10 मिनट में 1.5 लिटर कोक पीने से हुई चीनी व्यक्ति की मौत, जानिए साइंस जर्नल की ये रिपोर्ट

यह सुनने में अजीब लगेगा, लेकिन 22 वर्ष के एक चीनी व्यक्ति ने 10 मिनट में 1.5 लिटर कोक पिया और कुछ ही घंटों में उसकी मौत हो गई। साइंस जर्नल की रिपोर्ट में है इस घटना की असली वजह।
कोक में भी कैफीन पाया जाता है। चित्र: शटरस्टॉक
अदिति तिवारी Published on: 27 September 2021, 18:16 pm IST
ऐप खोलें

क्लिनिक एण्ड रिसर्च इन हेपटोलॉजी एण्ड गैस्ट्रोएंटेरोलॉजी के अनुसार 22 वर्ष के इस चीनी व्यक्ति की मौत ज्यादा सॉफ्ट ड्रिंक पीने के कारण हुए लिवर डैमेज से हुई है। साइंस जर्नल में छपी रिपोर्ट इस बात की पुष्टि करती है कि ज्यादा कोल्ड ड्रिंक ने उसके डाईजेस्टिव सिस्टम में सूजन पैदा कर दी थी।

एक न्यूज वेबसाइट में छपी रिपोर्ट के अनुसार, उस व्यक्ति के तेजी से कोक पीने की वजह से उसके शरीर में एक घातक गैस का निर्माण हुआ, जिससे उसके हार्ट में ऑक्सीजन की कमी हो गई और अंततः उसकी मृत्यु हो गई।

कोल्ड ड्रिंक के जहरीले केमिकल से आदमी का लिवर हुआ डैमेज। चित्र – शटर स्टॉक

इस कोक के सेवन के छह घंटे बाद उसके पेट में सूजन और तेज दर्द होने लगा, जिसके कारण उसे बीजिंग के चाओयांग अस्पताल में भर्ती करवाया गया। 

 टेस्ट में यह पाया गया कि मरीज की हृदय गति, ब्लड प्रेशर और सांस लेने की गति बढ़ गई थी। सीटी स्कैन में पाया गया कि उसके शरीर में कार्बन डाईआक्साइड गैस की असामान्य उपस्थिति थी। स्कैन से यह भी पता चला है कि वह  “शॉक लीवर” से ग्रस्त था, जो रिपोर्ट के अनुसार, लिवर में ऑक्सीजन की कमी के कारण होता है।

रिपोर्ट के अनुसार उस वक्त व्यक्ति के आंतों में से उस जहरीली गैस को निकालने का प्रयास किया गया, लेकिन ट्रीटमेंट के 18 घंटे बाद ही उसकी मृत्यु हो गई। हालांकि यह अपनी तरह का दुर्लभ मामला है। मगर एक्सपर्ट सुझाव देते हैं कि किसी भी तरह के कार्बोनेटेड ड्रिंक का नियमित सेवन आपको स्वास्थ्य संबंधी गंभीर जोखिम दे सकता है। इसलिए इनसे बचना जरूरी है। 

सॉफ्ट ड्रिंक के हाई शुगर से हो सकता है डाईबिटीज। चित्र: शटरस्टॉक

यहां हैं कोला और अन्य  कार्बोनेटेड ड्रिंक पीने से होने वाली स्वास्थ्य  संबंधी अन्य परेशनियां 

1.  डाइबिटीज का खतरा 

कार्बोनेटेड ड्रिंक्स में भारी मात्रा में शुगर होता है, जिससे टाइप-2 डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। इसमें मौजूद कुछ कैमिकल्स आपको इसके प्रति अडिक्ट बना देते है जिससे आप लगातार इसका सेवन करने लगते है। यह आपके दिमाग में डोपामाईन रिलीज करता है जो आपको अच्छा महसूस करवाता है। 

 2. डैमेज हो सकता है लिवर 

कोल्ड ड्रिंक्स में ग्लूकोज और फ्रुक्टोस बहुत अधिक होते हैं। इन ड्रिंक्स में शुगर ज्यादा होता है, जिससे फ्रुक्टोज को पचाने में लीवर को बहुत काम करना पड़ता है। इससे लीवर में इन्फ्लेमेशन की शिकायत आ सकती है। 

कोल्ड ड्रिंक आपका कैलरी इंटेक बढ़ाकर आपको मोटा करता है। चित्र : शटरस्टॉक

 3. वजन बढ़ाए 

फ्रुक्टोज से आपको कैलोरी मिलती है और कोल्ड ड्रिंक्स में बहुत ज्यादा मात्रा में शुगर होने के कारण यह वजन बढ़ने का कारण बन सकता है। एक स्टडी में पाया गया है कि रोजाना शुगर ड्रिंक्स के सेवन से मोटापे का खतरा 60 फीसदी तक बढ़ जाता है। 

यह एक चौकाने वाली घटना थी। इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि सॉफ्ट ड्रिंक या कोक का सेवन कम करें और अपने परिजनों को भी इसका सेवन करने से रोकें। 

यह भी पढ़ें: World Deaf Day 2021 : एक दिन उनके लिए जिन तक शोर नहीं, सिर्फ स्नेह पहुंचता है

लेखक के बारे में
अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story