रिवर्स प्लैंक करते समय कहीं आप भी तो नहीं कर रहीं ये 3 गलतियां, जानिए क्या है सही तरीका

रिवर्स प्लैंक फैट कम करने और कोर को मजबूत करने के लिए एक शानदार एक्सरसाइज है। मगर इस एक्सरसाइज को करते समय कुछ गलतियों से बचना चाहिए।
reverse plank mistakes
रिवर्स प्लैंक फैट कम करने और कोर को मजबूत करने के लिए एक शानदार एक्सरसाइज है। चित्र : शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 27 Sep 2021, 08:00 am IST
  • 112

एक व्यायाम जो फिटनेस के प्रति उत्साही लोगों के बीच पसंदीदा है, वह है रिवर्स प्लैंक। रेगुलर प्लैंक या रिवर्स प्लैंक (Reverse Plank) कोर को इंगेज करने, उसे टोन करने और मुद्रा और गतिशीलता में सुधार करने का एक शानदार तरीका है। हार्वर्ड हेल्थ पब्लिशिंग के अनुसार, महत्तवपूर्ण कोर मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए यह सबसे अच्छा व्यायाम है। मगर सिर्फ तभी जब आप इसे सही तरीके से करें !

हम में से कई लोगों को कोविड-19 के कारण फिटनेस रूटीन बनाए रखने में कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ा है। मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों के लिए शारीरिक फिटनेस महत्तवपूर्ण है। इस पर विचार करते हुए हमें घर पर ही व्यायाम करने के लिए मजबूर होना पड़ा है। जिम या सार्वजनिक पार्क का उपयोग करने पर प्रतिबंध के बाद भी व्यायाम जारी रखना ज़रूरी है। यह हमें मार्गदर्शन या उपकरणों की कमी के कारण चोट लगने के प्रति अतिसंवेदनशील बनाता है।

purvotanasan ke bhi kayi labh hote hai
पूर्वोतानासन के भी कई लाभ होते हैं। चित्र: शटरस्टॉक

जानिए क्या है रिवर्स प्लैंक करने का सही तरीका

1: अपने शरीर के सामने पैरों को फैलाकर फर्श पर बैठें। अपने हाथों को अपने कूल्हों के पीछे रखें। इन्हें कंधे की चौड़ाई में रखें और उंगलियों को अपने कूल्हों की ओर रखें।

2: धीरे से अपनी हथेलियों में दबाव बनाएं और अपने कूल्हों और धड़ को छत की ओर उठाएं, जब तक कि यह सिर से पैर तक एक सीधी रेखा न बना ले।

3: अपनी बाहों और पैरों को सीधा रखें और अपनी गर्दन को आराम से रखते हुए अपने पेट को कस लें।

4: 20-30 सेकंड के लिए इस मुद्रा में रहें, और फिर धीरे – धीरे शरीर को फर्श की ओर सस्पेंड करें।

तो, अब जब आप सही मुद्रा से अवगत हो गए हैं, तो सामान्य गलतियों से बचने के लिए, अपने पॉस्चर और तकनीक पर ध्यान केंद्रित करने का समय आ गया है।

reverse plank mistake
रिवर्स प्लैंक से आप वेट लॉस कर सकती हैं। चित्र-शटरस्टॉक.

रिवर्स प्लैंक करते समय इन गलतियों से बचें

1. फॉर्मेशन और तकनीक

यदि आप देखते हैं कि मुद्रा धारण करते समय आपके कुल्हे शिथिल हो रहे हैं, तो ये उर्जा के स्तर में गिरावट का संकेत है। तभी प्रारंभिक स्थिति में जाना सुनिश्चित करें और फिर से व्यायाम शुरु करें। यह बर्नआउट और किसी तरह की चोट से बचने के लिए महत्तवपूर्ण है। यह सही मांसपेशी समूहों को लक्षित करने में मदद करता है।

2. गर्दन और कंधे का दर्द

व्यायाम करते समय आपका सिर पीछे की ओर झुक सकता है। इस गलती से बचना जरूरी है, नहीं तो आपको गर्दन और कंधे में दर्द हो सकता है।

3. हाथों का डगमगाना

इस अभ्यास को करते समय अगर आपके हाथ डगमगा रहे हैं, तो यह गलत मुद्रा का संकेत है। इस अभ्यास के लिए कुछ हद तक हाथ की ताकत की आवश्यकता होती है। इसलिए, पहले सामान्य प्लैंक का अभ्यास करें, और फिर चोट से बचने के लिए इस मुद्रा का प्रयास करें।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

अगर सही तरह से किया जाए, तो यह व्यायाम आपके कोर को मजबूत करने में मदद कर सकता है। कोर मसल आपके ऊपरी और निचले शरीर के बीच की कड़ी हैं, जो आपके शारीरिक मूवमेंट को सुविधाजनक बनाती है। खेल खेलने से लेकर कुर्सी पर बैठने तक, कुशल गति और समग्र स्वास्थ्य के लिए एक स्थिर और मजबूत कोर की आवश्यकता होती है।

यह भी पढ़ें : 40 किलो वज़न घटा कर लिज़ेल डिसूजा बन गई हैं वेट लॉस आइकॉन, यहां है उनकी पूरी वेट लॉस यात्रा

  • 112
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख