फॉलो

जंक फूड से लेकर स्‍मोकिंग तक : बुरी आदतें छोड़नी हैं, तो पार्टनर की लें मदद

Published on:29 August 2020, 17:20pm IST
एम्सटर्डम यूनिवर्सिटी ऑफ एप्लाइड साइंसेज के हालिया अध्ययन में यह खुलासा हुआ है कि अगर आप अपने फि‍टनेस गोल में अपने जीवनसाथी को भी शामिल कर लेते हैं, तो सफलता की संभावना कुछ और बढ़ जाती है।
योगिता यादव
  • 87 Likes
अगर आप वजन कम करना चाहती हैं, तो इस जर्नी में अपने पार्टनर को भी शामिल कर लें। चित्र: शटरस्‍टॉक

मोटापे से परेशान हैं? डाइटिंग से लेकर एक्सरसाइज तक सब आजमाने का मन बना चुके हैं? अगर हां तो अपने जीवनसाथी को भी वजन घटाने के इस मिशन में साथ देने के लिए प्रेरित करें। आपको पेट और कमर के आसपास जमी चर्बी से छुटकारा मिलने की गुंजाइश तीन गुना बढ़ जाएगी। नीदरलैंड स्थित एम्सटर्डम यूनिवर्सिटी ऑफ एप्लाइड साइंसेज का हालिया अध्ययन तो कुछ यही बयां करता है।

जीवनसाथी के साथ

शोधकर्ताओं ने हार्ट अटैक से उबरे 824 मरीजों की दिनचर्या में कुछ बदलाव किए, ताकि उनका हृदय दोबारा सामान्य रूप से काम करने लगे। इसमें फास्टफूड और तैलीय भोजन रहित स्वस्थ खानपान अपनाने के साथ नियमित रूप से योग-अध्यात्म का अभ्यास करना और सिगरेट-शराब का सेवन छोड़ना शामिल था। प्रतिभागियों के जीवनसाथी को भी अध्ययन का हिस्सा बनने के लिए प्रेरित किया गया।

जो चीजें अकेले मुश्किल लगती हैं, उन्‍हें साथ में करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

सिगरेट-शराब छोड़ने में इच्छा-शक्ति सबसे अहम

चार हफ्ते बाद शोधकर्ताओं ने सभी प्रतिभागियों की सफलता दर आंकी। इस दौरान पार्टनर के साथ एक्सरसाइज और डाइटिंग करने वाले प्रतिभागियों के वजन में बाकियों के मुकाबले 2.9 गुना अधिक कमी देखने को मिली। हालांकि, सिगरेट-शराब की तलब शांत करने में जीवनसाथी का साथ कुछ खास असरदार साबित नहीं हुआ। इसके लिए प्रतिभागियों में दृढ़ निश्चय और इच्छा-शक्ति होना ज्यादा जरूरी था।

एक जैसी होती है कपल्‍स की खाने पीने की आदतें

जी हां, यह कोई कही सुनी बात नहीं, बल्कि सच है। साथ रहने वाले लोगों की खानपान की आदतें लगभग एक जैसी होती हैं। खासतौर से अगर आप शादीशुदा है तब तो आप

हां, ये सच है! कपल्‍स की आदतें एक जैसी होती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

की फूड चॉइस भी लगभग एक समान हो जाती हैं।

 

मुख्य शोधकर्ता लॉटे वेरवेज के मुताबिक आमतौर पर जोड़ों की जीवनशैली एक समान होती है। ऐसे में यदि एक व्यक्ति फास्टफूड से परहेज करता है, तो उसमें फल-सब्जी, दूध-दही और अंकुरित अनाज से लैस पौष्टिक आहार लेने की प्रेरणा जगाने के लिए दूसरे का भी समान डाइट अपनाना अहम है। व्यायाम के मामले में भी यही बात लागू होती है। अध्ययन के नतीजे ‘यूरोपियन सोसायटी ऑफ कार्डियोलॉजी’ के हालिया अंक में प्रकाशित किए गए हैं।

तो अब आपको क्‍या करना है

ओहो, अब ये भी हमें ही बताना पड़ेगा क्‍या? अब बस आपको अपना फि‍टनेस गोल तय करना है और उसमें अपने पार्टनर को शामिल करना है। कपल योगा करें (couple yoga), कपल एक्‍सरसाइज (couple exercise) करें और साथ- साथ कुछ हेल्‍दी बनाकर खाएं। फि‍र देखें आपकी वेट लॉस जर्नी कितनी आसान हो जाती है।

(PTI के इनपुट के साथ)

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

योगिता यादव योगिता यादव

पानी की दीवानी हूं और खुद से प्‍यार है। प्‍यार और पानी ही जिंदगी के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी हैं।