इस शोध के अनुसार कोविड -19 आपको दे सकता है लंबे समय तक चलने वाले त्‍वचा संबंधी संक्रमण

सिर्फ श्वसन और न्यूरोलॉजिकल समस्‍याएं ही नहीं, कोविड -19 रिकवरी के बाद आपको त्‍वचा पर चकत्‍ते आने जैसी कई समस्‍याओं का सामना करना पड़ सकता है। 
कोविड के समय में स्किन रेशेस। चित्र: शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 2 Nov 2020, 08:00 pm IST
  • 75

ऐसा लगता है कि SARS-CoV-2 वायरस से संक्रमित होने से आपकी त्वचा पर भी परिणाम हो सकते हैं। एक हालिया अध्ययन से पता चला है कि कोविड -19 वाले मरीजों में जब उनका प्रारंभिक संक्रमण ठीक हो जाता है तब उनमें त्वचा से संबंधित लक्षण लंबे समय तक हो सकते हैं।

मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पिटल (एमजीएच), यूएस में जांचकर्ताओं द्वारा त्वचा विज्ञान और वेनेरोलाजी की 29 वीं कांग्रेस में निष्कर्ष प्रस्तुत किए गए। इसमें कोविड -19 से लंबे समय तक ग्रसित रहने वाले लोगों पर ध्यान केंद्रित किया गया। ये ऐसे लोग हैं जो भले ही वायरस से उबर गए हों, लेकिन उनमें इसके दुष्‍प्रभाव रह जाते हैं। 

शोधकर्ताओं ने त्वचा पर कोविड -19 के बाद के प्रभावों को देखा

विश्लेषण के लिए, अमेरिकी शोधकर्ताओं ने अप्रैल 2020 में कोविड-19 के बाद त्वचा पर होने वाली समस्‍याओं को नोट करने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय रजिस्ट्री की स्थापना की।

कोविड -19 प्रयोगशाला परीक्षण परिणामों और रोगियों की त्वचा लक्षणों की अवधि को अपडेट करने के लिए जून और अगस्त में चिकित्सकों से संपर्क किया गया था। टीम ने इन रोगियों को कोविड-19 के त्वचा लक्षणों वाले किसी व्यक्ति के रूप में परिभाषित किया जो कम से कम 60 दिनों तक बना रहा।

युवाओं में कोरोनावायरस का अनुपात बढ़ता जा रहा है। चित्र: शटरस्‍टॉक

टीम ने कोविड-19 की त्वचा पर दिखने वाले दुष्‍प्रभावों वाले रोगियों के लगभग 1,000 मामलों का मूल्यांकन किया।

खसरे जैसे चकत्ते और पित्ती का बढ़ा हुआ आंकड़ा क्रमशः सात दिनों और चार दिनों के मध्य के लिए होता है, जिसकी प्रयोगशाला में पुष्टि की गई। कोविड -19 के साथ रोगियों के लिए 28 दिनों की अधिकतम अवधि होती है।

पैपुलोस्क्वामस एक्सप्लोजन, जो कि पपी पपल्स और टुकड़े हैं, लैब-कन्फर्म किए गए मामलों में 20 दिनों के मध्य में होते हैं, जिनमें से एक की पुष्टि 70 दिनों तक चलने वाले लंबे खतरनाक प्रभावों के रूप में होती है।

इससे पैर और हाथों में लाली और सूजन आ जाती है। आमतौर पर जिसे कोविड टोज (Covid toes) के रूप में जाना जाता है! संदिग्ध कोविड -19 के रोगियों में यह 15 दिन  तक और अन्‍य कोविड रोगियों में दस दिन तक रहता है।

विशेष रूप से, इन लक्षणों वाले छह रोगी कम से कम 60 दिनों तक कोविड टोज से ग्रस्‍त रहे। वहीं दो अन्‍य रोगियों में यह 130 दिनों से अधिक समय तक रहा।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

वरिष्ठ लेखक एस्टर ई. फ्रीमैन, एमडी, पीएचडी, एमजीएच में ग्लोबल हेल्थ डर्मेटोलॉजी के निदेशक ने कहा “हमारे निष्कर्षों में कोविड -19 से लंबे समय से चली आ रही त्वचा के लक्षणों वाले रोगियों का पहले से ही निर्विवाद रूप से पता चलता है।विशेष रूप से कोविड टोज के मामले।

यह डेटा कोविड-19 का आपके शरीर के विभिन्न अंगों पर होने वाले दुष्‍प्रभावों के बारे में बात करता है।  त्वचा संभावित रूप से एक खिड़की की तरह है जो यह दर्शाती है कि शरीर के अंदर सूजन जारी है। ” 

यह भी पढ़े:अगर आप दिल्‍ली-एनसीआर में रहती हैं, तो आपको जरूर पढ़नी चाहिए लांसेट में प्रकाशित यह स्‍टडी

  • 75
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख