वैलनेस
स्टोर

यह उल्टा होने का समय है, क्योंकि इन्वर्जन योगा आपके लिए फायदेमंद है

Published on:30 May 2021, 09:00am IST
इन्वर्जन योगासन आपको पूरे शरीर की कसरत करने के साथ ही आपको कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 84 Likes
इन्वर्जन योगा आपके लिए फायदेमंद है. चित्र : शटरस्टॉक
इन्वर्जन योगा आपके लिए फायदेमंद है. चित्र : शटरस्टॉक

यह प्राचीन अभ्यास का एक रूप है, जिसमें ऐसे आसन शामिल हैं जिनमें आपका दिल और कूल्हे आपके सिर के ऊपर होते हैं। हालांकि योग के इस रूप का पालन करना मुश्किल लग सकता है, आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी अन्य व्यायाम की तरह ही कठिनाई का स्तर धीरे-धीरे बढ़ता है।

जानिये इन्वर्जन योग के फायदे

बॉडीवेट इन्‍वर्जन योग (inversion yoga) आपको कई तरह के लाभ प्रदान करता है। ये पोज़ लोकप्रियता हासिल कर रहे हैं, क्योंकि ये चुनौतीपूर्ण हैं और लचीलेपन, संतुलन और मांसपेशियों की ताकत विकसित करने में मदद करते हैं। इन्वर्जन योगा का नियमित अभ्यास न केवल आपके शरीर को टोन करता है, बल्कि यह आपकी संपूर्ण कसरत उत्पादकता और मुद्रा में भी सुधार कर सकता है।

जब योग के इस रूप को आजमाने की बात आती है तो आपको आत्मविश्वास हासिल करने में मदद करने के लिए, हम 5 लाभ प्रस्तुत करते हैं जो आपको इन्वर्जन योगा करने के लिए प्रेरित करेंगे:

1. इन्वर्जन योगा रक्त परिसंचरण और ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाता है

इन्वर्जन योगा मुद्रा रक्त परिसंचरण और लसीका जल निकासी में सुधार करती है जो पूरे शरीर में ऑक्सीजन और पोषक तत्व पहुंचाने में मदद करती है, और अपशिष्ट उत्पादों को हटाती है। इसके अलावा, ये मुद्राएं श्रोणि से हृदय की ओर शिरापरक रक्त प्रवाह को उत्तेजित करती हैं जो आपके हृदय गति को कम करने और रक्त ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाने में मदद करती है।

बॉडीवेट इन्‍वर्जन योग (inversion yoga) आपको कई तरह के लाभ प्रदान करता है। चित्र : शटरस्टॉक
बॉडीवेट इन्‍वर्जन योग (inversion yoga) आपको कई तरह के लाभ प्रदान करता है। चित्र : शटरस्टॉक

2. यह पेशीय शक्ति को बढ़ाता है और मुद्रा को ठीक करता है

इन्वर्जन योग विशिष्ट मांसपेशी समूहों को लक्षित करता है, समग्र अंग चपलता, गति और ताकत की सीमा को बढ़ावा देता है। इसके अतिरिक्त, ‘डाउनवर्ड फेसिंग डॉग’ जैसे पोज़ पीठ की मांसपेशियों के लिए फायदेमंद होते हैं जो सही मुद्रा में मदद करते हैं।

3. यह लचीलेपन और संतुलन में सुधार करता है

यह आसन के लिए आपको मन-शरीर की जागरूकता विकसित करने और गुरुत्वाकर्षण बल के खिलाफ अपने शरीर को खींची हुई स्थिति में रखने की आवश्यकता होती है। जैसे-जैसे आप इस योग के अभ्यास में आगे बढ़ते हैं, यह आवश्यकता सहनशक्ति, संतुलन और लचीलेपन को बढ़ाती है।

4. यह ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है और फोकस करता है

इस मुद्रा को करने के बाद समग्र एकाग्रता और ध्यान बढ़ता है क्योंकि यह तंत्रिका तंत्र को आराम देने में मदद करता है। इन्वर्जन पोज़ कोशिकाओं में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों को बढ़ाने में मदद करता है और एंडोर्फिन, जैसे डोपामाइन, नॉरपेनेफ्रिन और सेरोटोनिन जारी करता है। ये एंडोर्फिन फोकस में सुधार करते हैं, ऊर्जा के स्तर को बढ़ाते हैं और मूड को बढ़ाते हैं।

5. इन्वर्जन योग अंगों की सूजन और दर्द को कम करता है

इन्वर्जन योगासन परिसंचरण को बढ़ावा देकर निचले अंगों में दर्द और सूजन को कम कर सकता है। परिसंचरण का यह रूप शरीर से बेकार उपोत्पादों को हटाने और द्रव संतुलन बनाए रखने में मदद करता है। दर्द को प्रबंधित करने के लिए, आसनों की कोमल गति के साथ गुरुत्वाकर्षण बल लसीका प्रवाह और रक्त परिसंचरण को अंगों से दूर और हृदय की ओर निर्देशित करता है, जिससे अंगों में दर्द कम होता है।

किसी भी तरह की चोट से बचने के लिए फिटनेस विशेषज्ञ की देखरेख में उनका प्रदर्शन करना सबसे अच्छा है।

तो, योग का अभ्यास करें! इसके अलावा, मस्तिष्क की चोटों, रीढ़ की बीमारियों और उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों को इस मुद्रा का प्रयास नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे उनकी समस्या और बढ़ सकती है।

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।