योग में साइज मैटर नहीं करता, ओवरसाइज हैं तो इन 4 योगासनों से करें फिटनेस की शुरूआत

योग करने के लिए आपको स्लिम ट्रिम होने की ज़रूरत नहीं है। मोटी और ओवरसाइज होने के बावजूद आप ये 4 योगासन कर सकती हैं।
अगर आप भारी शरीर की हैं, तो आपके लिए ये चार योगासन बेहतर रहेंगे। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 10 Dec 2020, 13:54 pm IST
  • 89

लोगों में यह भ्रम होता है कि मोटापे के कारण वे योगासन करने में असमर्थ हैं। हालांकि कई ऐसे आसन ज़रूर हैं जिन्हें करने के लिए शरीर का लचीला होना ज़रूरी है, मगर आप इन आसान योगासनों से अपनी फिटनेस की शुरुआत कर सकती हैं।

इतना ही नहीं, यदि आपका शरीर भारी है तो योग आपके लिए सबसे अच्छा उपाय हो सकता है। यह वजन को नियंत्रित करते हुए सभी मांसपेशियों को टोन करता है। फिटनेस के लिए योग सबसे अच्छा विकल्प है।

अगर आप ओवर साइज हैं तो इन चार आसनों से करें अपनी फ़िटनेस की शुरुआत-

1. मारजर्यासन और बितिलासन

इसे कैट/काऊ पोज़ भी कहते हैं। यह आसन रीढ़ की हड्डी के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह पीठ की मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है। रोज़ाना इस आसन को करने के यह लाभ होते हैं-

यह आसन पीठ और लोअर बैक पर काम करता है। चित्र : shilpashetty

• शरीर को लचीला बनाता है
• माहवारी के दौरान दर्द से राहत देता है
• रीढ़ को मजबूत रखता है
• पेट, पीठ और कमर की मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है
• कमर दर्द से छुटकारा मिलता है

2. त्रिकोणासन

त्रिकोणासन या ट्रायंगल पोज़ शरीर के चौदह मुख्य जोड़ों को टारगेट करता है। शरीर को लचक देने के साथ इस आसन के कई और बेनिफिट्स हैं।

त्रिकोणासन । चित्र : सर्व योगा/ श्रद्धा अय्यर

• रक्तचाप को दुरुस्त रखता है
• कमर, पीठ, बाहों और पैरों की मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है
• ब्लड प्रेशर कम करता है
• शरीर को लचीला बनाता है
• अपच की समस्या को दूर करता है
• स्ट्रेस और एंग्जायटी से राहत देता है
• गुर्दों को ठीक रखता है
• दिमाग शांत और तेज़ करता है
• पेट की चर्बी घटाने में कारगर है

3.उष्ट्रासन

इसे कैमल पोज़ भी कहा जाता है। हिप्स मसल्स की टोनिंग के लिए यह आसन बहुत असरकारी होता है।

उष्‍ट्रासन। चित्र : सर्व योगा/ श्रद्धा अय्यर

• जांघों की चर्बी कम करता है
• हिप मसल्स को स्ट्रेच करता है
• पाचन क्रिया को सुचारु रखता है
• कंधो और पीठ की मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है
• श्वास संबंधी समस्या को कम करता है
• कमर दर्द से छुटकारा दिलाता है
• शरीर के चक्रों को संतुलित रखता है
• रीढ़ की हड्डी को फ्लेक्सिबल बनाता है

4. अर्द्ध चंद्रासन

अर्ध चंद्रासन यानी हाफ मून पोज़। शरीर की स्ट्रेचिंग के लिए यह आसन बहुत खास है।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
यह आसन आपके भारी शरीर को भी लचीला बना सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

• लोअर बॉडी की सभी मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है
• पेट, जांघ, हिप्स, टखने और रीढ़ की हड्डी के लिए फायदेमंद है
• संतुलन बनाए रखता है
• कंधो और पीठ की मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है
• मस्तिष्क और शरीर का कॉर्डिनेशन बढ़ाता है
• तनाव दूर करता है
• शरीर को लचीला बनाता है
• पाचनतंत्र सुचारु रखता है

इन चार आसनों को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएंगी तो परिणाम देखकर आप ख़ुद हैरान हो जाएंगी। हर दिन योग को अपनी आदत बनाएं। योग आपके शरीर को फिट और फ्लेक्सिबल बनाता है। ज़रूरत है तो सिर्फ एक दृढ़ शुरुआत की।

  • 89
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख