टेस्टी और हेल्दी है गन्ने का रस, मगर क्या ये वज़न बढ़ने का कारण बन सकता है? चलिये पता करते हैं

Published on: 6 April 2022, 16:04 pm IST

त्वचा का रंग निखारने से लेकर हृदय स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने तक, गन्ने का रस स्वास्थ के लिए फायदेमंद है। मगर क्या यह वज़न बढ़ने का कारण बन सकता है? अधिक जानने के लिए पढ़ें।

kya ganne k aras wazan badh asakt ahai
गन्ने का रस वजन बढ़ा सकता है. चित्र : शटरस्टॉक

गर्मियों के मौसम में यदि ताजगी चाहिए तो गन्ने के रस (Sugarcane juice) से बेहतर और कुछ नहीं है। एक थकावट भरे दिन के बाद गन्ने का रस आपकी सारी थकान (Tiredness) मिटा सकता है। यह फ्रेशनेस से भरपूर है, इसकी तासीर भी ठंडी है। जो आपको गर्मियों से राहत दिलाने के लिए एकदम पर्फेक्ट है। मगर जब सेहत और वेट लॉस (Weight loss) की बात आती है, तो क्या ये इन मापदण्डों पर खरा उतर पाएगा? यह जानने के लिए इस लेख को ज़रूर पड़ें।

यदि आप वेट लॉस डाइट पर हैं, तो यह जानना जरूरी है कि गन्ने के रस में कितनी कैलोरीज (Calories) होती हैं? और क्या यह वज़न बढ़ने का कारण बन सकता है? इसमें चीनी की मात्रा कितनी होती है? और क्या इसका स्वास्थ्य पर कोई असर पड़ता है? चलिये पता करते हैं।

यहां जानिए गन्ने के रस का पोषण मूल्य?

240 मिली. गन्ने के रस में (बिना किसी एडिटिव्स के) 250 कैलोरी होती है, जिसमें 30 ग्राम नेचुरल शुगर (Natural Sugar) होती है। इसमें वसा, कोलेस्ट्रॉल, फाइबर और प्रोटीन की मात्रा शून्य होती है लेकिन इसमें सोडियम, पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम और आयरन होता है।

कैसे बनाया जाता है गन्ने का रस?

गन्ने का रस स्वाभाविक रूप से मीठा और कैलोरी में उच्च होता है। गन्ने के डंठल के रेशेदार भाग को कुचलकर गन्ने का रस निकाला जाता है। इसे बाद में फ़िल्टर किया जाता है या छाना जाता है। वैसे तो में कुछ भी अलग से मिलाने की ज़रूरत नहीं पड़ती है, मगर इसमें कभी – कभी स्वाद के लिए थोड़ा नींबू का रस और काला नमक भी मिलाया जा सकता है। गन्ने का रस दुनिया भर में पिया जाता है।

फायदेमंद है गन्ने का रस (Benefits of Sugarcane juice)

गन्ने के रस में प्रति सर्विंग 13 ग्राम आहार फाइबर होता है, जो फाइबर के दैनिक मूल्य का 52 प्रतिशत है। यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल सेंटर के अनुसार, अधिकांश अमेरिकी प्रति दिन केवल 10 से 15 ग्राम फाइबर खाते हैं, जबकि अनुशंसित सेवन प्रति दिन 20 से 35 ग्राम के बीच होता है।

weight loss ke liye local food
वेट लॉस करने के लिए अपनाएं गन्ने का रस? चित्र : शटरस्टॉक

इसके मूत्रवर्धक गुण शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालते हैं और किडनी के स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं।

यह पूरी तरह से चीनी से बना होता है, इसमें अपरिष्कृत चीनी होती है यानी गन्ना चीनी की मात्रा का केवल 10-15% होता है और शेष पानी, फाइबर, एंजाइम, विटामिन और खनिज होता है। मगर इसे सीमित मात्रा में ही पिया जाना चाहिए।

हाई शुगर है गन्ने का रस

गन्ने के रस में फैट नहीं होता है, लेकिन इसमें 30 ग्राम शुगर होती है, यह सब गन्ने की ही होती है। हालांकि, गन्ने के रस में प्राकृतिक चीनी होती है, क्योंकि इसका फाइबर हट जाता है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन अनुशंसा करता है कि आप चीनी का सेवन प्रति दिन 6 से 9 बड़े चम्मच तक सीमित करें क्योंकि उच्च चीनी की खपत से आपके मोटापे और वजन बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है।

यदि आप वेट लॉस डाइट (Weight Loss Diet) पर हैं, तो इसे पोषण विशेषज्ञ की सलाह के बाद ही पिएं।

क्या है गन्ने का रस पीने का सबसे अच्छा समय

गन्ने के रस का सेवन दिन में किसी भी समय, किसी भी महीने किया जा सकता है, लेकिन इस स्वादिष्ट ड्रिंक को पीने का सबसे अच्छा समय दोपहर से पहले का है। आयुर्वेद के अनुसार, किसी भी पेय को पीते समय पाचन क्रिया को बढ़ावा देने के लिए बैठ जाएं ताकि शरीर इसे कुशलता से अवशोषित कर सके। खड़े होने की स्थिति अपच और गैस का कारण बनती है।

यह भी पढ़ें  : मुनक्का या किशमिश : दोनों में से क्या है ज्यादा हेल्दी, एक्सपर्ट से जानिए

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें