फल और सब्जियां खाइए और दुरुस्त रखिए दिल, आइए जानते हैं क्या कहती है नई रिसर्च

हार्ट हेल्थ को लेकर किसी का भी चिंतित होना स्वाभाविक है। इस संदर्भ में नई रिसर्च ने दावा किया है कि हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेस्‍ट हैं फल और सबिज्यां।
फलों और सब्जियों को अपने आहार में शामिल करना हमेशा से एक हेल्‍दी ऑप्‍शन रहा है। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 25 Apr 2022, 19:12 pm IST
  • 80

जब अच्छे स्वादिष्ट खाने की बात होती है तो हमारे दिमाग में जंक फ़ूड व तेल और मसाले से भरा खाने का ध्यान आ जाता है। जबकि फल और सब्जियों वाली डाइट को सेहत के लिए हमेशा से बेहतर माना गया है।

भोजन द्वारा होने वाली बीमारियां आजकल सबसे ज्यादा बढ़ गईं हैं। जब हृदय रोग से जुड़ी बीमारियों की बात होती है तो लोग ज्यादा चिंतित हो जाते हैं। रिसर्च ये कहती है कि डैश डाइट यानी फल और सब्जियों पर आाधारित आहार आपके लिए बेस्ट है। जब बात आती है उच्च रक्तचाप की, तो डॉक्टरों का विश्वास है कि दवाइयों से बेहतर है परहेज।

अमेरिका में प्रख्यात US National Institute of health का सुझाव है कि डैश डाइट हमारे खाने में सोडियम की मात्रा को कम करती है। यदि आप अपने भोजन में फल सब्जी और कम फैट वाले डेयरी प्रोडक्ट्स शामिल कर लेते हैं, तो यह एक उत्तम डाइट प्लान बन जाता है।

डैश डाइट का हृदय स्वास्‍थ्‍य पर असर

रिसर्च के अनुसार, यदि डैश डाइट में शामिल फल और सब्जियां लंबे समय तक अपने भोजन का हिस्सा बना ली जाएं और मेंटेन रखा जाए, तो यह भोजन हमारे हृदय के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होगा। एक्सपर्ट का मानना है कि डैश डाइट में फल और सब्जियों को शामिल करने को इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह हमें सीवीडी (कार्डियो वैस्कुलर डिजीज CVD) से भी बचाते हैं।

डैश डाइट हमारे खाने में सोडियम की मात्रा को कम करती है, जो हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद होता है। चित्र : शटरस्‍टॉक

इस पर एक रोचक तथ्य Annals of International Medicine में पब्लिश हुआ है। इसमें डैश डाइट को अमेरिकन डाइट के साथ कंपेयर किया गया। शोधकर्ताओं ने पाया कि इसके नतीजे काफी हैरान करने वाले थे। यह भोजन हृदय रोग से होने वाले नुक्सान को काफी हद तक कम करके उसके स्वस्थ होने पर अच्छा असल डालता है।

अधेड़ उम्र के लोगों पर इसका काफी अच्छा असर देखने को मिला। इन लोगों में CVD होने का खतरा अधिक होता है।

इस डाइट प्लान द्वारा सप्ताह में कई बार मछली, पौल्ट्री प्रोडक्ट व फलियां और कभी-कभी कुछ नट्स को भी शामिल किया जाता है। इस पर हुए शोध में यह निकल के सामने आया है कि यह भोजन ह्रदय को शक्ति देता है और तनाव से बचाता है। बायोमाकर्स की एकाग्रता को भी कम करता है।

क्या कहती है रिसर्च

डैश डाइट पर बहुतए सारे रिसर्च हुए। इसके बाद कई तथ्य निकल कर सामने आए। कुल मिलाकर कहा जाए तो यह CVD को ठीक करता है। इसके शुरुआती चरण में ही यदि आप डैश डाइट अपनाते हैं तो यह काफी फायदेमंद होता है। इसलिए आपको वह भोजन जरूर खाना चाहिए जो डैश डाइट द्वारा आप को दिया गया है।

जो लोग हाई ब्ल ड प्रेशर के शिकार हैं, उनके लिए यह काफी फायदेमंद हो सकती है। बल्कि यह परिवार के सभी सदस्यों के लिए उत्तम भोजन साबित होगा। रिसर्च कहती है कि इसमें बड़ी मात्रा में पोटेशियम, मैग्नीशियम और फाइबर है जो कि इसे एक उत्तम डाइट बनाता है। जिसका हमारे हृदय पर अच्छा प्रभाव पड़ता है।

निष्कर्ष :

आखिर में हम कह सकतें है, यह डाइट प्लान काफी पॉजिटिव है। यह हमें काफी सारी बीमारियों से बचाता है। हृदय स्वास्‍थ्‍य के लिए भी यह बेहतर है। इसलिए हमें इस डाइट को अपने भोजन में जरूर शामिल करना चाहिए।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

इसमें शामिल फल और सब्जियां, मछली, पौल्ट्री प्रोडक्ट व फलियां आदि को अपनी डाइट में शामिल कर हम अपने दिल की सेहत को दुरुस्त् रख सकते हैं।

  • 80
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

हेल्थशॉट्स वेलनेस न्यूजलेटर

अपने इनबॉक्स में स्वास्थ्य की दैनिक खुराक प्राप्त करें!

सब्स्क्राइब करे
अगला लेख