बच्चों की हाइट को लेकर चिंतित है? तो उन्हे कराएं ये प्रभावी ग्रोथ योगासन

बढ़ती उम्र में बच्चों को सही पोषण के साथ उचित शारीरिक गतिविधि की भी जरूरत होती है। उनके समग्र स्वास्थ्य और हाइट के लिए हम बता रहें हैं कुछ विशेष योगासन।
बच्चों की लंबाई बढ़ाने के लिए योगासन कराएं। चित्र:शटरस्टॉक
अदिति तिवारी Published on: 7 December 2021, 09:30 am IST
ऐप खोलें

यदि आप अपने बच्चे की लंबाई बढ़ाने के तरीको की तलाश कर रहे हैं ताकि वह कुछ और इंच ऊपर उठ सकें, तो योग इसका समाधान है। योग से हाइट के अलावा आपके बच्चे के मन और शरीर का भी कल्याण होता है। उनके चंचल मन में स्थिरता पैदा होगी, साथ ही उनका शरीर लचीला बनेगा। योग में ऐसे व्यायाम हैं, जिनमें बहुत अधिक खिंचाव और संतुलन होता है। ये आपके बच्चे की लंबाई बढ़ाने में बहुत फायदेमंद हो सकते हैं। चाहे वह सूर्य नमस्कार हो, चक्रासन या व्हील पोज़, और वृक्षासन या ट्री पोज़। लाभ देखने के लिए अपने बच्चे को इन कुछ योग आसनों का नियमित रूप से अभ्यास करवाएं। 

बच्चों की हाइट बढ़ाने में कैसे लाभदायक है योग? 

योग गुरु और ग्रैंड मास्टर अक्षर का मानना है, “योग आपके ग्रोथ हार्मोन को बढ़ाने के लिए जाना जाता है, और अगर वयस्कों के मामले में ऐसा हो सकता है, तो बच्चों को स्वाभाविक रूप से लाभ होता है। योग इन हार्मोन की मदद से एक या दो इंच अतिरिक्त हाइट हासिल करने में मदद करता है। कुछ विशिष्ट योग अभ्यास निश्चित रूप से इन हार्मोनों को सक्रिय कर सकते हैं।” 

आसन बच्चों में ऊंचाई बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। यह  शरीर को पूरी तरह से आराम करने में मदद करता है जो एक और महत्वपूर्ण कारक है। यह ग्रोथ हार्मोन को उत्तेजित करता है। जब शरीर पूरी तरह से आराम करता है, तो हार्मोन बढ़ाया जाता है। इसलिए योग को अवश्य रूप से अपने बच्चे की दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।

बच्चों की हाइट बढ़ाने में मदद करेंगे ये योगासन। चित्र : शटरस्टॉक

ये आसन आपके बच्चों की हाइट को बढ़ाने में हो सकते हैं मददगार 

1. ताड़ासन (Mountain Pose)

यह सरल योग मुद्रा है और आप अपने बच्चे को इसे आसानी से करना सिखा सकते हैं। ताड़ासन रीढ़ को लंबा करने और हाइट बढ़ाने का एक आदर्श तरीका है।

  • पैरों को एक साथ और बड़े पैर की उंगलियों को छूते हुए सीधे खड़े हो जाएं। 
  • अब, धीरे-धीरे उठाएं और अपने पैर की उंगलियों और अपने पैरों की गेंदों को फैलाएं ताकि आपका वजन दोनों पैरों पर समान रूप से संतुलित हो।
  • इसके बाद, अपने पेट को सख्त किए बिना, अपनी जांघों को फ्लेक्स करें और अपने घुटने के कैप को उठाएं।  
  • फिर धीरे-धीरे अपनी बाहों को अपने सिर के ऊपर उठाएं।
  • साथ ही, अपने पूरे शरीर को ऊपर उठाएं। 
  • अपने आप को अपने पैर की उंगलियों की टिप्स तक उठाएं। 
  • कंधे के ब्लेड को वापस दबाएं ताकि आपको अपना पेट कसने की जरूरत न पड़े।
  • अपने पूरे शरीर में खिंचाव महसूस करें और एक मिनट या कम से कम 40 सेकंड के लिए उस खिंची हुई स्थिति में रहें।

2. वृक्षासन (Tree Pose)

यह मुद्रा आपके बच्चे के संतुलन के साथ-साथ उनके शरीर की जागरूकता को बेहतर बनाने में मदद कर सकती है। इसके शारीरिक लाभों के अलावा, यह मुद्रा मन को शांत करता है। बच्चों के चंचल मन को एकाग्र करता है वृक्षासन। 

  • इसके लिए ताड़ासन में खड़े हो जाएं। 
  • पैर की उंगलियों को फैलाएं और पैर की मांसपेशियों को मजबूत करें। 
  • अपने निचले पेट को धीरे से उठाने के लिए अपने सामने के कूल्हे को अपनी थाइ की ओर उठाएं।
  • गहरी सांस लें और अपनी छाती को चौड़ी करें।  
  • सांस छोड़ते हुए अपने कंधे के ब्लेड को अपनी पीठ के नीचे ले जाएं। 
  • एक स्थिर जगह पर सीधे आगे देखें।
  • हाथों को अपने कूल्हों पर रखें और अपने दाहिने पैर को अपनी बाईं जांघ पर ऊपर उठाएं। 
  • घुटने से संपर्क बनाने से बचें।
  • अपने दाहिने पैर और बाएं पैर को एक-दूसरे में दबाएं।
  • जब आप स्थिर महसूस करें, तो अपने हाथों को हृदय के पास नमस्ते मुद्रा में रखें या उन्हें सिर के ऊपर लेकर नमस्कार करें। 
  • कई सांसों के लिए रुकें, फिर माउंटेन पोज़ में वापस आ जाएं और दूसरी तरफ दोहराएं।
बच्चों की हाइट बढ़ाने के लिए योगासन कराएं। चित्र:शटरस्टॉक

3. धनुरासन (Bow Pose)

धनुष मुद्रा आपके बच्चे की हाइट को बढ़ाने के साथ उनकी ऊर्जा को बढ़ावा दे सकती है और थकान से लड़ सकती है। यह लंबे समय तक बैठने का संयम भी प्रदान करती है।  अगर भारी बैग उठाने की वजह से आपके बच्चें के पीठ में दर्द होता है, तो यह दर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। धनुरासन पीठ की मांसपेशियों, जांघों के पिछले हिस्से और ग्लूट्स को मजबूत करता है।

  • चटाई पर पेट के बल लेटें। 
  • अपने सभी पैर की उंगलियों को फर्श में दबाएं और फिर अपने घुटनों को मोड़ें। 
  • पैर की उंगलियों को सक्रिय रखें।
  • अपनी टखनों के बाहरी किनारों को अपने हाथों से पकड़ें और अपने पैरों को मजबूती से मोड़ें।
  • एक श्वास लेते हुए, अपने पसली और कंधों को अपने कानों की ओर उठाएं। 
  • सांस छोड़ने पर, अपनी टेलबोन को लंबा करें और अपने पैरों को अपने हाथों में वापस किक करें। 
  • यहां से अपना सिर और छाती उठाएं। 
  • एक ही जगह पर ध्यान लगाकर देखते रहें। 
  • 5 सांसों के लिए उठे रहें और धीरे से नॉर्मल पज़िशन में वापस आयें। 

बच्चों की हाइट बढ़ाने के लिए अन्य टिप्स

आप में से अधिकांश जानते हैं कि व्यायाम बच्चों में वृद्धि को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। लेकिन लोग इस बात से अनजान हैं कि पर्याप्त नींद की दिनचर्या और सही आहार जैसे कारक भी महत्वपूर्ण हैं। 

  • आपके बच्चे को स्वाभाविक रूप से लंबा होने में मदद करने के कुछ अन्य सरल तरीकों के बारे में हम बता रहें हैं। 
सही पोषण भी है जरूरी। चित्र : शटरस्टॉक
  • सुनिश्चित करें कि आपके बच्चे को पर्याप्त नींद मिले यानी कम से कम आठ घंटे।
  • शरीर के इष्टतम तरीके से बढ़ने के लिए आपके बच्चे में प्रोटीन, विटामिन और कैल्शियम उचित मात्रा में होना चाहिए।
  • अपने बच्चे की मुद्रा की जांच करें। सुनिश्चित करें कि वे अपनी पीठ को झुकाकर नहीं बैठते हैं। रीढ़ की हड्डी हमेशा सीधी और खिंची हुई रहनी चाहिए।
  • उन्हे स्विमिंग, बास्केटबॉल, योग जैसी कक्षाओं में जरूर भेजें।

यह भी पढ़ें: आपकी वेट लॉस यात्रा को थोड़ा और आसान बना सकती है मटर, हम बता रहे हैं कैसे

लेखक के बारे में
अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story