वैलनेस
स्टोर

एक अच्छी नींद आपके मस्तिष्क को दर्द भरी स्‍मृतियों से उबरने में मदद कर सकती है

Published on:16 March 2021, 13:28pm IST
एक अध्ययन से पता चलता है कि जो लोग रात को अच्छी नींद लेते हैं, वे मस्तिष्क की चोटों से तेजी से ठीक होने की संभावना रखते हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 62 Likes
अच्‍छी नींद आपके ब्रेन के लिए बहुत जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इस बात से कोई इंकार नहीं है कि रात में अच्छी नींद लेना हमारे समग्र स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी है। सब के बाद, नींद न केवल हमारे दिमाग और शरीर को ठीक करने में मदद करती है बल्कि, चयापचय, रोग-प्रतिरोधक क्षमता और ह्रदय को कुशलता से काम करने में भी मदद करती है।

पर अब अच्‍छी नींद का एक और कमाल का फायदा सामने आया है। एक नए अध्ययन में पाया गया है कि मस्तिष्क की चोट को ठीक करने में अच्छी नींद महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

अध्ययन के निष्कर्ष जर्नल ऑफ़ न्यूरो ट्रामा ’में प्रकाशित हुए थे। अध्ययन में ऑर्गन हेल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी में विकसित (magnetic resonance imaging) एक नई तकनीक का इस्तेमाल किया गया।

अच्छी नींद मस्तिष्क स्वास्थ्य को बेहतर बनाती है

शोधकर्ताओं ने मस्तिष्क में रक्त वाहिकाओं को घेरने वाले पेरिवास्कुलर स्पेस के इज़ाफे का मूल्यांकन करने के लिए एमआरआई का उपयोग किया। इनकी वृद्धि उम्र बढ़ने पर होती है और मनोभ्रंश के विकास से जुड़ी होती है।

ओएचएसयू स्कूल ऑफ मेडिसिन एंड डोनर बेचर चिल्ड्रन हॉस्पिटल में सहायक लेखक, एम.डी. प्रोफेसर जुआन पिएन्टिनो कहते हैं कि ”अच्छी नींद आपको घातक ब्रेन इंजरी को ठीक करने में मदद कर सकती है। क्योंकि यह चोट लगने के बाद मस्तिष्क के कूड़े को साफ़ करने में सहायक होती है। अगर आप अच्छी तरह से नहीं सोते, तो आप अपने मस्तिष्क को कुशलता से साफ नहीं कर पाते हैं।”

ओएचईएसयू के पप फैमिली पीडियाट्रिक रिसर्च इंस्टीट्यूट के एक चिकित्सा-वैज्ञानिक पिएन्टिनो मस्तिष्क की चोटों के बाद खराब नींद के प्रभावों का अध्ययन करते हैं।

पिएन्टिनो ने कहा “हम बहुत ही सटीक रूप से इस संरचना को मापने और चैनलों की संख्या, स्थान और व्यास को गिनने में सक्षम रहे।”

स्लीपिंग पैटर्न कॉग्निटिव समस्याओं का अनुमान लगाने में मदद कर सकता है।

नींद के दौरान, यह मस्तिष्क के मेटाबोलिक प्रोटीन को दूर करता है, जो अन्यथा मस्तिष्क में बनने लगते हैं।

यह भी जानना है जरूरी 

पिएन्टिनो कहते हैं: “कल्पना कीजिए कि आपका मस्तिष्क यह वेस्ट का उत्पाद कर रहा है और सब कुछ ठीक चल रहा है। अब आपको ब्रेन इंजरी हो और मस्तिष्क बहुत अधिक वेस्ट का उत्पादन करे, जिसे निकालने की ज़रुरत है।”

पिएन्टिनो बताते हैं कि अध्ययन ने सुझाव दिया कि सिलबर्ट द्वारा विकसित तकनीक बूढ़े लोगों के लिए उपयोगी हो सकती है।

“लंबे समय तक, हम इस पद्धति का उपयोग करने के बारे में सोचना शुरू कर सकते हैं, जो मनोभ्रंश सहित संज्ञानात्मक समस्याओं के लिए बड़ा जोखिम होने वाला है।”

नींद में सुधार एक आदत है जिसे कई तरीकों से सुधारा जा सकता है। बेहतर नींद के लिए बिस्तर से पहले स्क्रीन टाइम कम करना लाभदायक होता है।

पिएन्टिनो ने निष्कर्ष निकाला “यह अध्ययन मस्तिष्क की चोट से बचने में एक अहम कदम है।”

यह भी पढ़ें – कोविड-19 का टीका लगवा चुकी हैं? तो अब जानिए कि आपको क्‍या करना है और क्‍या नहीं

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।