सावधान! ये 5 आदतें बना रहीं हैं आपकी हड्डियों को दिन-ब-दिन कमजोर

Updated on: 7 July 2022, 12:53 pm IST

30 के बाद आपकी हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। पर इसकी वजह सिर्फ कैल्शियम की कमी नहीं आपकी कुछ आदतें भी हो सकती हैं।

low bone density se bachav
बोन डेंसिटी कम हो जाती है, तो ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या हो सकती है।चित्र : शटरस्टॉक

क्या आप भी इन दिनों अपनी फ़िटनेस पर उतना ध्यान नहीं दी पा रही हैं? क्योंकि एक्सरसाइज़ करते समय जल्दी थकान महसूस होने लगती है। सीढ़ियां चढ़नें में भी होने लगी है दिक्कत तो यह लक्षण अच्छे नहीं हैं। यह संकेत देते हैं कि आपकी हड्डियां कमजोर हो रही हैं और इसकी वजह आपकी खराब आदतें हो सकती हैं।

जब हमारे स्वास्थ्य की बात आती है, तो हम अक्सर अपनी हड्डियों पर कम ध्यान देते हैं। हम सोचते हैं कि हड्डियों से संबंधित समस्याएं बुढ़ापे के साथ ही आती हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। कई छोटी-छोटी चीजें हैं जो हम हर दिन करते हैं, जिसकी वजह से हमारी हड्डियां कमजोर होने लगती हैं और हमें पता भी नहीं चलता है। इस वजह से हमें कम उम्र में ही हड्डियों से संबन्धित समस्याओं से ग्रस्त हो जाते हैं जैसे गठिया या ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis)। यकीनन इसका असर अभी महसूस नहीं हो रहा है, लेकिन इसके दुष्परिणाम हमें बाद में भुगतने पड़ेंगे।

ऑस्टियोपोरोसिस एक ऐसी स्थिति है जो हड्डियों को कमजोर कर देती है और उन्हें नाजुक बना देती है, जिससे उन्हें चोट लगने का खतरा होता है। यह समस्या धीरे-धीरे विकसित होती है और जब हमें इसका पता चलता है तो बहुत देर हो चुकी होती है। इसलिए सबसे अच्छा यही है कि हम समय रहते अपनी उन आदतों को सुधार लें, जिसकी वजह से हमारी हड्डियां कमजोर (Weakness in Bones) हो सकती हैं।

जानिए कुछ ऐसी सामान्य आदतों के बारे में हड्डियों की कमजोरी का कारण बनती हैं

ज़्यादा प्रोटीन खाना

बहुत से लोग प्रोटीन की कमी को लेकर चिंतित रहते हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि हममें से ज्यादातर लोगों को पर्याप्त प्रोटीन मिलता है। जहां पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन का सेवन फायदेमंद होता है, वहीं अत्यधिक सेवन आपके शरीर पर कहर बरपा सकता है। जब आप बहुत अधिक प्रोटीन खाते हैं, तो आपका शरीर अधिक कैल्शियम (Calcium) बनाता है, और आपकी हड्डियों को यह आवश्यक खनिज पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल पाता है।

धूप न लेना

यह तो सभी जानते हैं कि सूरज की रोशनी हमारी हड्डियों के लिए जरूरी है क्योंकि यह आपको विटामिन डी को बढ़ावा देती है। विटामिन डी (Vitamin D) हमारी हड्डियों की रक्षा करता है और हमारे शरीर को कैल्शियम को अवशोषित करने में मदद करता है। अमेरिकन नेशनल ऑस्टियोपोरोसिस फाउंडेशन के अनुसार, 50 वर्ष से कम उम्र के वयस्कों को प्रतिदिन 400 से 800 IU विटामिन डी की आवश्यकता होती है और 50 से ऊपर के लोगों को 800 से 1,000 IU की आवश्यकता होती है। अगर आपको सूरज की रोशनी से पर्याप्त विटामिन डी नहीं मिल रहा है, तो अपने डॉक्टर से कुछ सप्लीमेंट्स देने के लिए कहें।

vitamin D
महत्वपूर्ण है विटामिन डी। चित्र:शटरस्टॉक

गतिहीन जीवनशैली

जितना अधिक आप अपनी हड्डी को हिलाएंगे, वे उतनी ही मजबूत होंगी। मेयो क्लीनिक के अनुसार व्यायाम करने से न केवल आपकी मांसपेशियां मजबूत होती हैं, बल्कि यह हड्डियों को भी मजबूत बनाती है। अगर आप मजबूत हड्डियों का निर्माण करना चाहते हैं तो दिन भर सोफे पर लेटने के बजाय अपने पैरों को हिलाएं। दौड़ें, कूदें, चलें या नाचें कुछ भी करें बस आलस्य को दूर भगाएं।

ज़्यादा शराब और सोडा पीना

क्या आप शराब और सोडा का सेवन करना पसंद करती हैं? अगर हां, तो इससे आपकी हड्डियां कमजोर हो सकती हैं। बहुत अधिक शराब पीने से हड्डी के लिए आवश्यक हार्मोन का उत्पादन और कैल्शियम का अवशोषण प्रभावित होता है। कार्बोनेटेड पेय पदार्थों का अधिक सेवन करने से हड्डियों का घनत्व भी कम होता है।

पर्याप्त कैल्शियम न लेना

मजबूत और घनी हड्डियों के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी है। इसलिए कैल्शियम का पर्याप्त मात्रा में होना बहुत जरूरी है। आमतौर पर हम अपने द्वारा खाए जाने वाले खाद्य पदार्थों से कैल्शियम प्राप्त करते हैं। यदि यह अच्छी तरह से संतुलित नहीं है, तो यह पोषक तत्वों की कमी का कारण बन सकता है। इसलिए अपनी हड्डियों को मजबूत रखने के लिए संतुलित और स्वस्थ आहार लें।

यह भी पढ़ें : हौसले से हर दौड़ जीती जा सकती है, ये है कैंसर विजेता सुनीता मीणा की कहानी 

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें