ऐप में पढ़ें

इस शोध के अनुसार आप रोकर भी कम कर सकती हैं वजन, जानिए कब रोना है

Published on:28 September 2021, 19:00pm IST
वजन घटाने के लिए बहुत सारे व्यायाम, डाइट और दवा मार्केट में उपलब्ध हैं। लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि रोने से आपका वेट कम हो सकता है? जी हां, जानिए इस चमत्कार के बारे में!
Breakup mental health ko affect karta hai
ब्रेकअप आपके मानसिक स्वास्थ्य पर असर करता है। चित्र: शटरस्टॉक

वजन घटाने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते है, लेकिन अब ऐसा लगता है कि केवल रोने से आपकी इस समस्या का हाल हो सकता है। हाल ही में हुए एक शोध में यह पाया गया है कि रोने से वजन कम करने में मदद मिलती है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप हर वक्त केवल रोते रहें। यह आपके भावनात्मक पहलू से जुड़ा हुआ है। रोना एक भावनात्मक क्रिया है। जैसे आप उदास, हंसते हुए , फिल्म देखते समय, किताब पढ़ते हुए रो सकते है। यह प्राकृतिक होता है और आपके वजन घटाने में मदद कर सकता है। पर ध्यान रहे मगरमच्छ के आंसू या जबरदस्ती रोना आपकी मदद नहीं करेंगे। 

तनाव में हैं तो अच्छा है आपके लिए रोना 

द मिस्ट्री ऑफ टीयर्स नाम से प्रकाशित स्टडी में शोधकर्ता विलियम फ्रे ने आंसूओं से घटते वजन का संबंध निकाला है। शोध में वे यह जानने की कोशिश कर रहे थे कि आंसू इंसान के स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करते हैं। 

Rone se aapka tanaav ho sakta hai kam
रोने से आपका तनाव हो सकता है कम। चित्र: शटरस्‍टॉक

भावनात्मक आंसू या ईमोशनल क्राईंग शरीर के हॉर्मोन से जुड़ा होता है। यह हॉर्मोन आपके स्ट्रेस से भी जुड़ा है। जी हां, हम बात कर रहे है कॉर्टिसोल की। जब आप रोते हैं, तो शरीर में कॉर्टिसोल का स्तर कम हो जाता है जो आपके वजन को नियंत्रण में रखने में मदद करता है। स्ट्रेस की वजह से आने वाले आंसू शरीर से कई विषैले तत्वों को बाहर निकालते हैं, जिससे आप रिलैक्स होते हैं। 

अगर आप लंबे समय से स्ट्रेस या परेशानी को अपने अंदर दबाकर रखे हुए हैं, तो आपके शरीर में कॉर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है। यह आपके एक्स्ट्रा फैट के लिए जिम्मेदार होता है। लेकिन जैसे आप बर्स्ट आउट होते हैं और रोने लगते हैं, यह आपको आराम देता है और कॉर्टिसोल के स्तर को भी कम कर देता है। 

तो क्या है वेट लॉस के लिए रोने का सही समय ? 

शोध दके अनुसार यदि आप किसी दुख या स्ट्रेस के कारण शाम 7 से 10 के बीच में रोते है, तो यह आपके वेट लॉस में मदद करेगा। इस समय यदि किसी भावनात्मक कारण से आपके आंसू निकलते हैं, तो यह आपके लिए फायदेमंद है। 

Rat 7 se 10 ke beech rona hai faydemand
रात 7 से 10 के बीच रोना है फायदेमंद। चित्र: शटरस्टॉक

वजन घटाना है तो रोने का तरीका भी सीख लें 

रोना वजन घटाने में कारगर है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं होता कि आप हमेशा रोयें। रात 7 से 10 के बीच भावुक होना आपके वजन को कम कर सकता है। इसके अलावा यदि किसी कारण से आप बहुत इमोशनल होकर रोती हैं, तो यह वेट लॉस में काम कर सकता है। बिना ठोस कारण के रोना आपको कोई फायदा नहीं दे सकता है। यह आपको नकारात्मक बना सकता है। 

तो लेडीज, वेट लॉस के लिए अपने डाइट और व्यायाम के साथ भावनात्मक पहलू को भी सक्रिय रखें। मगर बात-बात पर न रोएं, ये वजन घटाने की बजाए आपको सिर दर्द ही देगा।  

यह भी पढ़ें: अपने कंधो को मजबूत बनाने के लिए फिटनेस रुटीन में शामिल करें ये 3 योगासन

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !