वॉल हैंडस्टैंड चैलेंज ट्राई कर रहीं हैं, तो पहले इसके जोखिम भी जान लें

Published on: 8 July 2022, 08:00 am IST

सोशल मीडिया पर फूड से लेकर फिटनेस तक हर चीज़ ट्रेंड होती है। मगर ज़रूरी नहीं है कि हर ट्रेंड आपके लिए अच्छा हो।

wall handstand challenge
क्या आपने अभी तक वॉल हैंडस्टैंड चैलेंज की कोशिश की है? चित्र : शटरस्टॉक

सोशल मीडिया पर आए दिन कुछ न कुछ ट्रेंड करता रहता है कभी कोई नया फूड कॉम्बिनेशन (Food Combination) तो कभी कोई फ़िटनेस ट्रेंड। कभी ये ट्रेंड लोगों को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक बना देते हैं, तो कभी इन्हें ट्राई करना भी आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इतना ही नहीं, कई बार ये इतने ज़्यादा चुनौतीपूर्ण होते हैं कि इन्हें गलत तरीके से अटेंप्ट करना ही आपको भारी पड़ सकता है। इन दिनों ऐसा ही एक फिटनेस ट्रेंड काफी ज़्यादा इंस्टाग्राम पर ट्रेंड कर रहा है, जिसमें लोग दीवार के सहारे हैंडस्टैंड करते हुये नज़र आ रहे हैं। यह देखने में काफी चुनौती भरा लगता है, क्योंकि इसे करने का तरीका काफी अलग है। यह नॉर्मल हैंडस्टैंड से थोड़ा अलग है। इसलिए इसे ‘The Wall Handstand’ का नाम दिया जा रहा है। और इस चैलेंज को द वॉल हैंडस्टैंड चैलेंज (#thewallhandstandchallenge) कहा जा रहा है।

आप भी देखें कि कैसे किया जा रहा है ये वॉल हैंडस्टैंड –

सौजन्य : निधि मोहन कमल – फिटनेस इंफ्लुएंसर

हालांकि फायदेमंद है हैंडस्टैंड, हम बताते हैं कैसे

1 बॉडी पर कंट्रोल बढ़ता है

हैंडस्टैंड करते समय बहुत सारी मांसपेशियां शामिल होती हैं। इसलिए जब आप इसे करना सीख जाएंगी, तो यह आपके पॉस्चर और बॉडी कंट्रोल के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। क्योंकि आपके पूरे शरीर का बोझ आपके हाथों पर होता है।

2 कोर और बॉडी स्टेबलाइजर्स को मजबूत करता है

आपका कोर आपको इस स्थिति में लाने और इसे होल्ड करने के लिए काफी मेहनत करता है। इस स्थिति में आपके पूरे शरीर का भार आपके कोर पर ही होता है। इसलिए यदि आप हैंड स्टैंड करती हैं, तो आपका कोर मजबूत होता है।

3 बैलेन्स बनाने में है मददगार

हैंडस्टैंड करते समय बहुत सारी मांसपेशियां शामिल होती हैं। हैंडस्टैंड को होल्ड करने में काफी बैलेन्स की ज़रूरत होती है। हैंडस्टैंड का अभ्यास करना या दीवार से सट कर हैंडस्टैंड करना और अपने पैरों को दीवार से जितना हो सके दूर ले जाने की कोशिश करना आपकी संतुलन क्षमताओं को बढ़ाने में मदद करेगा।

4 ऊपरी शरीर को मजबूती देता है

हैंडस्टैंड में हाथों का बहुत ज़्यादा इस्तेमाल होता है, इसलिए यदि आप इसे सही तरह से करना सीख जाती हैं, तो यह आपकी अपर बॉडी को मजबूती दे सकता है। इतना ही नहीं, यह आपकी मांसपेशियों में भी ताकत बढ़ा सकता है।

यकीनन हैंडस्टैंड करना आपके स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है, लेकिन इसे गलत तरह से अटेम्प्ट करना आपको भारी पड़ सकता है-

हमारी सलाह है कि इस चैलेंज को करने से पहले थोड़ा शरीर का भी ख्याल कर लें। यदि आप फिजिकली उतनी एक्टिव नहीं हैं, तो आपको ये चैलेंज आजमाने से पहले दो बार सोचना चाहिए। क्योंकि जितना आसान यह दिख रहा है उतना है नहीं।

खाना खाने के बाद, स्पाइन में या लोअर बैक में दर्द होने की स्थिति में इसे करना आपके लिए परेशानियां बढ़ा सकता है। अगर आपकी उम्र 35 के पार है और आप पहले से एक्टिव नहीं हैं, तो ये आपके हाथों पर भी दबाव बढ़ा सकता है।

इसे करने के लिए पहले से आपकी बॉडी में अच्छी स्ट्रेंथ होनी चाहिए। साथ ही आपको पहले से हैंडस्टैंड करना आना चाहिए और हो सके तो इस चैलेंज को करते समय किसी प्रोफेशनल की मदद लें।

यह भी पढ़ें : जिम जाने की जरूरत नहीं, ये 5 योगासन कर सकते हैं बैली फैट कम 

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें