और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

प्रति सप्ताह 5 घंटे की शारीरिक गतिविधि कैंसर को रोकने में कर सकती है मदद: अध्ययन

Published on:18 October 2021, 12:23pm IST
अब हर दिन कम से कम 45 मिनट की शारीरिक गतिविधि, आपको कैंसर के जोखिम से बचा सकती है। चलिये जानते हैं क्या कहता है यह अमेरिकी अध्ययन।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 123 Likes
exercise in cancer
5 घंटे की शारीरिक गतिविधि कैंसर को रोकने में कर सकती है मदद। चित्र : शटरस्टॉक

लॉकडाउन के बाद सभी अपने घरों में बंद होकर रह गए हैं, जिससे शारीरिक निष्क्रियता बढ़ रही है। वर्क फ्रोम होम से लेकर, ओटीटी प्लेटफॉर्म और ऑनलाइन शाॅपिंग की बढ़ती लोकप्रियता ने लोगों में शारीरिक निष्क्रियता को बढ़ावा दिया है। ये शारीरिक निष्क्रियता भविष्य में आपके लिए कैंसर जैसी बीमारियों का जोखिम भी बढ़ा सकती है। हाल ही में सामने आए एक अमेरिकी अध्ययन के अनुसार कैंसर और इस जैसी अन्य गंभीर बीमारियों से बचने के लिए यह जरूरी है कि आप सप्ताह में कम से कम पांच घंटे एक्सरसाइज जरूर करें।

शारीरिक निष्क्रियता और स्वास्थ्य जोखिम

दिन भर एक ही कुर्सी पर घंटों बैठे रहने और किसी भी तरह के व्यायाम में शामिल न होना शारीरिक निष्क्रियता को बढ़ाता है। इससे न सिर्फ मोटापा बढ़ता है, बल्कि यही शारीरिक निष्क्रियता आपके कैंसर के जोखिम को भी बढ़ा सकती है। जर्नल ‘मेडिसिन एंड साइंस इन स्पोर्ट्स एंड एक्सरसाइज’ (Medicine and Science in Sports and Exercise) में प्रकाशित, अध्ययन में सामने आया है कि 2013 से 2016 के दौरान कैंसर के सभी मामलों में से तीन प्रतिशत, शारीरिक निष्क्रियता के कारण थे।

यह आंकड़ा अमेरिका का है और कैंसर के मामले 30 साल से अधिक उम्र के वयस्कों में ज़्यादा आम हैं। इसके अलावा यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ज़्यादा अधिक है।

मामलों की अधिकतम संख्या दक्षिण में थी, जैसे, वेस्ट वर्जीनिया, लुइसियाना, टेनेसी और मिसिसिपी। जबकि सबसे कम मामले उत्तरी राज्यों जैसे यूटा, मोंटाना, व्योमिंग, वाशिंगटन और विस्कॉन्सिन में पाए गए थे। .

सभी तरह के कैंसर के लिए जिम्मेदार है शारीरिक निष्क्रियता

डेटा विशिष्ट कैंसर साइटों पर प्रकाश डालता है, जिसमें 16.9 प्रतिशत पेट के कैंसर, 11.9 प्रतिशत एंडोमेट्रियल कैंसर, 11.0 प्रतिशत गुर्दे के कैंसर, 9.3 प्रतिशत कोलन कैंसर, 8.1 प्रतिशत अन्नप्रणाली के कैंसर, 6.5 प्रतिशत महिला स्तन कैंसर शामिल हैं। इसमें मूत्राशय के कैंसर के 3.9 प्रतिशत।

cancer ke liye zimmedar hai shareerik nishkreeyta
कैंसर के लिए जिम्मेदार है शारीरिक निष्क्रियता. चित्र : शटर स्टॉक

शारीरिक निष्क्रियता के कारण कैंसर के मामलों का अनुपात यूटा में 2.3 प्रतिशत से लेकर केंटकी में 3.7 प्रतिशत तक था।

क्या हो सकता है कैंसर से बचने का उपाय

यह अध्ययन कैंसर के जोखिम के साथ-साथ इसका उपाय भी सुझाता है। अर्थात प्रति सप्ताह पांच घंटे मध्यम-तीव्रता की शारीरिक गतिविधि आपके कैंसर के जोखिम को कम कर सकती है। अगर सभी इसका पालन करें और शारीरिक स्वास्थ्य के बारे में जागरूक बनें तो, तो संयुक्त राज्य अमेरिका में सालाना 46,000 से अधिक कैंसर के मामलों को रोका जा सकता है।

अध्ययन के लेखक का कहना है कि “ये निष्कर्ष कैंसर की रोकथाम में कारगर साबित हो सकते हैं। यह शारीरिक गतिविधि को प्रोत्साहित करने और स्वास्थ्य के बारे में व्यक्ति विशेष को जागरूक करनें में मदद करेंगे।

और भी हैं चुनौतियां

यह डेटा शारीरिक गतिविधि के महत्व पर प्रकाश डालता है। साथ ही, इस बारे में बात करता है कि शारीरिक तौर पर सक्रिय रहने में भी कई बाधाएं हैं। जैसे लंबे काम के घंटे, कम वेतन के कारण जिम न जा पाना आदि। एक सुरक्षित वातावरण की कमी भी शारीरिक गतिविधि की कमी में योगदान करती है।

इसलिए लेडीज अपने स्वास्थ्य के लिए उन गतिविधियों में शामिल हों, जो कम खर्च में आपको सक्रिय रखने में मदद करती हैं। सीढ़ियां चढ़ना, साइकलिंग और रस्सी कूदना आपके व्यायाम का सस्ता और सुलभ हिस्सा हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें : यौन एवं संक्रामक रोगों के कलंक को दूर करने में ली जा सकती है युवाओं की मदद

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।