ये हैं असली गुनहगार : वैज्ञानिकों ने ढूंढ निकाले 29 जीन्‍स, जो ज्‍यादा शराब पीने के लिए उकसाते हैं

शराब पीने की आदत कब समस्‍या में तब्‍दील हो जाती है, पता ही नहीं चलता। पर इसमें आपका दोष नहीं है, वैज्ञानिकों ने उन 29 जीन्‍स को ढूंढ निकाला है, जो अल्‍कोहल डिसऑर्डर को बढ़ाकर शराब पीने वालों को बदनाम करते हैं।
वैज्ञानिकों ने ऐसे जीन्‍स का पता लगाया है जो आपको जरूरत से ज्‍यादा शराब पीने को मजबूर कर देते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
PTI
  • 90

वैज्ञानिकों ने उन 29 नए जेनेटिक वैरिएंट्स की पहचान की है, जो शराब पीने से जुड़े हैं। ये वेरिएंट्स अल्‍कोहल डिसऑर्डर के लिए अब तक खोजे गए जेनेटिक रिस्‍क का तीन गुना हैं।

अमेरिका में येल यूनिवर्सिटी की टीम ने 435,000 से अधिक लोगों के जीनोम-वाइड विश्लेषण के बाद नए वेरिएंट की पहचान की है।

अमेरिका में येल यूनिवर्सिटी में किए गए इस शोध के वरिष्‍ठ अध्‍येता जोएल गेलर्नेटर का कहना है, नए आंकड़ें उन जोखिमों लोकी (loci) का तीन गुना हैं जो अभी तक अल्‍कोहल डिसऑर्डर के लिए जाने गए हैं। जिससे शराब पीने की आदत समस्‍या की हद तक बढ़ जाती है।

क्‍यों पीते हैं ज्‍यादा शराब

जेनेटिक्‍स में एक लोकस (लोकी का बहुवचन) एक खास, निश्चित स्थिति पर होता है, जहां एक विशेष जीन या आनुवंशिक मार्कर स्थित है।

नेचर न्यूरोसाइंस जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में चार अलग-अलग बायोबैंक या डेटासेट में यूरोपीय वंश के लोगों के जीनोम-वाइड विश्लेषण शामिल हैं।

जरूरत से ज्‍यादा शराब पीना सेहत के लिए खतरनाक होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

अध्ययन के लेखक हैंग झोउ का कहना है, “यह हमें ज्‍यादा शराब पीने के लिए दोषी विशेष मानसिक अवस्‍थाओं, जोखिम लेने की आदत और मस्तिष्‍क के संज्ञानात्‍मक प्रदर्शन के बीच संबंधों की पड़ताल करता है।”

गेलर्नेटर उम्‍मीद जताते हैं कि “इन परिणामों से हम ज्‍यादा शराब पीने की समस्‍या के व्‍यक्तिगत स्‍तर के जोखिमों का अब बेहतर मूल्‍यांकन कर सकते हैं।

अध्ययन के लिए, शोधकर्ताओं ने उन लोगों के बीच साझा जेनेटिक वेरिएंट की तलाश की, जो ज्‍यादा शराब पीने के आदी रहे हैं, जिसमें शराब से होने वाले डिसऑर्डर और चिकित्‍सकीय परिणाम शामिल हैं।

क्‍या कहता है अल्‍कोहल डिसऑर्डर पर नया शोध

विश्लेषण में प्रोब्‍लम ड्रिंकिंग के लिए जिम्‍मेदार 19 नए जेनेटिक रिस्‍क, जबकि 10 पहले से ज्ञात जेनेटिक रिस्‍क की पुष्टि हुई है।

अध्‍ययन से प्राप्‍त जानकारी ने शोधकर्ताओं को अंधाधुंध शराब पीने से उत्‍पन्‍न विकारों और अन्‍य समस्‍याओं जैसे अवसाद और चिंता के बीच जेनेटिक संबंधों की पड़ताल करने की अनु‍मति दी है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

उन्होंने यह भी पाया कि इन प्रकारों के आनुवंशिक हेरिटेज को मस्तिष्क में समृद्ध किया गया था और जीनोम के क्रमिक विकास के लिए जिम्‍मेदार हिस्‍सों पर प्रभाव उत्‍पन्‍न कर यह बायलॉजिक फंक्‍शन को भी प्रभावित करता है।

  • 90

हेल्थशॉट्स वेलनेस न्यूजलेटर

अपने इनबॉक्स में स्वास्थ्य की दैनिक खुराक प्राप्त करें!

सब्स्क्राइब करे
अगला लेख