हे गर्ल्स, आपकी मांसपेशियों के लिए बहुत फायदेमंद है ब्लूबेरी, हर रोज करें इसका सेवन : शोध

आपके लिए स्लिम होने से ज्यादा जरूरी है फि‍ट होना और इसमें ब्लू बेरीज आपकी मदद कर सकती हैं। एक अमेरिकन रिसर्च का दावा है कि ब्‍लूबेरीज आपकी मसल्‍स को रिपेयर कर, बुढ़ापे को आने से रोकती हैं।
Blueberry smoothie recipe
ब्लूबेरी के द्वारा शरीर को एंथोसायनिन मिलता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 8 Aug 2020, 05:30 pm IST
  • 87

वर्कआउट हमारी मांसपेशियों को टोन्ड् करता है, लेकिन साथ ही कुछ डैमेज भी होता है जिसे रिकवर करना ज़रूरी है। इसके लिए हम अपने खानपान पर आश्रित होते हैं। कॉर्नेल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के अनुसार मांसपेशियों के लिए सबसे लाभदायक फूड है ब्लूबेरी। इस शोध के परिणामों को जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन में प्रकाशित किया गया।

क्या है यह शोध?

इस रिसर्च के लिए वैज्ञानिकों ने 24 महिलाओं को 6 हफ्तों के लिए स्टडी किया। इसमें 12 महिला 25 से 40 वर्ष के दायरे में थीं। वहीं 10 महिलाएं 60 से 75 के बीच। सामान्य भोजन के अतिरिक्त इन महिलाओं को हर दिन 1.75 कप ब्लूबेरी दिए गए। इस दैनिक आहार में उन्हें पोलीफेनॉल और एंथ्रॉसायनिन्स युक्त भोजन से परहेज करने को कहा गया।

मांसपेशियों को रिपेयर करती है ब्‍लूबेरी। चित्र: शटरस्‍टॉक

हर दिन सुबह के डोज़ की ब्लूबेरीज खाने के बाद उनका ब्लड सैम्पल लेकर यह स्टडी किया जाता था कि मेटाबॉलिज्म, ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और सेल्स के नम्बर पर क्या फर्क पड़ा है।

क्या रहे परिणाम

शोध में पाया गया कि 6 हफ्ते बाद 25 से 40 साल की महिलाओं में मांसपेशियों को बनाने वाले सेल्स की संख्या बढ़ी थी। यह सेल्स डैमेज मसल्स की मरम्मत करते हैं और ताकत भी बढ़ाते हैं। साथ ही इससे मसल्स तक ज्यादा ऑक्सीजन पहुंचता है। मगर 60 से 75 साल की महिलाओं की मांसपेशियों में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं देखा गया।

इस शोध की हेड एना थेलकर मर्सर बताती हैं, “यह शुरुआती स्टडी है जिसमें हमने पाया कि मांसपेशियों को बनाने वाले सेल्स को बढ़ाया जा सकता है। आगे हम देखेंगे कि क्या हड्डियों पर भी इस तरह के प्रभाव नज़र आते हैं। उम्र के साथ चलने-फिरने में कमी आ जाती है, जिसके कारण मांसपेशियां कमजोर होकर खत्म होने लगती हैं। बुजुर्ग महिलाओं में इसीलिए हमें मनचाहा परिणाम नहीं मिला।”

अभी ब्‍लू बेरी खाने से आप बुढ़ापे को खुद से दूर रख सकती हैं। चित्र : शटरस्टॉक

वह बताती हैं, “हम इससे पहले यह शोध चूहों पर कर के सफल हो चुके थे। लेकिन अभी भी बहुत रिसर्च बाकी है। हम कोशिश कर रहे हैं कि कुछ ऐसा ढूंढे जिसका मेडिकल साइंस में प्रयोग हो सके।”

सेंटर ऑफ डिसीज़ कंट्रोल एंड प्रीवेंशन के अनुसार मांसपेशियों की खोयी ताकत, लचक और मजबूती समय के साथ पाई जा सकती है। बस सही डाइट और एक्सरसाइज की ज़रूरत है। 30 की उम्र के बाद मसल्स 5% तक हर दशक में कम होता है। 60 के बाद यही रेट और बढ़ जाता है। अगर हम शुरू से ही मसल्स को रिपेयर करने लगें, तो हम बुढ़ापे की उम्र को डिले कर पाएंगे। और इसमें ब्लूबेरी का बड़ा योगदान है।

ब्लूबेरी हृदय रोग से लेकर डायबिटीज, पाचनतंत्र और ओवरऑल स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। इस रिसर्च के बाद ब्लूबेरी खाने की एक और बड़ी वजह हमें मिल गयी है। एंटीऑक्सीडेंट से लैस इस फल को खाने से हम लम्बे समय तक जवाब रह सकते हैं।

  • 87
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख