंथ अमोबा केराटाइटिस होने की भी सूचना दी। इसी फरवरी में माइक ने एक पेज बनाया, जिसमें उन्होंने इस दुर्घटनों के बारे में सारी जानकारी साझा की।

kya contact lenses ko din bhar pahanna safe hai!
कॉन्टेक्ट लैंस को लगाकर सोने से जा सकती है आपकी आंखो की रोशनी चित्र: शटरस्टॉक

माइक ने बताया कि वो सुबह उठे और उन्हे आंखो में एलर्जी और आंखें लाल दिखीं। उन्हें आंखो में एचएसवी 1 होने की जानकारी दी गई। लेकिन वो 5 नेत्र विशेषज्ञ और 2 कॉर्निया विशेषज्ञों से मिलें तब उन्हे आंखों में एक दुर्लभ परजीवी होने का पता चला, जिसे अकैंथ अमोबा केराटाइटिस कहा जाता है।

ये भी पढ़ें- पश्चिम बंगाल में छोटे बच्चे हो रहे हैं एडिनोवायरस से बीमार, फेफड़ों में सूजन ला सकता है यह खतरनाक वायरस

दुनिया भर में 10 लाख लोग पहनते हैं लेंस

माइक ने कहा मेरी एक सर्जरी हुई है, जिसे कंजेक्टिवल फ्लैप का पीडीटी रिलोकेशन कहा जाता है। इससे उनकी एक आंख में काफी दर्द है और कुछ दिखाई भी नहीं दे रहा है।

माइक ने अन्य लोगों से अपील की है कि जो कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हैं, वे इसे पहनकर न सोएं और न ही उन्हें पहनकर नहाएं। सेंटर्स फोर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (Centers for Disease Control and Prevention) के मुताबिक 10 लाख में 33 लोग जो कॉन्टैक्ट लेंस पहनते हैं, उन लोगें को इस तरह के परजीवी का इंफेक्शन होता है।

आंखों के लिए खतरनाक हो सकता है कॉन्टैक्ट लेंस लगाकर सोना

इस बारे में और विस्तार से बात करते हुए डॉ ऋषि भारद्वाज कहते हैं कि लेंस लगाकर सोने से जीवाणु और कवक, आंखों के संक्रमण का उच्च जोखिम होता है।

केराटाइटिस,कॉर्नियल घर्षण, फोर्निस में कॉन्टैक्ट लेंस का प्रतिधारण, ड्राई आंखों की समस्या हो सकती है। डॉ ऋषि गुरुग्राम के पारस अस्पताल में एचओडी-ऑप्थल्मोलॉजी हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

वे आगे कहते हैं, “कॉन्टेक्ट लेंस पहनकर सोना सुरक्षित नहीं है। इससे कॉर्नियल संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, जो आपकी आंख के रंगीन हिस्से की रक्षा करने वाली स्पष्ट परत का संक्रमण है।

माइक्रोबियल केराटाइटिस, संक्रमण के कारण होने वाली कॉर्नियल सूजन का एक रूप है, जब आप रात भर अपने कॉन्टैक्ट लेंस पहनते हैं तो यह पांच गुना अधिक बढ़ जाता है। आपका लेंस किस प्रकार का है इससे संक्रमण के खतरे पर कोई असर नहीं पड़ता है।

बढ़ सकता है केराटाइटिस का जोखिम

सीडीसी (CDC) के अनुसार एकैंथअमीबा केराटाइटिस (Acanthamoeba keratitis) आंख का एक दुर्लभ लेकिन गंभीर संक्रमण है जो स्थायी दृष्टि हानि या अंधापन का कारण बन सकता है। यह संक्रमण एक छोटे अमीबा के कारण होता है, जिसे एकैंथअमीबा (Acanthamoeba) कहा जाता है। एकैंथअमीबा केराटाइटिस (Acanthamoeba keratitis) का कारण बनता है जब यह कॉर्निया को संक्रमित करता है।

ये भी पढ़ें- क्या बच्चों को भी हो सकती है यूटीआई की समस्या? जवाब है हां, एक्सपर्ट बता रहीं हैं कुछ जरूरी बातें

क्या हो सकते हैं इसके कारण

कैंथ अमीबा केराटाइटिस (Acanthamoeba keratitis) उन लोगों में सबसे आम है जो कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हैं, लेकिन फिर भी ये संक्रमण किसी को भी हो सकता है। कॉन्टेक्ट लेंस पहनने वाले लोगों को कुछ चीजें कैंथ अमीबा केराटाइटिस (Acanthamoeba keratitis) होने का जोखिम को बढ़ा सकते है।

Decorative eye lens na lagaye
इस हैलोवीन डेकोरेटिव आई लेंस लगाने से बचें। चित्र:शटरस्टॉक

ये गलतियां खराब कर सकती हैं आपका लैंस और आंखों की रोशनी

लैंस को गलत ढंग से कीटाणुरहित करना (जैसे सों को साफ करने के लिए नल के पानी का उपयोग करना)
तैरना, हॉट टब का उपयोग करना, या लेंस पहनकर नहाना
दूषित पानी के संपर्क में आना
कॉर्निया में संक्रमण का इतिहास होना

इनसे बचने के लिए क्या करें?

1. डॉ ऋषि भारद्वाज ने बताया कि सुरक्षित रूप से कॉन्टैक्ट लेंस को हटा दें, यदि नहीं हट पा रहे हैं, तो इसे कुछ समय के लिए छोड़ दें।

2. उन सभी सेफ्टी नियमों का पालन करें जो आपके नेत्र विशेषज्ञ ने आपको बताए हैं।

3. किसी भी तरह की समस्या या आसामान्यता महसूस होने पर तत्काल किसी नेत्र रोग विशेषज्ञ को दिखाएं और उपचार के निर्देशों का ध्यानपूर्वक पालन करें।

ये भी पढ़ें- आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकती हैं ये 4 फैंसी आदतें, जल्द से जल्द कर लें तौबा

  • 134
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख