40 की उम्र के बाद 10 मिनट की एक्स्ट्रा एक्सरसाइज कम कर सकती है कैंसर सहित कई गंभीर बीमारियों का जोखिम

अगर आपकी उम्र तीसरे दशक को लांघते हुए चौथे में प्रवेश कर रही है तो अब आपको अपनी सेहत पर और ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।
Summers mei exercise ke dauran rakhein in baaton ka khayal
शरीर में जमा कैलोरीज़ को बर्न करने और मसल्स को बिल्ड करने के लिए हाई इंटैसिअी एक्सरसाइज़ की मदद ली जाती है। चित्र : शटरस्टॉक
  • 123

सेहतमंद बने रहने के लिए कसरत और स्वस्थ खानपान बहुत अहम है। पर क्या आप जानती हैं कि सिर्फ 10 मिनट की फिजिकल एक्टिविटी आपको कई नॉनकम्युनिकेबल डिजीज से छुटकारा दिला सकती है। जी हां एक नई रिसर्च में यह दावा किया गया है कि मात्र 10 मिनट की फिजिकल एक्टिविटी आपको ज्यादा जीवन जीने में सहायता कर सकती है। खासकर यदि आप की उम्र 40 से अधिक है। 

40 की उम्र के बाद दिल से जुड़ी कई बीमारियां और डायबिटीज जैसे रोगों का जोखिम बढ़ने लगता है। ऐसे में यह रिसर्च कई लोगों के लिए सेहत का खजाना साबित हो सकती है। 

क्या है यह रिसर्च ?

जामा इंटरनेशनल मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित इस नई रिसर्च में लंबी उम्र के लिए जिम्मेदार कारकों का विश्लेषण किया गया है। इसी क्रम में बात का भी विश्लेषण किया गया कि अगर एक्सरसाइज का समय 10 मिनट से बढ़कर 20 से 30 मिनट हो जाता है, तो यह सेहत के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। 

regular exercise ke fayade
आपकी उम्र बढ़ा सकती है रेगुलर एक्सरसाइज। चित्र : शटरस्टॉक

शोध दल ने National Health and Nutrition Examination Survey (NHANES) से 4,840 व्यक्तियों के स्वास्थ्य डेटा एकत्र किए। इनमें से सभी 2003 और 2006 के बीच सर्वेक्षण में शामिल हुए थे और 40 से 85 वर्ष की आयु के बीच थे।

सर्वेक्षण में उत्तरदाताओं के गतिविधि ट्रैकर्स ने गतिविधि के स्तर को मापने के लिए उन्हें समूहबद्ध किया कि वे कितने मिनट चले या औसत दिनों में मध्यम गतिविधि का प्रदर्शन किया। अंत में, उन्होंने विभिन्न गतिविधि स्तरों से जुड़ी मृत्यु दर जोखिम को निर्धारित करने के लिए राष्ट्रीय मृत्यु रजिस्ट्री के खिलाफ प्रतिभागियों के नामों की जांच की।

क्या रहा शोध का नतीजा 

शोध के नतीजे हैरान कर देने वाले थे। अध्ययन में पता चला कि ज्यादार मौतें संक्रामक बीमारियों की बजाए उन बीमारियों से हो रहीं थीं, जो नॉनकम्यूनिकेबल हैं। और जिनक सीधा संबंध उदासीन जीवनशैली से हैं। अपनी दिनचर्या में शारीरिक श्रम एवं गतिविधियां शामिल करके मृत्य के जोखिम को कम किया जा सकता था।  

जबकि शारीरिक एक्टिविटी हर साल मौतों के आंकड़ों में 16.9 प्रतिशत की कमी ला सकती है। आंकड़ों के अनुसार हर साल लगभग 110000 मौतों को रोका जा सकता है। अगर 40 से 85 साल के लोग अपनी शारीरिक गतिविधि को थोड़ी मात्रा में बढ़ा दें। सिर्फ 10 मिनट की रोजाना फिजिकल एक्टिविटी सेहत के कई लाभ प्रदान कर सकती है। 

नॉन कम्युनिकेबल डिसीज से बचा सकती है फिजिकल एक्टिविटी 

exercise hai zaroori
शारीरिक गतिविधि को अपने दैनिक जीवन का हिस्सा बनाएं। चित्र : शटरस्टॉक

विश्व स्वास्थ संगठन (WHO) के अनुसार नियमित फिजिकल एक्टिविटी, दिल की बीमारी, स्ट्रोक, डायबिटीज और कई कैंसर जैसे गैर संचारी रोगों को रोकने में मददगार साबित हो सकती है। यह हाई ब्लड प्रेशर को रोकने में भी मददगार है, और मानसिक स्वास्थ्य जीवन की गुणवत्ता और कल्याण में भी सुधार करने में फिजिकल एक्टिविटी सक्षम है।

यह भी पढ़े : एक्सरसाइज के लिए समय निकालना मुश्किल हो रहा है? तो यह 15 मिनट का फुल बॉडी वर्कआउट करें ट्राई

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
  • 123
लेखक के बारे में

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख