वेट लॉस के लिए रात का खाना छोड़ रही हैं! तो इन 7 जोखिमों के लिए तैयार रहें

Updated on: 2 August 2022, 19:54 pm IST

अगर आपको लगता है कि खाना छोड़ना फायदेमंद है, तो जान लीजिए कि ऐसा करना खतरनाक हो सकता है। 

skipping meal ke nuksan
अपना दोपहर का भोजन कभी न छोड़ें! चित्र : शटरस्टॉक

लोगों के बीच यह काफी आम धारणा है कि भोजन छोड़ने से वजन कम हो जाएगा। हालांकि सच्चाई इसके ठीक उलट है। भोजन छोड़ना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है और आपका वजन भी बढ़ा सकता है क्योंकि यह आपके शरीर को पोषक तत्वों से वंचित करता है। इसके अतिरिक्त, न केवल नाश्ता और दोपहर का भोजन छोड़ना हानिकारक है, बल्कि डिनर स्किप करने के भी कई साइड इफेक्ट (skipping dinner side effects) हैं।

तो डियर लेडीज़, ज़रूरी है कि आप वजन कम करने की कोशिश करते समय सतर्क रहें। आप जो कुछ भी सुनती या पढ़ती हैं उस पर आंख बंद करके विश्वास न करें। रात का खाना आपके दैनिक आहार का एक अनिवार्य हिस्सा है, क्योंकि यह सुनिश्चित करता है कि शरीर को आवश्यक पोषक तत्व और कैलोरी मिलें। साथ ही, कभी-कभी भोजन न करना आपको नुकसान नहीं पहुंचाएगा, लेकिन ऐसा बार-बार करना जोखिम भरा है। इसलिए रात का खाना पूरी तरह से स्किप करने के बजाय हल्का खाएं।

क्या कहती हैं रिसर्च 

जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म ऑफ द एंडोक्राइन सोसाइटी में प्रकाशित एक अध्ययन में यह भी कहा गया है कि “भारी नाश्ता और हल्का रात का खाना” आपको फिट और सेहतमंद रहने में मदद कर सकता है। यह मोटापे और हाई ब्लड शुगर को होने से भी रोक सकता है।

पर डिनर पूरी तरह छोड़ देना नहीं है हेल्दी आइडिया 

बीते कुछ सालों में वजन घटाने के लिए भोजन छोड़ने का चलन काफी बढ़ गया है। अगर आप एक स्वस्थ शरीर चाहती हैं, तो आपको इस दृष्टिकोण पर सवाल उठाना चाहिए।

हेल्थ शॉट्स ने डॉ दिव्या गोपाल, कंसल्टेंट – डाइटिशियन/न्यूट्रिशनिस्ट, मदरहुड हॉस्पिटल, बनशंकरी, बेंगलुरु से संपर्क किया। ताकि यह पता लगाया जा सके कि जब हम रात का खाना छोड़ते हैं, तो शरीर पर इसका क्या प्रभाव होता है।

yoga-for-digestion
मील स्किप करना पड़ सकता है आपको भारी, चित्र:शटरस्टॉक

डॉ गोपाल कहती हैं, “आपने वह कहावत तो सुनी ही होगी, ‘नाश्ता राजा की तरह और रात का खाना भिखारी की तरह किया जाना चाहिए’, लेकिन जरूरी न्यूट्रीएंट से भरपूर उचित आहार लेना कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण है। आपको पारंपरिक वजन घटाने के इस तरीके पर पुनर्विचार करने की आवश्यकता है, जो आपको सिर्फ कैलोरी का ध्यान रखने के लिए कहती है, जिसे लोग अक्सर कैलोरी स्किप करने के रूप में गलत समझते हैं। भोजन छोड़ना, विशेष रूप से रात का खाना, आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक हो सकता है।”

डॉ गोपाल के अनुसार, रात का खाना स्किप करने से हो सकते हैं ये 7 दुष्प्रभाव:

1. ऊर्जा का स्तर नीचे जाएगा

यह होना सबसे स्वाभाविक प्रभाव है। कम कैलोरी का मतलब है कि शरीर रूपी मशीन को चालू रखने के लिए इसमें कम ईंधन है। पर्याप्त कैलोरी की कमी आपको थका देगी।

2. आपके शरीर की अंतर्निहित भूख संकेतों को प्रभावित कर सकता है

लेप्टिन हॉर्मोन का स्राव आपके शरीर को पेट भरने पर खाना बंद करने के लिए कहती है, जबकि घ्रेलिन हार्मोन आपको भूख लगने पर बताता है। यदि आप भूख के संकेतों को नजरअंदाज करने लगती हैं, तो ये हार्मोन ठीक से काम नहीं करेंगे।

3. चीनी और कार्ब्स की क्रेविंग

जब आप अपनी भूख मारते हैं तो एक समय के बाद आपकी भूख किसी तीव्र इच्छा की तरह उठती है। इसका कारण है भूख के संकेतों को अनदेखा करना और लो ब्लड शुगर होना। जब बॉडी में चीनी की मात्रा कम होगी, तो आप अधिक चीनी और कार्ब्स के लिए ललचाने लगेंगी। क्योंकि ये दोनों ऊर्जा के त्वरित विस्फोट के लिए जाने जाते हैं। इनका इस्तेमाल आपका वजन घटाने के बदले बढ़ाएगा। वह भी तब जब आप शरीर को इनकी न्यूनतम मात्रा के लिए ट्रेंड कर रही हैं।

jaldi wazan ghtaane ke nuksaan
खाना छोड़ना बन सकता है थकान की वजह, चित्र: शटरस्टॉक

4. अनियमित पाचन

रात का खाना छोड़ने से मतली, दस्त, या यहां तक ​​कि कब्ज भी हो सकती है। आप भोजन छोड़ने और फिर दोगुना खाकर वजन बढ़ाने के दुष्चक्र में पड़ सकती हैं।

5.  विकारों का जोखिम बढ़ जाता है

जो लोग भोजन नहीं करते हैं, वे खाने के विकारों के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। वे एनोरेक्सिया, बुलिमिया, या यहां तक ​​​​कि ऑर्थोरेक्सिया जैसे विकार होने का खतरा बढ़ाते हैं।

6. आपके नींद चक्र पर प्रभाव (sleeping cycle disorder)

रात का खाना छोड़ना आपके नींद चक्र (sleeping cycle) को इस हद तक प्रभावित कर सकता है कि आप नींद से ही वंचित हो जाएं। नींद की कमी आपकी प्रतिरक्षा (immunity), मनोदशा, ऊर्जा और चयापचय पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकती है।

7. आप चिंता का अनुभव कर सकती हैं

जो लोग अक्सर रात के खाने को छोड़ने का प्रयास करते हैं, उनमें देर रात खाने की आदत विकसित हो सकती है, ऐसे में सबसे अधिक संभावना जंक फूड खाए जाने को लेकर हो सकती है। इसके अलावा, जंक फूड खाने से शरीर में कोर्टिसोल (स्ट्रेस हार्मोन) का स्तर बढ़ता है, जिससे मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं का खतरा भी बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें:इस नाग पंचमी ट्राई करें मूंग दाल के मंगोड़े की ट्रेडिशनल रेसिपी हेल्दी अवतार में

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें