लंबी फास्टिंग के बाद क्यों बढ़ जाता है अकसर वज़न, आयुर्वेद एक्सपर्ट से जानिए इसका कारण

Published on: 30 April 2022, 12:00 pm IST

दुनिया भर में बहुत से लोग इफ्तार के लिए तला हुआ और नॉनवेजिटेरियन खाना तैयार करते हैं और इससे वजन बढ़ता है।

long fasting me aap kuchh mistakes kar jati hain
लंबी फास्टिंग के दौरान आप कुछ गलतियां कर जाती हैं। चित्र: शटरस्टॉक

रमजान के पूरे महीने में रोज़ा यानी व्रत रखा जाता है। इस पाक इस्लामी महीने में शुरू से अंत तक किए जाने वाले उपवास के कारण यह माना जाता है कि इसका अंत होते होते आपका वजन बहुत कम हो जाएगा। हर दिन सूर्योदय से सूर्यास्त तक कुछ भी न खाना, वह भी लगातार 30 दिनों तक, वजन घटाने के लिए एक अचूक नुस्खे की तरह लगता है। पर क्या ये वाकई सच है? कहीं लंबी फास्टिंग के बावजूद आपका वज़न बढ़ने तो नहीं लगा? अगर इन सवालों का जवाब हां हैं, तो आपको बता दें कि आप ऐसा महसूस करने वाली अकेली नहीं हैं। ऐसे बहुत सारे लोग हैं, जिनका वजन लंबी फास्टिंग (Fasting to lose weight) के बावजूद बढ़ जाता है। पर क्यों होता है ऐसा? आइए समझने की कोशिश करते हैं, उन फास्टिंग मिस्टेक्स (Fasting mistakes) को जो आपका वजन बढ़ा देती हैं।

दावतें बढ़ाती हैं वज़न 

दुनिया भर से लाखों मुसलमान इस सप्ताह के अंत में ईद-उल-फितर (eid-al-fitr 2022) मनाने के लिए तैयार होंगे। पर अगर आप अपनी ईद के लिए रखी गई ड्रेस में फिट न आएं, तो चौंकिए मत, क्योंकि लंबी फास्टिंग के बाद बहुत सारे लोगों का वजन बढ़ जाता है। इसकी सबसे बड़ी वजह हैं आपके लज़ीज़ व्यंजन।

इफ्तार और सहरी के लिए आमतौर पर बड़ी दावत तैयार की जाती है। हर रात उपवास को तोड़ने और शुरू करने के लिए तरह-तरह के पकवान बनाए जाते हैं। इन दावतों में अक्सर तली हुई चीज़ें जैसे स्प्रिंग रोल और समोसे होते हैं, जो वजन बढ़ाते हैं। किसी भी प्रकार की तली हुई वस्तु में बहुत सारे कार्ब्स होते हैं। जो वज़न बढ़ाने में योगदान करते हैं।

iftar me heavy food weight gain ka karan banta hai
इफ्तार में भारी भोजन वजन बढ़ने का कारण बनता है। चित्र:शटरस्टॉक

तो अगर आपका वज़न बढ़ गया है, तो इसे कंट्रोल करने के लिए आपको हर रोज़ ध्यान देना होगा। इसके लिए हमने इनक्रेडिबल आयुर्वेद भोपाल की आयुर्वेदिक फिजिशियन डॉक्टर नाजिया खान से बात की। वे रमज़ान या लंबी फास्टिंग के बाद बढ़े हुए वज़न को कंट्रोल करने के लिए कुछ उपाय सुझा रहीं हैं। आइए जानते हैं उनके बारे में-

इस तरह कंट्रोल करें अपना बढ़ा हुआ वज़न 

1 पानी पिएं

पानी आपको पूरे दिन हाइड्रेटेड रहने में मदद कर सकता है। इसलिए गैर-उपवास के घंटों में पानी पीना फिट रहने का सबसे अच्छा तरीका है। यह आगे शरीर के इलेक्ट्रोलाइट संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है। जिससे दिन भर के उपवास के कारण शरीर में एसिड का प्रवाह कम हो जाता है।

2 डाइट व्यवस्थित करें

दिन भर के उपवास के बाद, इफ्तार दिन का वह समय होता है, जिसका सबसे ज़्यादा इंतज़ार किया जाता है, जिसमें पूरा परिवार एक साथ अपना उपवास तोड़ता है। इसलिए, इफ्तार के लिए तैयार भोजन आमतौर पर काफी गरिष्ठ होता है और पूरे दिन के उपवास के लिए कैलोरी से भरा होता है।

इसलिए, भले ही आपने खूब सारा भोजन तैयार किया है, इफ्तार की शुरुआत फलों, सलाद या सूप से करें। इससे आपकी भूख शांत होगी और आप कम गरिष्ठ भोजन खाएंगी, जिससे पेट पर चर्बी नहीं जमेगी।

3 खाने का पोर्शन साइज चेक करें

स्वादिष्ट खाना देख किसका मन नहीं ललचाता, ऐसे में अपने मन पर कंट्रोल करें। अधिक वजन से बचने के लिए ढेर सारा खाने से बचें! इसे वजन कंट्रोल में रखने की कुंजी के तौर पर देखें। दिन भर के उपवास के बाद इसे मैनेज करना काफी मुश्किल हो जाता है। इसलिए, छोटे पोर्शन साइज में खाएं। इस तरह आप हर व्यंजन का स्वाद ले सकते हैं, लेकिन कम मात्रा में, जिससे वजन नहीं बढ़ता है।

4 पैकेज्ड जूस को कहें ना

बहुत से लोग अपनी प्यास बुझाने के लिए पैकेज्ड और स्वीटेंड पेय यानी बेवरेजेस लेते हैं, क्योंकि इससे प्यास तुरंत मिट जाती है, खासकर अगर आप कहीं जा रहे हों। खैर, ये ड्रिंक्स आपका वजन बढ़ाते हैं। सिर्फ एक गिलास पेय में चीनी की मात्रा इतनी ज़्यादा होती है कि एक्सरसाइज या उपवास से घटाई गई पूरे दिन का कैलोरी लॉस कवर हो जाता है और आपका वजन फिर से जस का तस हो जाता है।

इसलिए, अगर जूस ही पीना है, तो फलों से ताजा निकाला हुआ जूस पिएं। क्योंकि इसमें सही मात्रा में न्यूट्रीएंट्स, चीनी और फाइबर होता है जो शरीर के डाइजेस्टिव सिस्टम में सुधार करने में मदद करता है।

5 अपना भोजन बुद्धिमानी से चुनें

यह प्रमुख कारणों में से एक है कि रमजान के पवित्र महीने के दौरान वजन घटने की बजाय बढ़ जाता है। उपवास के दौरान अपने स्वास्थ्य के साथ वेट मैनेज करने का सबसे अच्छा तरीका कम फैट वाले डेयरी उत्पाद, लीन मीट, ताजी सब्जियां और मोटे अनाज के आटे जैसे हेल्दी खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

Weight loss karna hai toh apna bhojan mindfully chune
वेट लॉस करना है तो अपना भोजन बुद्धिमानी से चुनें। चित्र: शटरस्टॉक्स

6 अपनाएं खाना पकाने का हेल्दी तरीका

भोजन में कैलोरी की मात्रा को कम करने का एक अन्य महत्वपूर्ण तरीका खाना पकाने का हेल्दी तरीका चुनना है। दुनिया भर में बहुत से लोग इफ्तार के लिए तला हुआ और नॉनवेजिटेरियन खाना तैयार करते हैं और इससे वजन बढ़ता है। इस प्रकार, खाना पकाने के अन्य तरीके जैसे भूनना, ग्रिल करना या पकाना आपके द्वारा खाए जाने वाले भोजन की कैलोरी की संख्या को कम करने में मदद कर सकता है।

7 नियमित रूप से व्यायाम करें

बिना कुछ खाए-पिए उपवास करना आपको कमजोर बना सकता है। हल्के-फुल्के व्यायाम करने से आपको रमजान के महीने के दौरान फिट रहने में मदद मिल सकती है। अपना वेट मैनेज करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप शाम के भोजन के बाद सैर करें, इससे डाइजेशन में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें – डायबिटीज के बावजूद एक्सपर्ट के सुझाए इन 3 तरीकों से आप भी खा सकती हैं अपनी मन पसंद मिठाइयां

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें