फॉलो

वर्कआउट से पहले एनर्जी ड्रिंक की एडिक्‍शन तो नहीं हो गई? आपको उठाने पड़ सकते हैं गंभीर नुकसान

Published on:23 July 2020, 09:30am IST
प्री वर्कआउट डाइट जरूरी है, यह आपको बेहतर वर्कआउट के लिए एनर्जी देती है पर इसमें एनर्जी ड्रिंक को हर रोज शामिल करना आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।
विदुषी शुक्‍ला
  • 85 Likes
एनर्जी ड्रिंक पीना आदत ना बनाएं, यह खतरनाक हो सकता है। चित्र- शटर स्टॉक।

एनर्जी ड्रिंक (Energy Drinks) नाम से ही समझ आ जाता है कि इन्हें एनर्जी पाने के लिए पिया जाता है। मार्केट में ऐसी कई ब्रांड्स मौजूद हैं जो इस तरह की ड्रिंक्स बनाती हैं। लेकिन अगर आप एनर्जी ड्रिंक्स को सोडा या कोल्डड्रिंक के अल्टरनेटिव के रूप में देखते हैं तो आप अपने स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

हेल्दी नहीं है एनर्जी ड्रिंक

हमारे शरीर को ऊर्जा मिलती है कार्बोहाइड्रेट से जिसका सबसे महत्वपूर्ण स्रोत है शक्कर। एनर्जी ड्रिंक्स में भी इसी स्रोत का प्रयोग होता है। एनर्जी ड्रिंक कैफीन और शुगर से लैस होती है।
अगर आप रोज़ वर्कऑउट से पहले एनर्जी ड्रिंक पीती हैं तो आप अपने शरीर का नुकसान ही कर रही हैं। एक 500ml कैन में 275 कैलोरी होती हैं।

एनर्जी ड्रिंक का एडिक्शन

अगर आप बिना एनर्जी ड्रिंक के एक्सरसाइज नहीं कर पातीं, तो आप एनर्जी ड्रिंक की लत में हैं। एनर्जी ड्रिंक पीने से दिमाग डोपामाइन नामक हार्मोन निकालता है जो आपका मूड अच्छा करता है। धीरे-धीरे डोपामाइन निकलना कम हो जाता है, और आप ज्यादा एनर्जी ड्रिंक पीने लगते हैं। यह सायकल इसी तरह चलता रहता है और आप पूरी तरह से इसकी आदी हो जाती हैं। हालांकि यह ड्रग्स के एडिक्शन जितना बुरा नहीं है, पर यह आपके शरीर को काफी नुकसान पंहुचाता है।

स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है एनर्जी ड्रिंक की लत।चित्र- शटर स्टॉक।

एनर्जी ड्रिंक के साइड इफेक्ट्स

1. एनर्जी ड्रिंक एसिडिक होती हैं। हर दिन एक से दो कैन पीने से आपका पाचनतंत्र बिगड़ सकता है। एसिडिटी की समस्या के साथ ही यह पेट के गुड बैक्टीरिया को भी खत्म कर सकता है।
2. एसिडिक होना सिर्फ पेट के लिए ही खतरनाक नहीं है। एसिड दांतो के इनेमल को गला देता है और दांत पीले पड़ने लगते हैं।
3. बहुत अधिक शुगर वज़न बढ़ने का कारण बन जाती है।

एनर्जी ड्रिंक आपका वज़न बढ़ा रही है, एनर्जी लेवल नहीं। चित्र- शटर स्टॉक।

4. एनर्जी ड्रिंक में मौजूद शुगर कई गंभीर बीमारियां भी पैदा कर सकती है। इसके अत्यधिक सेवन से टाइप-2 डायबिटीज हो सकती है।
5. किडनी डिसऑर्डर में भी एनर्जी ड्रिंक ज़िम्मेदार है।
6. अगर आप शुगर फ्री ड्रिंक चुनते हैं, तो भी उसमें मौजूद आर्टिफिशियल स्वीटनर्स भी स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होते हैं।
इसके साथ ही हर दिन एनर्जी ड्रिंक पीना आपकी जेब के लिए भी खतरनाक है।

कैसे छोड़ें एनर्जी ड्रिंक की लत

आप एकदम से एनर्जी ड्रिंक पीना बन्द नहीं कर सकती। क्योंकि कोई भी लत छोड़ने पर शरीर रिएक्ट करता है।
इसकी जगह आप प्री-वर्कआउट ड्रिंक के रूप में बनाना शेक, पीनट बटर शेक या प्रोटीन शेक ले सकती हैं।
थकान, मूड सविंग्स और सर दर्द जैसे सिम्पटम्स से बचने के लिए अपना सेवन धीरे-धीरे कम करें। महीने में एक या दो बार एनर्जी ड्रिंक पीना कोई समस्या नही है, बस इसे आदत न बनाएं। एनर्जी ड्रिंक की जगह आप ग्रीन टी, हर्बल टी या स्पार्कलिंग वॉटर ले सकते हैं।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।