स्वास्थ्य को संपूर्ण सुरक्षा देती है स्वर्ण भस्म, लेकिन ज्यादा मात्रा में लेना हाे सकता है घातक 

स्वर्ण भस्म हमारे संपूर्ण शरीर के लिए फायदेमंद है। लेकिन इसका इस्तेमाल करने का तरीका और मात्रा की जानकारी भी आयुर्वेद विशेषज्ञ से हासिल कर लें।

swarnbhasm ke kayi fayde hain
स्वर्ण भस्म एक महत्वपूर्ण औषधि है, जो शरीर को असाध्य बीमारयों से दूर रखने में मदद करता है। चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 13 November 2022, 12:30 pm IST
  • 127

पुराने जमाने में लोग सोने के बहुत सारे आभूषण पहनते थे। ऐसा माना जाता था कि सोना ऊर्जा का पुंज है। इसमें सामने वाले व्यक्ति की ऊर्जा भी अवशोषित करने की क्षमता होती है। वास्तव में सोना मेंटल और फिजिकल दोनों तरह के हेल्थ के लिए स्वास्थ्यकर है। तभी यह कीमती धातुओं में से से एक है। इसके चमकदार और आकर्षक रंग के कारण इसका उपयोग आभूषण के तौर पर किया जाता है। आयुर्वेद में तो सोना को एक बहुपयोगी औषधि के रूप में जाना जाता है। स्वर्ण भस्म के रूप में यह प्रयोग में लाया जाता है। स्वर्ण भस्म के क्या फायदे हैं और इसे कैसे प्रयोग में लाया जा सकता (Swarna Bhasma for health ) है, इसके लिए हमने बात की, आयुर्वेद विशेषज्ञ और वेदाजक्योर के फाउंडर और डायरेक्टर डॉ. विकास चावला से।

स्वर्ण भस्म में मौजूद पोषक तत्व

शुद्ध स्वर्ण से तैयार स्वर्ण भस्म में सल्‍फर,  कैल्शियम, कॉपर, सोडियम, पोटैशियम, आयरन, फेरिक ऑक्‍साइड, फेरस ऑक्‍साइड, फॉस्‍फेट, इन्सोलुबल एसिड और सिलिका भी पाए जाते हैं।

यहां हैं स्वर्ण भस्म से होने वाले फायदे

डॉ. विकास चावला बताते हैं,  ‘स्वर्णभस्म कई तरह से स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। यह कई तरह के रोगों से शरीर का बचाव करता है।

1 असाध्य बीमारयों से दूर रखने में मदद करता है स्वर्ण भस्म (swarna bhasma for incurable disease)

डॉ. विकास चावला के अनुसार, स्वर्ण भस्म एक महत्वपूर्ण औषधि है, जो शरीर को असाध्य बीमारयों (incurable disease) से दूर रखने में मदद करता है। यह एक ऐसा रसायन है, जो शरीर के सभी अंगों को असरदार तरीके से स्वस्थ रख सकता है। इसका नियमित और विधिवत सेवन कुछ पुरानी बीमारी (chronic disorder)  भी ठीक करता है।

2 रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मददगार (swarna bhasma for immune system)

स्वर्ण भस्म के तत्व शरीर को अंदर से मजबूती प्रदान करते हैं।  शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। यह अवसाद, स्‍मृति, एकाग्रता,  मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य, मस्तिष्‍क की सूजन और मधुमेह को नियंत्रित रखने में मदद कर सकता है।

कमजोर इम्‍यून सिस्‍टम गंभीर समस्‍याओं को जन्‍म दे सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
स्वर्ण भस्म के तत्व इम्‍यून सिस्‍टम  को मजबूत करते हैं । चित्र: शटरस्‍टॉक

3 कैंसर रोधी गुण (anti cancerous)

एक रिसर्च  के अनुसार, स्वर्ण भस्म से कैंसर का भी उपचार किया जा सकता है। यह एक कैंसर रोधी दवा की तरह काम कर सकता है। इसके यौगिक में कुछ ऐसे विशेष गुण पाए जाते हैं, जिनका इस्तेमाल कैंसर की आयुर्वेदिक दवाइयों को तैयार करने में किया जाता है।

लंग्स और हार्ट के लिए फायदेमंद (gold ashes benefits for lungs & heart)

स्वर्ण भस्म पाचन संबंधी बीमारियों को दूर करता है। इसके साथ ही फेफड़े और हृदय को भी फिट रखता है । ऐसा माना जाता है कि इसके कंपाउंड दिल को मजबूती प्रदान करते हैं ।

आंखों के लिए मददगार (gold ashes for eyes)

एक अध्ययन  के मुताबिक आंखों के लिए भी स्वर्ण भस्म को फायदेमंद माना गया है। आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह पर जब स्वर्ण भस्म को पुनर्नवा के साथ लिया जाता है, तो  आंखों की कई समस्याओं को दूर करने में मदद करता है।

5 स्किन के लिए फायदेमंद (swarna bhasma beneficial for skin)

यह स्किन के अंदर तक जाकर काम करता है और डेड स्किन को साफ़ कर देता है। यदि स्वर्ण भस्म और केसर, दोनों को मिलाकर स्किन पर अप्लाई किया जाये, तो स्किन चमकदार हो जाएगी।

swarnbhasm ke estemal se adbhut nikhar aati hai
स्वर्ण भस्म के इस्तेमाल से स्किन पर अद्भूत निखार आ सकती है। चित्र: शटरस्टॉक

संभल कर करें स्वर्ण भस्म का इस्तेमाल (How to use swarna bhasma)

इसका सेवन हमेशा निर्धारित मात्र में ही करें, नहीं तो यह फायदे के बजाए स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां उत्पन्न कर सकता है। यदि स्वर्ण भस्म की सही मात्रा या आवश्यकता से अधिक कर लिया जाता है, तो बहुत बेचैनी होने लगती है।  मेंटल हेल्थ के प्रभावित होने की आशंका बनने लगती है। कोई अंग भी डैमेज हो सकता है। इसलिए बिना आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह के कभी इसका इस्तेमाल नहीं करें।

स्वर्ण भस्म का सेवन दूध, गाय के घी या फिर शहद के साथ किया जाता है। इसके सेवन का सही समय नाश्ते के समय और रात में सोने से पहले करना बेहतर माना जाता है।

यह भी पढ़ें :- ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकता है चिरायता, जानिए इसके खास एंटीडायबिटिक गुणों के बारे में 

  • 127
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें